Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजसपा नेता उम्मेद पहलवान दिल्ली में गिरफ्तार, UP पुलिस ले जाएगी गाजियाबाद: अब्दुल की...

सपा नेता उम्मेद पहलवान दिल्ली में गिरफ्तार, UP पुलिस ले जाएगी गाजियाबाद: अब्दुल की पिटाई के बाद डाला था भड़काऊ वीडियो

गाजियाबाद SSP ने बताया कि गाजियाबाद पुलिस की एक टीम ने उम्मेद पहलवान को गिरफ्तार कर लिया है। ये गिरफ्तारी दिल्ली के लोक नारायण अस्पताल के पास हुई है। गिरफ्तारी के बाद उसे गाजियाबाद लाया जाएगा और...

गाजियाबाद के लोनी में मुस्लिम बुजुर्ग से मार पिटाई मामले के बाद सोशल मीडिया पर भड़काऊ वीडियो डालने वाला समाजवादी पार्टी का नेता उम्मेद पहलवान गिरफ्तार कर लिया गया है। यह जानकारी मीडिया को पुलिस ने दी।

गाजियाबाद एसएसपी ने मीडिया को बताया कि गाजियाबाद पुलिस की एक टीम ने उम्मेद पहलवान को गिरफ्तार कर लिया है। ये गिरफ्तारी दिल्ली के लोक नारायण अस्पताल के पास हुई है। गिरफ्तारी के बाद उसे गाजियाबाद लाया जाएगा और फिर आगे की पूछताछ होगी।

पुलिस ने अब तक बुजुर्ग की मारपीट मामले में 9 लोगों को गिरफ्तार किया है। इदरीस की गिरफ्तारी एक अलग मामला है। आगे जो तथ्य पूछताछ के बाद सामने आएँगे, उन्हें पुलिस मीडिया से साझा करेगी।

बता दें कि इससे पहले बुजुर्ग की मारपीट मामले को सोशल मीडिया पर ‘जय श्री राम’ का एंगल देकर प्रसारित करने के आरोप में उम्मेद के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज हुई थी। FIR के अनुसार, उसने ही सबसे पहले बुजुर्ग के साथ अनावश्यक वीडियो बनाया और इसे वायरल करने के लिए इसमें धार्मिक वैमनस्यता फैलाने वाली बातें कहीं। आरोप है कि घटना की सत्यता जाँचे बिना ही वीडियो में धार्मिक आधार पर बातें की गईं।

उस पर यह भी आरोप है कि इस वीडियो के कारण जनता की धार्मिक भावनाएँ आहत हुई हैं। साथ ही धार्मिक विभाजन के लिए इसे वायरल किया गया, जिसका फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स ने भी कोई फैक्ट-चेक नहीं किया।

उम्मेद पहलवान के खिलाफ IT एक्ट की धाराएँ भी लगाई गई थीं। जिसके बाद वो फरार हो गया और फेसबुक पर लिखा कि उसके खिलाफ ‘फर्जी मुकदमा’ दायर किया गया है, क्योंकि उसने 72 साल के बुजुर्ग की मदद की।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe