Monday, April 22, 2024
Homeदेश-समाजराम मंदिर के लिए चंदा लेने निकले थे RSS कार्यकर्ता, मकसूद के परिजनों ने...

राम मंदिर के लिए चंदा लेने निकले थे RSS कार्यकर्ता, मकसूद के परिजनों ने चलवाई गोलियाँ

कोटा जिला संघ चालक दीपक शाह ने अस्पताल में बताया कि उन्हें निधि संग्रह करने से रोकने के लिए कहा जा रहा था, जब उन्होंने बात नहीं मानी, तब ये हमला हुआ।

राजस्थान के कोटा जिले में राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा लेने निकले राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) के जिला संघ चालक दीपक शाह पर मंगलवार को (फरवरी 9, 2021) गोलियाँ दागी गईं। हमले में गोली उनकी जाँघ पर लगी। उन्हें इलाज के लिए पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया गया। बाद में वहाँ से वह MBS अस्पताल में भर्ती हुए।

पुलिस का कहना है कि दीपक शाह रामगंज मंडी के निवासी हैं। मंगलवार शाम 6 से 7 बजे के बीच वे राम मंदिर निर्माण के लिए निधि संग्रह करने निकले थे। उनके साथ जिला प्रचारक हेमंत और विभाग प्रचारक मनोज प्रताप भी थे। कुछ देर बाद जब विभाग प्रचारक मनोज प्रताप वहाँ से चले गए, तो दीपक शाह और उनके सहयोगी ने निधि संग्रह जारी रखा। मगर, थोड़ी देर में तीन बदमाश बाइक पर सवार होकर आए और दीपक शाह पर फायरिंग कर दी। मौके पर मौजूद लोगों ने उन्हें अस्पताल पहुँचाया।

घटना के बाद विधायक चंद्रकांता मेघवाल और पूर्व विधायक प्रह्लाद गुंजल घायल दीपक शाह से मिलने एमबीएस अस्पताल पहुँचे। दूसरी ओर रामगंजमंडी कस्बे में बड़ी संख्या में व्यापारी और RSS कार्यकर्ता थाने के बाहर एकत्रित हुए। भीड़ ने थाने में धरना-प्रदर्शन करते हुए घेराव किया। क्षेत्र में रात से हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। इलाके में पुलिस बल को तैनात किया गया है।

बता दें कि दीपक शाह, आरएसएस जिला संघ चालक होने के साथ-साथ स्टोन व्यापारी भी है। इस कारण व्यापारियों में भी भारी आक्रोश है। सभी ने मिल कर आरोपितों के ख़िलाफ़ कठोर कार्रवाई की माँग की है।

मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों का हवाला देकर कहा जा रहा है कि रामगंजमंडी क्षेत्र के हिस्ट्रीशीटर से दीपक शाह का कुछ दिन पहले किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। थाने में मामला भी दर्ज हुआ था। ऐसे में मंगलवार को दीपक शाह पर हुए जानलेवा हमले को उक्त घटना से जोड़ कर देखा जा रहा है।

कुछ रिपोर्ट्स में आरोपित का नाम आशु पाया सामने आया है। कहा जा रहा है कि आशु ने ही अपने दो साथियों के साथ मिल घटना को अंजाम दिया, फिर फरार हो गया। पुलिस ने सूचना पाते ही इलाके में नाकाबंदी करवाई। वहीं दीपक शाह ने भी अपने बयान में मकसूद के बच्चों को आरोपित बताया।

दीपक शाह ने भी अपने बयान में कहा कि मकसूद पाया के बेटे बाबू पाया सहित अन्य लोगों ने उन पर हमला किया है। दीपक शाह ने अस्पताल में कहा कि उन्हें निधि संग्रह करने से रोकने के लिए कहा जा रहा था, जब बात नहीं मानी गई, तब ये हमला हुआ।

बता दें कि इस केस में भाजपा देहात जिलाध्यक्ष मुकुट नगर भी रामगंजमंडी पहुँचे। उन्होंने पुलिस को चेतावनी दी कि बुधवार सुबह 7 बजे तक वारदात में शामिल सभी बदमाशों को पकड़ लिया जाए अन्यथा भाजपा देहात सुबह रामगंजमंडी कस्बे को बंद करवाएगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

चंदन कुमार
चंदन कुमारhttps://hindi.opindia.com/
परफेक्शन को कैसे इम्प्रूव करें :)

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिमों के लिए आरक्षण माँग रही हैं माधवी लता’: News24 ने चलाई खबर, BJP प्रत्याशी ने खोली पोल तो डिलीट कर माँगी माफ़ी

"अरब, सैयद और शिया मुस्लिमों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलता है। हम तो सभी मुस्लिमों के लिए रिजर्वेशन माँग रहे हैं।" - माधवी लता का बयान फर्जी, News24 ने डिलीट की फेक खबर।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe