Friday, December 9, 2022
Homeदेश-समाजतलाकशुदा महिला 3 बार 'लव जिहाद' का शिकार: जुबैर, साजिद और वसीम अकरम...

तलाकशुदा महिला 3 बार ‘लव जिहाद’ का शिकार: जुबैर, साजिद और वसीम अकरम ने ‘हिन्दू’ बन किया रेप

युवक का असली नाम वसीम अकरम था, लेकिन उसने विकास नाम के साथ महिला को धोखा दिया, साथ में मंदिर तक भी जाता था। उसके ड्राइविंग लाइसेंस से उसका असली राज खुला।

मध्य प्रदेश के उज्जैन से ‘ग्रूमिंग जिहाद (लव जिहाद)’ का नया मामला सामने आया है। एक युवक ने नाम बदल कर तलाकशुदा महिला को फाँसा और 2 वर्षों तक उसका यौन शोषण किया। उसने छद्म हिन्दू नाम के साथ दोस्ती की और फिर उसके साथ संबंध बनाए। युवक का असली नाम वसीम अकरम था, लेकिन उसने विकास नाम के साथ महिला को धोखा दिया। उसके ड्राइविंग लाइसेंस से उसका असली राज खुला।

महिला ने जब कागजात में उसका नाम वसीम देखा तो उसका माथा ठनका और उसने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। उसने खुद को नागदा का रहने वाला विकास बताया था। वो महिला को लेकर मंदिर भी जाता था, लेकिन बाहर ही खड़ा रहता था। पूछने पर बताता था कि वो नास्तिक है। उसका पर्स खँगालने पर पीड़िता को उसका ड्राइविंग लाइसेंस मिल और राज खुल गया। महिला ने बताया कि उसके घर के सामने जया नाम की महिला रहती थी, जिसने उसे वसीम से मिलवाया था।

‘आज तक’ की खबर के अनुसार, उसने खुद को राजपूत जाति का बता रखा था। उज्जैन के एएसपी अमरेन्द्र सिंह ने बताया कि महिला थाने के अंतर्गत एक पीड़िता ने अपनी शिकायत दर्ज कराई है और उसने यह आरोप लगाया है कि एक युवक ने नाम बदलकर उसके साथ दोस्ती की और उसके बाद उसके साथ गलत काम किया। उन्होंने बताया कि दोनों लगभग 2 साल संपर्क में थे। पीड़िता की शिकायत के आधार पर महिला थाने के अंतर्गत FIR दर्ज की गई है।

पुलिस अभी भी आरोपित की तलाश में लगी हुई है। ‘दैनिक भास्कर’ से बातचीत करते हुए पीड़िता ने बताया कि उसे इससे पहले भी 2 बार ‘लव जिहाद’ वाला धोखा मिल चुका है। 2016 में OLX पर कार खरीदने के क्रम में वो कादरपुरा कमरी मार्ग निवासी जुबैर के संपर्क में आई। जुबैर के कहने पर उसने उसके कार बेचने के धंधे में पैसा भी लगाया। बाद में उसने भी शादी का झाँसा देकर रेप किया। शिकायत दर्ज होने पर उसकी गिरफ़्तारी हुई, लेकिन फिलहाल वो जमानत पर बाहर है।

इसके बाद बिलोटीपुरा में रहने वाले साजिद से उसकी मुलाकात हुई। महिला को मकान खरीदना था और साजिद इसी किस्म का बिजनेस करता था। आरोप है कि वो खुद को हिन्दू बताता था और पीड़ित के घर पर आता-जाता था। इसी क्रम में उसने ढाई लाख रुपए और पाँच लाख के गहने भी हड़प लिए। उसके खिलाफ भी रेप का केस दर्ज कराया गया, लेकिन वो भी फिलहाल फरार ही चल रहा है।

पीड़ित की शादी 2004 में हुई थी। तीन साल तक पति के साथ उसके संबंध अच्छे थे। दो बच्चे भी हुए। वो उज्जैन के मुनि नगर में एक किराए के मकान में रहती थी। उसने बताया कि वो खासी भोली है, इसीलिए लोग उसका फायदा उठा लेते हैं। जब पति के साथ संबंध बिगड़ने लगे तो वो किराए के मकान में रहने लगी। पुलिस ने बताया है कि आरोपित वसीम अकरम को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

बता दें कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कड़े शब्दों में कह चुके हैं, “मैं मध्य प्रदेश की धरती पर ‘लव जिहाद’ किसी भी कीमत पर नहीं चलने दूँगा। उसके लिए हम कानून बना रहे हैं। यह देश को तोड़ने का षड्यंत्र है, इसे किसी भी कीमत पर हम कामयाब नहीं होने देंगे।” उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने भी धर्म परिवर्तन से जुड़ा अध्यादेश पारित किया था, जिसके तहत कई जिलों में कार्रवाई भी हुई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘गैर-मुस्लिमों को शिक्षा दो, मजहबी शिक्षा नहीं’: NCPCR ने राज्यों को दिए मदरसों की विस्तृत जाँच और मैपिंग के आदेश, 30 दिन में देनी...

NCPCR ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को गैर-मुस्लिम बच्चों को दाखिला देने वाले मदरसों की विस्तृत जाँच करने के निर्देश दिए हैं।

1% से भी कम वोट से हिमाचल ने रिवाज कायम रखा, CM बनने को लड़ कॉन्ग्रेसी भी निभा रहे परंपरा: वीरभद्र सिंह का कुनबा...

हिमाचल विधानसभा चुनावों में जीत मिलने के बाद अब पार्टी में मुख्यमंत्री पद को लेकर खींचतान शुरू हो गई है। सीएम पद के लिए की चेहरे सामने हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
237,416FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe