Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाज'VHP नेता की हत्या में SHO आलम शामिल': परिजनों ने राँची में SP से...

‘VHP नेता की हत्या में SHO आलम शामिल’: परिजनों ने राँची में SP से की शिकायत, कहा- हथियार तस्करों द्वारा श्मशान भूमि कब्जाने का मुकेश ने किया था विरोध

मृतक के भाई सागर ने ऑपइंडिया को ने बताया, "विधायक और हिन्दू संगठनों द्वारा हमारे परिवार के लिए रखी गई माँगों में से अभी कोई भी माँग पूरी नहीं हुई है। स्थानीय पुलिस की जाँच निष्पक्ष होगी, ये भी नहीं लगता हमें। हमारे घर सिर्फ भाजपा के विधायक और हिन्दू संगठन के नेता ही आए हैं। सत्ता पक्ष के किसी ने हमें फोन भी नहीं किया।"

झारखंड की राजधानी राँची में विश्व हिन्दू परिषद (VHP) के नेता मुकेश सोनी की हत्या के मामले में मृतक के परिजनों ने खलारी थाने के SHO फरीद आलम को भी मुख्य साजिशकर्ता बताते हुए पुलिस अधीक्षक को शिकायत दी है। शिकायत पत्र में यूनुस अंसारी और प्रिंस खान नाम के दो अन्य लोगों को भी आरोपित बनाया गया है। घटना की वजह लगभग सवा साल पहले श्मशान की भूमि पर किए गए अवैध कब्ज़े का मुकेश द्वारा विरोध करना बताया जा रहा है। इस प्रार्थना पत्र को पुलिस अधीक्षक देहात नौशाद आलम ने 16 दिसम्बर (गुरुवार) को रिसीव किया है।

शिकायती प्रार्थना पत्र में मुकेश के पिता ने लिखा है, “मुझे शक है कि मेरे बेटे की हत्या थाना प्रभारी खेलारी फरीद आलम के इशारे पर हुई है। लगभग सवा साल पहले 4 सितम्बर 2020 को खलारी के ही रहने वाले यूनुस अंसारी और प्रिंस खान द्वारा महावीर नगर के श्मशान घाट पर अवैध रूप से कब्ज़ा करके घर बनवाया जा रहा था। यह घर आरोपितों के अवैध कार्यों को अंजाम देने में काम आता। इसका विरोध मेरे बेटे मुकेश ने किया था। तब यूनुस और प्रिंस खान ने मुकेश को अंजाम भुगतने की चेतावनी भी दी थी।”

शिकायत पत्र

प्रार्थना पत्र में आगे लिखा गया है, “मेरे बेटे को लगातार धमकियाँ दी जा रही थीं। ये सब कुछ थाना प्रभारी फरीद आलम की जानकारी में था। आरोपित प्रिंस खान और यूनुस अंसारी अवैध हथियारों का कारोबार भी करते हैं। उनके इस काम को भी थाना प्रभारी फरीद आलम का संरक्षण प्राप्त है।” प्रार्थना पत्र में दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की माँग की गई है। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस अधीक्षक देहात नौशाद आलम द्वारा थाना प्रभारी फ़रीद आलम पर कार्रवाई का केवल मौखिक आश्वासन दिया गया है।

मुकेश सोनी की शव यात्रा

उधर मुकेश सोनी का अंतिम संस्कार शुक्रवार (17 दिसंबर) को दिया गया। अंतिम संस्कार में भारी भीड़ जमा हुई थी। शव यात्रा सुबह 11 बजे उनके घर से उसी महावीर नगर के श्मशान घाट के लिए निकली, जिस पर अवैध कब्ज़े का उन्होंने विरोध किया था। इस अवसर पर हिन्दू संगठनों के तमाम पदाधिकारी मौजूद थे।

ऑपइंडिया ने इस संबंध में मृतक मुकेश के भाई सागर सोनी से बात की। सागर ने बताया, “ऐसी जानकारी मिली है कि खलारी थाना प्रभारी फरीद आलम पर करवाई की प्रक्रिया चल रही है। विधायक और हिन्दू संगठनों द्वारा हमारे परिवार के लिए रखी गई माँगों में से अभी कोई भी माँग पूरी नहीं हुई है। स्थानीय पुलिस की जाँच निष्पक्ष होगी, ये नहीं लगता हमें। हमारे घर सिर्फ भाजपा के विधायक और हिन्दू संगठन के नेता ही आए हैं। सत्ता पक्ष का कोई भी नेता या मंत्री हमसे मिलने नहीं आया। उनमें से किसी का फोन भी अभी तक नहीं आया है।”

SHO फरीद आलम

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -