Wednesday, July 28, 2021
Homeदेश-समाज14 साल की लड़की से शादीशुदा शाहरुख ने किया रेप, जेल गया... बेल पर...

14 साल की लड़की से शादीशुदा शाहरुख ने किया रेप, जेल गया… बेल पर आया तो फिर से उसी के साथ किया बलात्कार

शादीशुदा और दो बच्चों के बाप शाहरुख़ खान ने 14 साल की लड़की को किडनैप कर रेप किया। जेल भी गया। लेकिन जैसे ही जमानत पर बाहर आया, उसने दोबारा उसी नाबालिग पीड़िता के साथ...

मध्य प्रदेश के सीहोर से रेप का एक मामला सामने आया है, जहाँ पुलिस की लापरवाही के कारण भाजपा नेताओं को न्याय के लिए हस्तक्षेप करना पड़ा। आरोपित शाहरुख़ खान ने एक नाबालिग लड़की का अपहरण कर के रेप किया। पीड़िता की उम्र मात्र 14 साल है। पुलिस ने रेप का मामला दर्ज किया। आरोपित जेल भी गया। लेकिन वो जैसे ही जमानत से बाहर आया, उसे दोबारा से फिर उसी दरिंदगी को अंजाम दिया।

आरोप है कि बेल पर छूटे शाहरुख़ खान ने दोबारा पीड़िता का अपहरण कर के उसे फिर से अपनी हवस का शिकार बनाया। आरोपित की उम्र 22 वर्ष है। उसने अक्टूबर 11, 2020 को 14 वर्षीय नाबालिग का अपहरण कर के उसके साथ रेप किया था। आरोप है कि पुलिस ने मामला दर्ज कर के शाहरुख़ खान को गिरफ्तार तो किया, लेकिन उसके खिलाफ ‘यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम, 2012 (POCSO) के तहत केस नहीं दर्ज किया।

‘जनसत्ता’ की खबर के अनुसार, इस वजह से अदालत से वो जमानत पाने में कामयाब रहा। इसके बाद 2020 में साल के अंतिम दिन उसने फिर से पीड़िता का अपहरण किया और उसके साथ वही हरकत की, जिस कारण वो जेल जा चुका था। उसने नाबालिग को धमकाया भी कि अगर उसने किसी को कुछ बताने की कोशिश की तो उसे और उसके परिवार को बुरा अंजाम भुगतना पड़ेगा। इसके बाद पीड़िता ने अपनी माँ को सारी बातें कह सुनाई।

इसके बाद पीड़िता ने इसकी शिकायत बाल कल्याण समिति में की। चाइल्ड हेल्पलाइन और बाल कल्याण समिति के दबाव के बाद पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया। आरोपित फ़िलहाल फरार चल रहा है। बाल कल्याण समिति ने सीहोर के पुलिस अधीक्षक को पत्र लिख कर जवाब माँगा है कि आखिर नाबालिग पीड़िता के साथ रेप की घटना होने के बावजूद आरोपित के खिलाफ पाॅक्साे एक्ट के तहत मामला क्यों दर्ज नहीं किया गया था?

पीड़िता और उसके परिजनों को भी बाल कल्याण समिति ने राजधानी भोपाल में एक सुरक्षित जगह पर रखा गया है। ‘द क्राइम इन्फो’ की खबर के अनुसार, पीड़िता और उसके परिवार की भाजपा नेताओं ने मदद की, जिसके बाद पुलिस हरकत में आई। पीड़िता सीहोर में चाय की दुकान चलाती है। आरोपित शादीशुदा है और उसके दो बच्चे भी हैं। एसएसपी समीर यादव ने कहा कि मामला दर्ज किया गया है और कार्रवाई जारी है।

दिसंबर 2020 में ही मध्य प्रदेश के ही उज्जैन से ‘लव जिहाद’ और रेप की घटना सामने आई थी। एक युवक ने नाम बदल कर तलाकशुदा महिला को फाँसा और 2 वर्षों तक उसका यौन शोषण किया। उसने छद्म हिन्दू नाम के साथ दोस्ती की और फिर उसके साथ संबंध बनाए। युवक का असली नाम वसीम अकरम था, लेकिन उसने विकास नाम के साथ महिला को धोखा दिया। उसके ड्राइविंग लाइसेंस से उसका असली राज खुला।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पूरे देश में खेला होबे’: सभी विपक्षियों से मिलकर ममता बनर्जी का ऐलान, 2024 को बताया- ‘मोदी बनाम पूरे देश का चुनाव’

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने विपक्ष एकजुटता पर बात करते हुए कहा, "हम 'सच्चे दिन' देखना चाहते हैं, 'अच्छे दिन' काफी देख लिए।"

कराहते केरल में बकरीद के बाद विकराल कोरोना लेकिन लिबरलों की लिस्ट में न ईद हुई सुपर स्प्रेडर, न फेल हुआ P विजयन मॉडल!

काँवड़ यात्रा के लिए जल लेने वालों की गिरफ्तारी न्यायालय के आदेश के प्रति उत्तराखंड सरकार के जिम्मेदारी पूर्ण आचरण को दर्शाती है। प्रश्न यह है कि हम ऐसे जिम्मेदारी पूर्ण आचरण की अपेक्षा केरल सरकार से किस सदी में कर सकते हैं?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,696FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe