Friday, September 17, 2021
Homeदेश-समाजरसूलाबाद में लॉकडाउन का पालन कराने गई पुलिस टीम पर डंडे, ईंट-पत्थरों से हमला,...

रसूलाबाद में लॉकडाउन का पालन कराने गई पुलिस टीम पर डंडे, ईंट-पत्थरों से हमला, 2 महिला कांस्टेबल समेत 7 घायल

पुलिस पह हमले की यह पहली घटना नहीं है। पिछले दिनों कानपुर में कोरोना संक्रमण के हॉटस्पॉट चमनगंज में पुलिस और मेडिकल टीम पर स्थानीय लोगों ने हमला किया था। 50 से 60 की संख्या में लोगों ने टीम पर पथराव किया था।

कानपुर देहात के रसूलाबाद कोतवाली क्षेत्र में लॉकडाउन का पालन कराने गई पुलिस पर कुछ युवकों ने डंडे और ईंट-पत्थरों से हमला कर दिया। गिहार बस्ती (कंजर डेरा) में हुए इस हमले में दो महिला कांस्टेबल, 3 दरोगा समेत 7 लोग घायल हो गए

पुलिस टीम पर हमले की सूचना मिलते ही कई थानों की पुलिसफोर्स और आला अधिकारी मौके पर पहुँच गए। एडिशनल एसपी अनूप कुमार ने बताया कि जिन पुलिसकर्मियों को चोटें आई है, उनको प्राथमिक उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया है।

बता दें कि रविवार (मई 10, 2020) को पुलिस क्षेत्र में लॉकडाउन का पालन करवा रही थी। बस्ती के कुछ लोगों ने दुकान खोलकर भीड़ जमा कर रखी थी। जब पुलिस ने उनसे लॉकडाउन का पालन करने के लिए कहा तो वे उग्र हो गए। इसके बाद उनलोगों ने पुलिस की टीम पर हमला कर दिया।

एडिशनल एसपी अनूप कुमार का कहना है कि इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है और साथ ही मामले में आरोपितों को चिह्नित कर मुकदमा दर्ज कर लिया गया। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए तलाश जारी है। जल्द से जल्द आरोपित को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

गौरतब है कि पुलिस पह हमले की यह पहली घटना नहीं है। पिछले दिनों कानपुर में कोरोना संक्रमण के हॉटस्पॉट चमनगंज में पुलिस और मेडिकल टीम पर स्थानीय लोगों ने हमला किया था। 50 से 60 की संख्या में लोगों ने टीम पर पथराव किया था। इसी तरह पश्चिम बंगाल के हावड़ा में भी लॉकडाउन का पालन कराने गई पुलिस पर लोगों ने हमला बोल दिया था

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,922FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe