केरल के मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी नेता के बेटे पर रेप का आरोप, दुबई में बार डांसर थी महिला

"बिनॉय और मैं 2008 से रिश्ते में हैं। तब मैं दुबई में एक डांस बार में काम करती थी। बिनॉय ने मुझसे शादी करने का वादा किया था, लेकिन बार-बार मनाने के बावजूद उसने धोखा दिया।"

केरल में सत्तारूढ़ मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा/CPM) के लिए नई मुसीबत खड़ी हो गई है। मुंबई पुलिस ने राज्य सचिव कोदियेरी बालाकृष्णन के बड़े बेटे बिनॉय कोदियेरी के खिलाफ मुंबई की एक महिला ने बलात्कार और धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। महिला ने यह भी दावा किया है कि उन्हें बिनॉय कोदियेरी से 8 साल की एक बेटी भी है। बिनॉय और उनका भाई बिनीश पिछले साल दुबई में वित्तीय धोखाधड़ी के मामले दर्ज होने के बाद सुर्खियों में रहे थे।

33 वर्षीय इस महिला ने अपनी शिकायत में माकपा की केरल इकाई के सचिव कोदियेरी बालाकृष्णन के बेटे बिनोय विनोदिनी बालकृष्णन पर शादी का झाँसा देकर बलात्कार करने का आरोप लगाया है। हालाँकि, CPM नेता के बेटे ने इस आरोप को नकारते हुए इसे ब्लैकमेल का मामला करार दिया है। मूल रूप से बिहार की व मुंबई में रहने वाली पीड़िता की शिकायत के आधार पर बिनॉय के खिलाफ यौन उत्पीड़न, धोखाधड़ी और धमकाने के लिए प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है।

पुलिस ने दर्ज प्राथमिकी के आधार पर बताया कि शिकायतकर्ता ने कहा कि उनका एक बच्चा भी है। ओशिवारा पुलिस थाने के वरिष्ठ निरीक्षक शैलेश पासवान ने बताया कि शिकायत के आधार पर आरोपित के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 और 376 के तहत मामला दर्ज किया गया है। एक दूसरे पुलिस अधिकारी ने शिकायत के हवाले से बताया कि महिला आरोपित को दुबई में मिली थी, जहाँ वह एक बार डांसर थी।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

शिकायत के अनुसार, बिनॉय और वह 2008 से रिश्ते में हैं। तब वह दुबई में एक डांस बार में काम करती थी। उसने कहा कि बिनॉय ने उससे शादी करने का वादा किया था, लेकिन बार-बार मनाने के बावजूद उसे धोखा दिया। जब उसे पता चला कि बिनॉय पहले से ही शादीशुदा हैं, तो महिला ने पुलिस शिकायत दर्ज करने का फैसला किया। बिनॉय कोदियेरी ने हालाँकि यह स्वीकार किया है कि वह महिला को जानते हैं, लेकिन उन्होंने उसके साथ कोई भी गलत काम करने से इनकार किया है और कहा कि वह उन्हें ब्लैकमेल कर रही है।

बिनॉय ने इस मामले पर कहा, “6 महीने पहले मुझे उसकी ओर से एक पत्र मिला जिसमें उसने मुझसे 5 करोड़ रुपए माँगे। मैंने यह पत्र लिया और कन्नूर में पुलिस के आईजी के समक्ष शिकायत दर्ज कराई। यह ब्लैकमेलिंग है और मैं इस मामले से कानूनी रूप से निपटूँगा। जहाँ तक मेरे उसकी बेटी का पिता होने के आरोप का सवाल है, आज ऐसे तरीके हैं जिनके माध्यम से कोई वैज्ञानिक रूप से माता-पिता की जाँच कर सकता है और मैं इसके लिए तैयार हूँ।”

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई (बार एन्ड बेच से साभार)
"पारदर्शिता से न्यायिक स्वतंत्रता कमज़ोर नहीं होती। न्यायिक स्वतंत्रता जवाबदेही के साथ ही चलती है। यह जनहित में है कि बातें बाहर आएँ।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,393फैंसलाइक करें
22,298फॉलोवर्सफॉलो करें
117,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: