Tuesday, February 7, 2023
Homeदेश-समाजसाहिल कुमार बन कर शौकत अली ने फँसाया, शादी भी कर ली... फिर कुल्हाड़ी...

साहिल कुमार बन कर शौकत अली ने फँसाया, शादी भी कर ली… फिर कुल्हाड़ी से हमला कर घर से भगाया

पीड़िता एक इवेंट मैनेजमेंट कम्पनी में काम करती थी। वो इस साल की शुरुआत में जयपुर गई थी, जहाँ उसकी मुलाकात शौकत अली से हुई। शौकत ने उस समय खुद को हिन्दू बताया था। उसने साहिल कुमार के छद्म नाम से महिला के साथ दोस्ती बढ़ाई और उसे अपने जाल में फँसाया। फिर शादी करके...

ग्वालियर की एक युवा महिला ने आरोप लगाया है कि जम्मू कश्मीर के एक व्यक्ति शौकत अली ने पहचान छिपा कर उससे शादी कर ली और फिर धोखा दिया। आरोप है कि उस व्यक्ति ने पहले तो महिला के साथ अपनी छद्म हिन्दू पहचान के साथ शादी की और बाद में उसे अपने घर से निकाल बाहर किया। ये मामला रविवार (अगस्त 16, 2020) को सामने आया, जब ग्वालियर की उस महिला का वीडियो वायरल हुआ।

उस वीडियो में अपने साथ हुए अत्याचार को बयान करते हुए महिला ने मदद की अपील की। ग्वालियर की पुलिस ने बताया है कि महिला का वीडियो जब वायरल हुआ, उससे 2 दिन पहले ही वो वहाँ स्थित अपने घर पहुँची थी। एक महिला सब-इंस्पेक्टर ने पीड़िता से संपर्क किया है। महिला ने फेसबुक पर पोस्ट किए गए वीडियो में बताया है कि वो जम्मू कश्मीर के पूँछ स्थित सुरनकोट में थी, जहाँ उसके पति और पति के परिवार वालों ने उसे घर से निकाल दिया।

पीड़िता ने कहा कि स्थानीय पुलिस से उसे कोई मदद नहीं मिली। साथ ही अपने पति और उसके परिवार पर उसकी हत्या का इरादा रखने का भी आरोप लगाया। उसने बताया कि वापस घर पहुँचने में पुलिस ने उसकी कोई मदद नहीं की। महिला ने बताया कि उसके पति का असली नाम शौकत अली है, जो पिछले 6 महीने से आर्थिक और शारीरिक रूप से उसका शोषण कर रहा था। साथ ही वो उसकी जम कर पिटाई भी करता था।

महिला ने बताया कि शौकत अली ने छद्म हिन्दू नाम के साथ उसे अपने प्रेम जाल में फँसाया और फिर उससे शादी कर ली। जब वो उसके घर पहुँची और अपने ससुराल वालों से मिली, तब उसे उसके मजहब का भान हुआ। इसके कुछ दिनों बाद शौकत अली और उसके परिवार वालों ने कुल्हाड़ी से उस पर हमला किया और पीट-पीट कर घर से बाहर निकाल दिया। वीडियो में महिला ने अपने शरीर पर घाव के निशान भी दिखाए।

ऊपर वाला ट्वीट तब का है, जब लोगों को लग रहा था कि महिला जम्मू कश्मीर में ही फँसी हुई है। जैसे ही ये वीडियो वायरल हुआ, हिन्दू संगठनों ने जम्मू कश्मीर के अधिकारियों से संपर्क कर महिला की व्यथा के बारे में बताया और ग्वालियर वापसी के बारे में बातें की। ग्वालियर पुलिस ने बताया कि इस मामले में शौकत अली और 4 अन्य आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका है। ग्वालियर के एसपी अमित संघी ने कहा कि अगर महिला अपनी शिकायत के साथ पुलिस के पास आती है तो आगे की कार्रवाई की जाएगी।

पीड़िता एक इवेंट मैनेजमेंट कम्पनी में काम करती है। वो इस साल की शुरुआत में जयपुर गई थी, जहाँ उसकी मुलाकात शौकत अली से हुई। शौकत ने उस समय खुद को हिन्दू बताया। उसने साहिल कुमार के छद्म नाम से महिला के साथ दोस्ती बढ़ाई और उसे अपने जाल में फँसाया। महिला ने आरोपित के दावों को सही समझ कर उसके साथ शादी कर ली। हिन्दू संगठनों ने महिला को पुलिस से संपर्क कराने से लेकर ग्वालियर उसके घर आकर भी उसकी मदद की।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आफताब ने श्रद्धा की हड्डियों को पीस कर बनाया पाउडर, जला डाला चेहरा, डस्टबिन में डाल दी थी आँतें, ₹2000 की ब्रीफकेस में पैक...

आफताब ने पुलिस को यह भी बताया है कि उसने जिस दिन श्रद्धा की हत्या की थी। उसी दिन श्रद्धा के अकांउट से अपने अकाउंट में 54000 रुपए भेजे थे।

‘मैं रामचरितमानस को नहीं मानती, तुलसीदास कोई संत नहीं’: सपा MLA को तुलसीदास के ग्रन्थ से दिक्कत, कहा – हिम्मत है तो मेरी ताड़ना...

सपा विधायक पल्लवी पटेल ने कहा है कि वह रामचरितमानस को नहीं मानती हैं और इसमें शूद्र शब्द हटाने के लिए आंदोलन करेंगी। उनके लिए तुलसीदास संत नहीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
244,281FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe