Friday, May 24, 2024
Homeदेश-समाज'छोटा हाथी' में था ₹7 करोड़, एक्सीडेंट से खुला राज… सड़कों पर बिखर गईं...

‘छोटा हाथी’ में था ₹7 करोड़, एक्सीडेंट से खुला राज… सड़कों पर बिखर गईं गड्डियाँ: आंध्र पुलिस ने किया जब्त, 13 मई को है मतदान

पुलिस के अनुसार, पूर्वी गोदावरी जिले के नल्लाजर्ला मंडल के अनंतपल्ली में एक छोटा हाथी में करोड़ों रुपए के नोट ले जाया जा रहा था। इन्हें गत्ते की सात पेटियों में रखकर बोरे में रखा गया था। गाड़ी विजयवाड़ा से विशाखापट्टनम की ओर जा रही थी। इसी दौरान गाड़ी पलट एक टक्कर में पलट गई और सारा भेद खुल गया। जब्त नकदी 7 करोड़ रुपए बताई जा रही है।

आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में शनिवार (11 मई 2024) को भारी मात्रा में नकदी बरामद हुआ है। ये नकदी ‘छोटा हाथी’ कहे जाने वाली एक गाड़ी में गत्ते की पेटियों में छिपाकर ले जाया जा रहा था। इसी दौरान एक लॉरी ने इस गाड़ी को टक्कर मार दी और यह गाड़ी पलट गई। गाड़ी पलटते ही सारा कैश सड़कों पर बिखर गया। इसके बाद पुलिस ने आकर इसे जब्त कर लिया।

पुलिस के अनुसार, पूर्वी गोदावरी जिले के नल्लाजर्ला मंडल के अनंतपल्ली में एक छोटा हाथी में करोड़ों रुपए के नोट ले जाया जा रहा था। इन्हें गत्ते की सात पेटियों में रखकर बोरे में रखा गया था। गाड़ी विजयवाड़ा से विशाखापट्टनम की ओर जा रही थी। इसी दौरान गाड़ी पलट एक टक्कर में पलट गई और सारा भेद खुल गया। जब्त नकदी 7 करोड़ रुपए बताई जा रही है।

इस दुर्घटना में छोटा हाथी के ड्राइवर को भी चोटें आई हैं और उसे गोपालपुरम के नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इससे पहले शुक्रवार (9 मई) को भी आंध्र प्रदेश के एनटीआर जिले में चेकिंग के दौरान पाइप से लदे एक ट्रक से पुलिस ने करीब 8 करोड़ रुपए जब्त किए थे। पुलिस ने ट्रक और पैसों को जब्त करने के साथ-साथ उसमें सवार दो लोगों को भी हिरासत में ले लिया है।

बताते चलें कि आंध्र प्रदेश की सभी 25 सीटों पर 13 मई को होने वाले चौथे चरण में मतदान होने हैं। इनमें अराकू, श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखापट्टनम, अनकापल्ली, काकिनाड़ा, अमलापुरम, राजमुंदरी, नरसापुरम, एलुरु, मछलीपट्टनम, विजयवाड़ा, गुंटूर, नरसारावपेट, बापटला, ओंगोल, नांदयाल, कर्नूलु, अनंतपुर, हिंदूपुर, कडपा, नेल्लोर, तिरुपति (आरक्षित), राजमपेट और चित्तूर की सीटें शामिल हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिरोइन लैला खान की हत्या मामले में सौतेले अब्बा को हुई ‘सजा-ए-मौत’: फार्म हाउस में गाड़ दी परिवार के 6 लोगों की लाश, 13...

बॉलीवुड अभिनेत्री लैला खान और उनके पूरे परिवार की हत्या मामले में अभिनेत्री के सौतेले पिता को कोर्ट ने सजा-ए-मौत सुनाई है।

UPA सरकार ने ब्रह्मोस मिसाइल के निर्यात को रोका, लीक हुई चिट्ठियों से खुलासा: मोदी सरकार ने की जो हजारों करोड़ की डील, वो...

UPA सरकार ने जानबूझकर ब्रह्मोस मिसाइल के निर्यात से जुड़ी फाइलों को अटकाया। इंडोनेशियाई टीम का दौरा रोक दिया गया। बातचीत तक रोक दी गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -