Saturday, July 2, 2022
Homeदेश-समाजतेलंगाना में 3 दिनों से धरने पर बैठे हैं राजीव गाँधी यूनिवर्सिटी ऑफ नॉलेज...

तेलंगाना में 3 दिनों से धरने पर बैठे हैं राजीव गाँधी यूनिवर्सिटी ऑफ नॉलेज एंड टेक्नोलॉजी के हजारों छात्र, अग्निपथ के हिंसक प्रदर्शनों के कारण दबी आवाज, ये है मामला

छात्रों ने यह भी अनुरोध किया कि मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री के टी रामा राव आरजीयूकेटी आएँ और देखें उन्हें किस तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के खिलाफ देश के कई राज्यों में हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं। तेलंगाना, यूपी, बिहार, दिल्ली, उत्तराखंड, राजस्थान में इस योजना का जबरदस्त विरोध किया जा रहा है। सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुँचाया जा रहा है। वहीं, इस हिंसा और हुड़दंग के बीच तेलंगाना के IIIT बसरा के छात्रों के प्रदर्शन पर किसी भी मेन स्ट्रीम मीडिया की नजर नहीं गई। ये छात्र अपनी मूलभूत आवश्यकताओं के लिए लगातार 3 दिनों से तेलंगाना सरकार के विरोध में सड़कों पर हैं, लेकिन किसी भी मेन स्ट्रीम मीडिया ने इस खबर को दिखाना जरूरी नहीं समझा। इससे जुड़ी आपको ​केवल एक या दो खबरें ही पोर्टल पर दिखाई देंगी, जबकि अग्निपथ योजना के विरोध में सैकड़ों खबरें।

दरअसल, तेलंगाना में राजीव गाँधी यूनिवर्सिटी ऑफ नॉलेज एंड टेक्नोलॉजी (RGUKT) के छात्र बुधवार (15 जून 2022) से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। निर्मल जिले के बसरा में स्थित अंतरराष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (IIIT Basara) में हजारों छात्र भोजन की खराब गुणवत्ता, बुनियादी सुविधाओं में सुधार और एक नियमित कुलपति की नियुक्ति की माँगों को लेकर बिल्डिंग के मेन गेट पर धरना दे रहे हैं। ये छात्र तेलंगाना सरकार से केवल जरूरी सुविधाओं की माँग कर रहे हैं, इसके बावजूद इनकी अनदेखी की जा रही है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, तेलंगाना में जिस राजीव गाँधी यूनिवर्सिटी ऑफ नॉलेज टेक्नोलॉजी में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। उसे IIIT बसरा के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ लगातार तीसरे दिन हजारों छात्र अच्छे भोजन, लैब और अन्य शैक्षणिक सुविधाओं की माँग को लेकर हड़ताल पर हैं। वे खराब भोजन की गुणवत्ता का विरोध कर रहे हैं। वे राज्य सरकार से माँग कर रहे हैं कि बुनियादी सुविधाओं के साथ-साथ एक स्थायी कुलपति की नियुक्ति पर ध्यान दिया जाए।

छात्रों ने यह भी अनुरोध किया कि मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री के टी रामा राव आरजीयूकेटी आएँ और देखें उन्हें किस तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कई छात्रों ने हॉस्टल के खाने में छोटे कीड़े और मेंढक देखे जाने का भी दावा किया है। छात्रों का कहना है कि उन्हें हॉस्टल में लैपटॉप, ड्रेस, गद्दे, पंखे और अन्य सुविधाओं के बिना ही रहना पड़ रहा है।

राजीव गाँधी यूनिवर्सिटी ऑफ नॉलेज एंड टेक्नोलॉजी

आरजीयूकेटी या आईआईआईटी बसरा आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी के शासन के दौरान 2008 में एपी में स्थापित तीन आईआईआईटी में से एक है। 2 जून 2014 को आंध्र से अलग होने के बाद वर्तमान में यह तेलंगाना का एकमात्र आईआईआईटी है। यह उत्तर तेलंगाना के निर्मल जिले के बसरा में स्थित है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी गैर-जिम्मेदाराना’: रिटायर्ड जज ने सुनाई खरी-खरी, कहा – यही करना है तो नेता बन जाएँ, जज क्यों...

दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज एसएन ढींगरा ने भी मीडिया में आकर बताया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के जजों की टिप्पणी पर क्या सोचते हैं।

‘क्या किसी हिन्दू ने शिव जी के नाम पर हत्या की?’: उदयपुर घटना की निंदा करने पर अभिनेत्री को गला काटने की धमकी, कहा...

टीवी अभिनेत्री निहारिका तिवारी ने उदयपुर में कन्हैया लाल तेली की जघन्य हत्या की निंदा क्या की, उन्हें इस्लामी कट्टरपंथी गला काटने की धमकी दे रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,271FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe