Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजशिवलिंग को मांस-हड्डी से जोड़ा था सपा के MLC लाल बिहारी यादव ने... यूपी...

शिवलिंग को मांस-हड्डी से जोड़ा था सपा के MLC लाल बिहारी यादव ने… यूपी पुलिस ने दर्ज की FIR

“भगवान शंकर आदमी थे या पत्थर? मस्जिद के अंदर मिला पत्थर भगवान शिव की मूर्ति के रूप में होती तो मैं भी मानता कि वह भगवान शिव की मूर्ति है, लेकिन ऐसा नहीं है... उनका लिंग जहाँ-जहाँ गिरा होगा, मांस-हड्डी का रहा होगा, गल गया होगा।”

पैगंबर मोहम्मद पर नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) की टिप्पणी को लेकर पूरे देश में बवाल जारी है। इसी बीच सपा के एमएलसी लाल बिहारी यादव (SP MLC Lal Bihari Yadav) के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। यह FIR कानपुर के रायपुरवा थाने में दर्ज कराई गई है।

बता दें कि कुछ दिनों पहले सपा एमएलसी द्वारा भगवान शिव पर अभद्र टिप्पणी करने का मामला सामने आया था। सपा एमएलसी पर एक इंटरव्यू में भगवान शिव पर अभद्र टिप्पणी (Controversial comment on Lord Shiva) करने का आरोप है। 

अब कानपुर पुलिस ने समाजवादी पार्टी के नेता के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने की रिपोर्ट दर्ज की है। सपा नेता के खिलाफ मुकदमा बीजेपी के सह मीडिया प्रभारी अंकित बाजपेई ने दर्ज कराया है।

पुलिस के मुताबिक सपा एमएलसी लाल बिहारी यादव के खिलाफ कानपुर के रायपुरवा थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। बीजेपी नेता ने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेता के बयान से करोड़ों हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँची है। उन्होंने कहा कि सपा नेता का बयान सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने वाला है।

गौरतलब है कि लाल बिहारी यादव ने पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के वारणसी में ज्ञानवापी विवादित ढाँचे के अंदर मिले शिवलिंग को लेकर विवादित बयान दिया था। जब विवादित ढाँचे के अंदर मिले शिवलिंग को लेकर उनकी प्रतिक्रिया पूछी गई थी, तो उन्होंने कहा था, “भगवान शंकर आदमी थे या पत्थर? मस्जिद के अंदर मिला पत्थर भगवान शिव की मूर्ति के रूप में होती तो मैं भी मानता कि वह भगवान शिव की मूर्ति है, लेकिन ऐसा नहीं है।” लाल बिहारी के इस बयान पर बीजेपी ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से उनको पार्टी से बाहर निकालने की माँग की थी।

बीजेपी नेता ने अखिलेश यादव पर भी हमला किया है। उन्होंने कहा कि सपा के MLC लाल बिहारी यादव की ‘भगवान शिव’ पर चौंकाने वाली घृणित टिप्पणी को लेकर अखिलेश क्या कहेंगे। उन्होंने अखिलेश से सवाल किया कि क्या वो ऐसे गंदे व्यक्ति को पार्टी से निकालेंगे? बता दें कि लाल बिहारी यादव समाजवादी पार्टी में जौनपुर के जिलाध्यक्ष भी हैं। उन्हें अखिलेश यादव का काफी करीबी माना जाता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -