Friday, March 1, 2024
Homeदेश-समाजशाहीन बाग में सिर्फ 19 महिला प्रदर्शनकारी: हकीकत सामने आई तो महिला पत्रकारों से...

शाहीन बाग में सिर्फ 19 महिला प्रदर्शनकारी: हकीकत सामने आई तो महिला पत्रकारों से बदसलूकी, सब कुछ कैमरे में कैद

प्रदर्शकारियों ने पत्रकार का माइक पकड़ा, कैमरे के सामने हाथ लगाया और फिर इसके बाद भी कवरेज को बंद न करने पर कैमरे को तोड़ने की कोशिश की। प्रदर्शनकारियों ने महिला पत्रकार से अभद्रता तक की और गो बैक-गो बैक के साथ-साथ गोदी मीडिया के नारे लगाने लगे।

कुछ समय पहले पूरे देश में सीएए विरोध का केन्द्र बना दिल्ली का शाहीन बाग इन दिनों दम तोड़ता दिखाई दे रहा है। इसकी सच्चाई तब सामने आई कि जब शुक्रवार दोपहर को धरने पर पहुँची इंडिया टीवी ने वहाँ की लाइव तस्वीरों को सभी के साथ साझा किया। इस बात की जानकारी जैसे ही शाहीन बाग के आकाओं को लगी तो समझो आग लग गई। इसके बाद धरने पर मौजूद प्रदर्शनकारियों ने न सिर्फ महिला पत्रकारों से धक्का-मुक्की की बल्कि उनके कैमरे को भी तोड़ने की कोशिश की गई।

दिल्ली स्थित शाहीन बाग में 83वें दिन महिलाओं का सीएए के खिलाफ धरना-प्रदर्शन जारी रहा, लेकिन इस धरने का वह असली रूप अब ग़ायब सा हो गया है, जो कि पिछले महीने तक दिल्ली राजनीति का ही नहीं बल्कि पूरे देश की राजनीति का केन्द्र बना हुआ था। यहाँ की लाइव तस्वीरों को दिखाने के लिए शुक्रवार को जब शाहीन बाग में इंडिया टीवी की दो महिला पत्रकार मौके पर पहुँचीं तो वहाँ मौजूद प्रदर्शनकारियों में कैमरे को देख भगदड़ मच गई। और ज्यादा भीड़ को एकत्र करने के लिए इमरजेंसी हूटर बजा दिया गया। इसके बाद तो किसी ने महिला पत्रकार के माइक को थामा तो किसी ने कैमरे के सामने हाथ लगा दिया। और तो और, लाइव कवरेज को रोकने के लिए प्रदर्शनकारियों ने महिला पत्रकार के कैमरे तक को तोड़ने की कोशिश कर डाली।

शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे का समय था। न्यूज चैनल इंडिया टीवी की पत्रकार मीनाक्षी जोशी अपनी टीम के साथ लाइव कवरेज के लिए शाहीन बाग धरने पर पहुँचती हैं। यहाँ मीनाक्षी जोशी ने देखा कि धरने पर कुछ चुनिंदा महिला प्रदर्शनकारी ही बैठी हुई हैं। जब महिला पत्रकार ने लाइव कैमरे पर ही प्रदर्शकारियों की गिनती की तो वह 19 हुई। इस गिनती को सुन धरने पर मौजूद महिलाएँ भड़क उठीं और इसके बाद उन्होंने इमरजेंसी सायरन को बजा दिया। इसके बाद एक के बाद एक वहाँ सैकड़ों लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। धरने पर जो भी पहुँचा, उसने सबसे पहले चैनल पर धरने की झूठी खबरें चलाने का आरोप लगाते हुए लाइव कवरेज को बंद करने की कोशिश की।

बाद में भीड़ की शक्ल में पहुँचे प्रदर्शनकारियों ने उस महिला प्रदर्शनकारी को बात करने से मना कर दिया, जिससे महिला पत्रकार सवाल कर रही थीं। इसके बाद प्रदर्शकारियों ने पत्रकार का माइक पकड़ा, कैमरे के सामने हाथ लगाया और फिर इसके बाद भी कवरेज को बंद न करने पर कैमरे को तोड़ने की कोशिश की। इतना ही नहीं, इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने महिला पत्रकार से अभद्रता तक की और गो बैक-गो बैक के साथ-साथ गोदी मीडिया के नारे लगाने लगे। चौंकाने वाली बात यह है कि कोई भी कैमरे के सामने आने के लिए तैयार नहीं था और जो आ भी रहा था तो वह पहले अपने चेहरे को ढकता था या फिर मुँह पर उँगली लगाकर कुछ न बोलने का पत्रकार के सामने इशारा करता था।

खैर, अब शाहीन बाग पर बैठी 19 प्रदर्शनकारी महिला की तस्वीरें और लाइव कवरेज के दौरान महिला पत्रकारों से की गई अभद्रता का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इसमें आप साफ तौर पर देख सकते हैं कि किस तरह से शाहीन बाग का धरना दम तोड़ता दिखाई दे रहा है और जब इसी हकीकत को कैमरे में कैद किया गया तो किस तरह महिला पत्रकारों से बदतमीजी की गई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsदिल्ली हिंदू विरोधी दंगा, नालों से मिले शव, दिल्ली नाला शव, दिल्ली मदरसा गुलेल, मदरसा गुलेल विडियो, शिव विहार, मुस्तफाबाद, अमर विहार, दिल्ली दंगे चश्मदीद, दिल्ली हिंसा चश्मदीद, दिल्ली हिंसा महिला, दिल्ली दंगों में कितने मरे, दिल्ली में कितने हिंदू मरे, मोहम्मद शाहरुख, जाफराबाद शाहरुख, शाहरुख फरार, ताहिर हुसैन आप, ताहिर हुसैन एफआईआर, ताहिर हुसैन अमानतुल्लाह, चांदबाग शिव मंदिर पर हमला, दिल्ली दंगा मंदिरों पर हमला, दिल्ली मंदिरों पर हमले, मंदिरों पर हमले, चांदबाग पुलिया, अरोड़ा फर्नीचर, ताहिर हुसैन के घर का तहखाना, अंकित शर्मा केजरीवाल, अंकित शर्मा ताहिर हुसैन, अंकित शर्मा का परिवार, दिल्ली शाहदरा, शाहदरा दिलबर सिंह, उत्तराखंड दिलवर सिंह, दिल्ली हिंसा में दिलवर सिंह की हत्या, रवीश कुमार मोहम्मद शाहरुख, रवीश कुमार अनुराग मिश्रा, रतनलाल, साइलेंट मार्च, यूथ अगेंस्ट जिहादी हिंसा, दिल्ली हिंसा एनडीटीवी, एनडीटीवी श्रीनिवासन जैन, एनडीटीवी रवीश कुमार, रवीश कुमार दिल्ली हिंसा, दिल्ली हिंसा में कितने मरे, दिल्ली दंगों में मरे, दिल्ली कितने हिंदू मरे, दिल्ली दंगों में आप की भूमिका, आप पार्षद ताहिर हुसैन, आप नेता ताहिर हुसैन, ताहिर हुसैन वीडियो, कपिल मिश्रा ताहिर हुसैन, आईबी कॉन्स्टेबल की हत्या, अंकित शर्मा की हत्या, चांदबाग अंकित शर्मा की हत्या, दिल्ली हिंसा विवेक, विवेक ड्रिल मशीन से छेद, विवेक जीटीबी अस्पताल, विवेक एक्सरे, दिल्ली हिंदू युवक की हत्या, दिल्ली विनोद की हत्या, दिल्ली ब्रहम्पुरी विनोद की हत्या, दिल्ली हिंसा अमित शाह, दिल्ली हिंसा केजरीवाल, दिल्ली पुलिस, दिल्ली पुलिस रतनलाल, हेड कांस्टेबल रतनलाल, रतनलाल का परिवार, छत्तीसिंह पुरा नरसंहार, दिल्ली हिंसा, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली हिंसा, करावल नगर, जाफराबाद, मौजपुर, गोकलपुरी, शाहरुख, कांस्टेबल रतनलाल की मौत, दिल्ली में पथराव, दिल्ली में आगजनी, दिल्ली में फायरिंग, भजनपुरा, दिल्ली सीएए हिंसा
ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

2 से ज्यादा बच्चे होने पर नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी… SC ने माना नियम बिलकुल सही: खारिज की राजस्थान के पूर्व सैनिक की याचिका

किसी व्यक्ति को दो से ज्यादा बच्चे होने के कारण सरकारी नौकरी न देना कहीं से संविधान के खिलाफ नहीं है। ऐसा सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान के एक मामले की सुनवाई में कहा।

‘मैंने लोगों को बुलाकर ED अधिकारियों पर हमले का आदेश दिया’: शाहजहाँ शेख ने कबूला जुर्म, महिलाओं को धमकाने वाला उसका करीबी अमीर अली...

TMC से निलंबित शाहजहाँ शेख ने पुलिस के सामने स्वीकार किया कि उसने भीड़ को ईडी अधिकारियों और सुरक्षबलों पर हमले के लिए भीड़ को उकसाया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe