Sunday, October 17, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनलोगों के जबरदस्त विरोध के बाद वेब सीरीज 'तांडव' में बदलाव करेंगे प्रोड्यूसर-डायरेक्टर, अली...

लोगों के जबरदस्त विरोध के बाद वेब सीरीज ‘तांडव’ में बदलाव करेंगे प्रोड्यूसर-डायरेक्टर, अली अब्बास जफ़र ने फिर से माँगी माफी

‘‘तांडव की पूरी यूनिट ने वेब सीरीज को लेकर जताई गई चिंताओं पर ध्यान देने के लिए इसमें बदलाव करने का फैसला किया है।’’ अमेजन प्राइम की वेब सीरीज़ ‘तांडव' को लेकर उठे विवाद के बाद इसके निर्माता बैकफुट पर हैं।

एक्टर सैफ अली खान की वेब सीरीज तांडव को लेकर जमकर बवाल मचा हुआ है। सीरीज पर हिन्दू देवी-देवताओं के अपमान करने का आरोप लगा है। इस बीच सोमवार (जनवरी 18, 2021) को मेकर्स ने स्टेटमेंट जारी माफी माँगी थी। अब मेकर्स ने कहा है कि वह जल्द ही में सीरीज में बदलाव करने जा रहे हैं। इसकी जानकारी सीरीज के डायरेक्टर अली अब्बास जफर ने ट्वीट करके दी है। 

अली अब्बास जफर ने ट्वीट किया, ”हमारे मन में देश के लोगों की भावनाओं के प्रति बहुत सम्मान है। हमारा इरादा किसी व्यक्ति, जाति, समुदाय, नस्ल, धर्म, धार्मिक समुदाय, राजनीतिक दल, जीवित या मृत व्यक्ति की भावनाओं को चोट पहुँचाना नहीं था। तांडव के कास्ट और क्रू ने सीरीज के कंटेंट में बदलाव करने का फैसला लिया है। इस मामले में हम सूचना और प्रसारण मंत्रालय से मिले सपोर्ट के लिए उन्हें धन्यवाद कहना चाहते हैं। अगर सीरीज ने अनजाने में किसी किसी भावना को आहत किया है तो हम उसके लिए एक बार फिर माफी माँगते हैं।”

बयान के अनुसार, ‘‘तांडव की पूरी यूनिट ने वेब सीरीज को लेकर जताई गई चिंताओं पर ध्यान देने के लिए इसमें बदलाव करने का फैसला किया है।’’ अमेजन प्राइम की वेब सीरीज़ ‘तांडव’ को लेकर उठे विवाद के बाद इसके निर्माता बैकफुट पर हैं। इस पर उठे विवादों को बाद इस वेब सीरीज के निर्माताओं ने शो में बदलाव करने का निर्णय लिया है।

इससे पहले तांडव वेब सीरीज को लेकर निर्माताओं ने माफी माँगी थी। वेब सीरीज के निर्माताओं की ओर से जारी बयान में कहा गया था, “वेब सीरीज की कास्ट और क्रू मेंबर्स का मकसद किसी व्यक्ति, जाति, संप्रदाय, नस्ल, धर्म या फिर सामुदायिक समूह की भावनाएँ आहत करना नहीं था। इसके तहत किसी संस्थान, राजनीतिक दल या फिर किसी जीवित या मृत व्यक्ति के सम्मान को ठेस पहुँचाने का कोई इरादा नहीं था। तांडव की कास्ट और क्रू ने लोगों की आपत्तियों को संज्ञान में लिया है। यदि किसी भी भावनाएँ इससे आहत हुई हैं तो हम बिना शर्त इसके लिए माफी माँगते हैं।”

क्या है मामला

दरअसल, तांडव वेब सीरीज के पहले ही एपिसोड में एक्टर जीशान अयूब भगवान शिव के कैरेक्टर में दिखते हैं। यह यूनिवर्सिटी के थिएटर का एक सीन है, जिसमें मंच संचालक उनसे पूछता है कि भोलेनाथ कुछ करिए। रामजी के फॉलोअर्स तो लगातार सोशल मीडिया पर बढ़ते ही जा रहे हैं। इस पर जीशान अयूब कहते हैं, क्या करूँ अपनी प्रोफाइल पिक चेंज कर दूँ। इस पर मंच संचालक कहता है कि इससे कुछ नहीं होगा। आप कुछ अलग करिए। इस सीन को लेकर पूरा विवाद हो रहा है। बीजेपी के कई नेता इस सीरीज को बैन करने तक की माँग भी कर चुके हैं।

कंगना रनौत ने सीरीज के मेकर्स से पूछा कि क्या उनमें ‘अल्लाह’ का मजाक बनाने की हिम्मत है? उन्होंने कपिल मिश्रा के ट्वीट को रीट्वीट करके लिखा, “माफी माँगने के लिए बचेगा कहाँ? ये सीधा गला काट देते हैं, जिहादी देश फतवा निकाल देते हैं, लिबरल मीडिया वर्चुअल लिंचिंग कर देती है, तुम्हें ना सिर्फ़ जान से मार दिया जाएगा बल्कि उस मौत को भी जस्टिफ़ाई किया जाएगा, बोलो अली अब्बास जफर, है हिम्मत अल्लाह का मज़ाक़ उड़ाने की?”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe