Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजसंभल की नाबालिग 'प्रीति' ने तोड़ा दम, रेप के बाद ज़ीशान ने केरोसिन डाल...

संभल की नाबालिग ‘प्रीति’ ने तोड़ा दम, रेप के बाद ज़ीशान ने केरोसिन डाल लगा दी थी आग

एनएसए एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जीशान ने पुलिस को गिरफ्तार कर लिया था। आईजी ने खुद मौके पर पहुॅंचकर लोगों से घटना के बारे में जानकारी ली थी।

अभी हैदराबाद में प्रीति रेड्डी (बदला हुआ नाम) के बलात्कार और नृशंस हत्या की ख़बर पर लोगों का आक्रोश कम नहीं हुआ था कि उत्तर प्रदेश से एक और दर्दनाक घटना की सूचना मिली। संभल में नाबालिग लड़की का रेप करने के बाद उसे ज़िंदा जला दिया गया था। शनिवार (नवंबर 30, 2019) की सुबह अस्पताल में इलाज के दौरान पीड़िता की मौत हो गई। पीड़िता 9 दिन तक ज़िंदगी और मौत के बीच जूझती रही। उसे 22 नवंबर को दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों ने बताया कि उसके शरीर का 85% से भी अधिक हिस्सा जल चुका था। पीड़िता कई दिनों से वेंटिलेटर पर थी।

ये घटना नखासा थाना क्षेत्र के सिरसी इलाक़े की है। नाबालिग लड़की जब अपने घर में अकेली थी, तब पड़ोस के ही एक युवक ने उसका बलात्कार किया। उसे जबरन घर से खींच कर उसका रेप किया गया था। जब ये घटना हुई, तब किशोरी की माँ दवा लेने बाहर गई हुई थीं। पीड़िता ने इसकी जानकारी अपनी माँ को दी। मामला पुलिस तक पहुँचा तो उस युवक ने माँ-बेटी को धमकाया। इसके बाद उसने पीड़िता पर केरोसिन तेल डाल कर उसके शरीर में आग लगा दी। आनन-फानन में पीड़िता को दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल लाया गया, जहाँ 9 दिनों तक ज़िंदगी और मौत से जूझने के बाद पीड़िता की मृत्यु हो गई।

आरोपित जीशान को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया था। उसे कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेजा जा चुका है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस घटना का संज्ञान लिया था। उनके कार्यालय ने इस मामले में तत्काल प्रभाव से कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। आईजी ने घटनास्थल पर पहुँच कर पीड़ित परिजनों और आसपास के लोगों से मिल कर इस घटना के बारे में जानकारी ली। जीशान के ख़िलाफ़ एनएसए एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था। आईजी ने संभल सर्किट हाउस में पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर कार्रवाई की समीक्षा की थी।

https://platform.twitter.com/widgets.js

लोग पीड़िता की मौत के बाद एक बार फिर सोशल मीडिया पर आक्रोशित हो गए। बलात्कार की लगातार बढ़ती घटनाओं के कारण बॉलीवुड के कई सेलेब्रिटीज ने भी आक्रोश जताया है। लोग बलात्कारियों को बीच चौराहे पर फाँसी देने की माँग कर रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe