Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजचाय स्टॉल पर शिवसेना नेता राहुल शेट्टी की 3 गोली मारकर हत्या, 30 साल...

चाय स्टॉल पर शिवसेना नेता राहुल शेट्टी की 3 गोली मारकर हत्या, 30 साल पहले पिता के साथ भी यही हुआ था

शेट्टी पर हमला उस समय हुआ जब वह अपने घर के पास चाय के स्टाल पर चाय पी रहे थे। हमलावरों ने उनपर नजदीक आकर तीन गोली चलाई। 2 बार उनके सिर पर और एक बार छाती पर। इससे उनकी वही मौत हो गई।

पूर्व शिवसेना नेता उमेश शेट्टी के बेटे व लोनावला शहर में शिवसेना के पूर्व प्रमुख राहुल शेट्टी की कल (अक्टूबर 26, 2020) लोनावला में ही गोली मार कर हत्या कर दी गई। घटना सुबह 9:30 बजे की है। राहुल के ऊपर उनके आवास के बाहर हमला हुआ। उन्हें लगातार तीन बार गोली मारी गई।

इतना ही नहीं, हमलावरों ने उनके गर्दन पर चाकू से हमला भी किया। वारदात के बाद उन्हें फौरन परमार अस्पताल ले जाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें वहाँ मृत घोषित कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शेट्टी पर हमला उस समय हुआ जब वह अपने घर के पास चाय के स्टाल पर चाय पी रहे थे। हमलावरों ने उनपर नजदीक आकर तीन गोली चलाई। 2 बार उनके सिर पर और एक बार छाती पर। इससे उनकी वही मौत हो गई।

मामले की सूचना पाते ही घटनास्थल पर पुलिस भी पहुँची। उन्होंने आशंका जताई कि आपसी रंजिश अथवा राजनीतिक रंजिश के चलते घटना को अंजाम दिया गया होगा। अब आगे की जाँच जारी है।

बता दें कि वारदात से कुछ टाइम पहले राहुल शेट्टी ने लोनावला सिटी पुलिस स्टेशन में अपनी जान को खतरा होने की जानकारी पुलिस को दी थी। दरअसल, उन्हें कहीं से इस बात की सूचना मिली थी कि कुछ लोग उन्हें मारने का प्लान बना रहे हैं।

ज्ञात हो कि शेट्टी के पिता उमेश शेट्टी को भी इसी तरह 30-35 साल पहले गोली मारकर मौत के घाट उतारा गया था। अब पुलिस इस मामले की जाँच में सीसीटीवी फुटेज खँगाल रही है। एक संदिग्ध को हिरासत में भी लिया गया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है कि आखिर हत्या करने के पीछे क्या उद्देश्य था।

लोनावला स्थित जयचंद चौक पर दिनदहाड़े हुई इस वारदात के बाद इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई है। मौके पर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात है। घटना को लेकर अज्ञात लोगों पर केस दर्ज किया किया गया है।

राहुल शेट्टी के अलावा एक और हत्या का ममाला लोनावला के हनुमान हिल एरिया से सामने आया था। इस घटना से मात्र एक दिन पहले रविवार की रात करीब 10 बजे वहाँ गणेश नायडू नाम के शख्स की हत्या हुई थी। उस पर कुल्हाड़ी से वार किया गया था। पुलिस दोनों मामलों को देखते हुए इस बात की जाँच भी कर रही है कि दोनों का कहीं आपस में तो कोई संबंध नहीं है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वीर सावरकर के नाम पर फिर बिलबिलाए कॉन्ग्रेसी; कभी इसी कारण से पं हृदयनाथ को करवाया था AIR से बाहर

पंडित हृदयनाथ अपनी बहनों के संग, वीर सावरकर द्वारा लिखित कविता को संगीतबद्ध कर रहे थे, लेकिन कॉन्ग्रेस पार्टी को ये अच्छा नहीं लगा और उन्हें AIR से निकलवा दिया गया।

‘किताब खरीद घोटाला, 1 दिन में 36 संदिग्ध नियुक्तियाँ’: MGCUB कुलपति की रेस में नया नाम, शिक्षा मंत्रालय तक पहुँची शिकायत

MGCUB कुलपति की रेस में शामिल प्रोफेसर शील सिंधु पांडे विक्रम विश्वविद्यालय में कुलपति थे। वहाँ पर वो किताब खरीद घोटाले के आरोपित रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,635FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe