Monday, July 4, 2022
Homeदेश-समाज'गैंग्स ऑफ वासेपुर' से राँची में हिंसा फैलाने वाला नवाब चिश्ती गिरफ्तार: दंगा भड़काने...

‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ से राँची में हिंसा फैलाने वाला नवाब चिश्ती गिरफ्तार: दंगा भड़काने में 2 बार पहले भी जा चुका है जेल, अब तक 29 पकड़ाए

राँची हिंसा के दौरान मारे गए मुदस्सिर की अम्मी ने पुलिस को धमकी देते हुए कहा था, “ईंट से ईंट बजा देंगे। हम उन्हें शांति से नहीं रहने देंगे। मेरे बाबू को कैसे मारा? वो सिर्फ इस्लाम जिंदाबाद बोला था। क्या सरकार ने उन्हें (पुलिसवालों) को आदेश दिया था कि जो इस्लाम जिंदाबाद बोले उसे गोली मार देना?”

झारखंड की राजधानी राँची (Ranchi) में 10 जून को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा में अब तक 29 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं, गैंग्स ऑफ वासेपुर व्हाट्सएप ग्रुप में भड़काऊ मैसेज को वायरल करने के आरोपित नवाब चिश्ती को पुलिस ने मंगलवार (14 जून 2022) को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) द्वारा इस्लाम के पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ की गई कथित विवादित टिप्पणी के मामले में 10 जून को प्रदर्शन का मैसेज इसी व्हाट्सएप ग्रुप से वायरल किया गया था। आरोपित नवाब ने ग्रुप में लोगों से प्रदर्शन में शामिल होने की अपील की थी।

जाँच में यह भी सामने आया है कि नवाब ही इस ग्रुप का एडमिन है। यूनुस चौक डोरंडा का नवाब सोशल मीडिया पर तरह-तरह के मैसेज भेजकर धार्मिक उन्माद और दंगे भड़काता रहा है। राँची हिंसा में भी इसकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। नवाब दंगा भड़काने के आरोप में दो बार जेल भी जा चुका है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मामले में पुलिस ने 43 अन्य लोगों को हिरासत में भी लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने बताया कि हिंसा के बाद सीसीटीवी फुटेज और फोटो की जाँच के आधार पर आरोपितों की गिरफ्तारी हुई है। पुलिस के मुताबिक, कई और आरोपितों की पहचान की गई है और उन्हें भी जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।

गौरतलब है कि वासेपुर झारखंड का ही एक स्थान है, जो राँची के बगल के धनबाद जिले में स्थित है। इस स्थान के नाम पर जून 2012 में बॉलीवुड में फिल्म भी बन चुकी है, जिसमें इस जगह को अपराधियों का गढ़ बताया गया है।

वहीं, राँची हिंसा के दौरान मारे गए मुदस्सिर की अम्मी ने पुलिस को धमकी देते हुए एक इंटरव्यू में कहा था, “गुंडई अब नहीं चलने वाली। वो वर्दी में गुंडा बनेंगे? क्या सोच कर रखा है कि FIR नहीं लिखेगा? ईंट से ईंट बजा देंगे। उन्हें FIR हर हाल में लिखनी होगी, वरना हम उन्हें शांति से नहीं रहने देंगे। मेरे बाबू को कैसे मारा? वो सिर्फ इस्लाम जिंदाबाद बोला था। क्या सरकार ने उन्हें (पुलिसवालों) को आदेश दिया था कि जो इस्लाम जिंदाबाद बोले उसे गोली मार देना ? मेरा बेटा अभी 10 वीं का एग्जाम दिया था और कम्प्यूटर भी पढ़ रहा था।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

AG के पास पहुँचा TMC वाला साकेत गोखले, हमारे खिलाफ चलाना चाहता है अदालत की अवमानना का मामला: हम अपने शब्दों पर अब भी...

ऑपइंडिया की एडिटर नुपूर शर्मा के लेख की शिकायत लेकर टीएमसी नेता साकेत गोखले अटॉर्नी जनरल के पास गए हैं ताकि अदालत की अवमानना का केस चलवा सकें।

‘शौच करने गई थी, मोहम्मद जाकिर हुसैन सर पीछे-पीछे आ गए’: मिडिल स्कूल में शिक्षक ने नाबालिग छात्रा से की छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

बिहार के सुपौल में शिक्षक जाकिर हुसैन ने 7वीं कक्षा की लड़की के साथ छेड़छाड़ किया। परिजनों ने थाने में दर्ज कराया मामला। आरोपित गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,064FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe