Thursday, June 30, 2022
Homeदेश-समाज2 साल से बीवी का भाइयों से हलाला करवा रहा था शाबाम, फँसाने के...

2 साल से बीवी का भाइयों से हलाला करवा रहा था शाबाम, फँसाने के लिए बन गया था ‘श्यामू’: मुस्लिम नहीं बनी तो 1 हफ्ते बाद ही तीन तलाक

बताया जा रहा है कि मालीपुर थाने के सैरपुर उमरन गाँव की युवती की सम्मनपुर के हरदिलपुर में रिश्तेदारी है। आजमगढ़ के पवई थाने के मिल्कीपुर का निवासी शाबाम श्यामू बनकर युवती के ममेरे भाई सुनील के साथ उसके घर पर आने-जाने लगा।

उत्तर प्रदेश के अंबेडकरनगर जिले से लव जिहाद (Love Jihad) का मामला सामने आया है। यहाँ शाबाम नाम के युवक ने श्यामू बनकर पहले हिंदू युवती को अपने प्रेम जाल में फँसाया और फिर मंदिर में लेकर जाकर उससे शादी कर ली। शादी के एक हफ्ते बाद ही उसने युवती पर निकाह कर अपना धर्म बदलने और नमाज पढ़ने का दबाव बनाया। युवती के ऐसा न करने पर युवक ने उसे तीन तलाक दे दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब शाबाम अपनी बीवी को भाइयों के साथ हलाला करने को मजबूर कर रहा है। उधर पीड़िता का परिवार न्याय पाने के लिए दर-दर भटक रहा है। पीड़िता ने आरोप लगाया है कि पुलिस से शिकायत करने के बाद भी अब तक शाबाम पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। एसपी को भी इसके बारे में बताया गया, लेकिन उनकी तरफ से भी कोई मदद नहीं मिली।

बताया जा रहा है कि मालीपुर थाने के सैरपुर उमरन गाँव की युवती की सम्मनपुर के हरदिलपुर में रिश्तेदारी है। आजमगढ़ के पवई थाने के मिल्कीपुर का निवासी शाबाम श्यामू बनकर युवती के ममेरे भाई सुनील के साथ उसके घर पर आने-जाने लगा। धीरे-धीरे उसने युवती को अपने प्रेम जाल में फँसा लिया और उसके पूरे परिवार को शादी के लिए राजी कर लिया।

पीड़िता के मुताबिक, लॉकडाउन की वजह उनकी शादी टल गई थी, ऐसे में उन्हें 10 जुलाई, 2020 को जलालपुर कस्बे के मठिया मंदिर में जाकर शादी करनी पड़ी। शादी के एक हफ्ते बाद ही शाबाम युवती पर निकाह करने, धर्मांतरण और नमाज पढ़ने का दबाव बनाने लगा।

घरवालों के साथ आसपास की मुस्लिम महिलाएँ भी उसे नमाज और कलमा पढ़ने के लिए दबाव बनाने लगीं। आपत्ति जताने पर उसके साथ मारपीट भी की गई। इन सबसे बावजूद भी जब युवती नहीं मानी तो शाबाम ने उसे तीन तलाक दे दिया, लेकिन घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं दी। उसने युवती का फोन भी छीन लिया गया। इस बीच शाबाम ने दोबारा निकाह करने की बात कहकर उसे अपने भाई मेंहदी हसन और शरीफ से हलाला करने पर मजबूर किया।

किसी तरह युवती उस शख्स के घर से भागने में कामयाब रही और अपने पिता के पास पहुँची। उसने उन्हें अपनी आप बीती सुनाई। इसके बाद पीड़ित परिवार मालीपुर थाने में शाबाम की शिकायत, लेकिन उनका आरोप है कि पुलिस ने कार्रवाई करने के बजाय उन्हें ही डांटकर भगा दिया।

वहीं, विश्व हिंदू परिषद को जब इस मामले की जानकारी हुई तो, उन्होंने पूरे प्रकरण को मुख्यमंत्री तक पहुँचाने की चेतावनी दी। विहिप के अवध प्रांत के प्रमुख अरविंद पांडेय ने बताया कि किछौछा एवं भियांव कस्बे में हिंदू धर्म के नट समुदाय के लोगों का धर्म परिवर्तन कराने का खेल जारी है। ऐसे गंभीर मामले में पुलिस का ढुलमुल रवैया बर्दाश्त के बाहर है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

उत्तराखंड में चलती कार में महिला और उसकी 5 साल की बच्ची से गैंगरेप, BKU (टिकैत गुट) के सुबोध काकरान और विक्की तोमर सहित...

उत्तराखंड के रुड़की में महिला और उसकी पाँच साल की बच्ची से गैंगरेप के आरोप में टिकैत गुट के नेता समेत पाँच गिरफ्तार कर लिए गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,188FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe