Friday, July 30, 2021
Homeदेश-समाजदिल्ली में नवरात्र से पहले माँ दुर्गा और हनुमान जी की प्रतिमाओं को किया...

दिल्ली में नवरात्र से पहले माँ दुर्गा और हनुमान जी की प्रतिमाओं को किया क्षतिग्रस्त, सड़क पर उतरे लोग: VHP ने पुलिस को चेताया

"आज भारतीय नव वर्ष व नव रात्रि के पहले दिन पश्चिमी दिल्ली के ककरौला गाँव के माता सहज कौर कुलदेवी- हनुमान मन्दिर में देवी देवताओं की मूर्तियों को तोड़े जाने की खबर आना बेहद हृदय विदारक है। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार दोपहर को घटना स्थल पर प्रदर्शन किया।"

साउथ-वेस्ट दिल्ली के ककरौला गाँव में एक हिन्दू मंदिर में तोड़फोड़ मचाए जाने की खबर सामने आई है। असामाजिक तत्वों ने न सिर्फ मंदिर में तोड़फोड़ मचाई, बल्कि हनुमान जी की प्रतिमा को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। इसके अलावा अन्य देवी-देवताओं की प्रतिमाओं को भी नुकसान पहुँचाया गया। ये घटना सोमवार (अप्रैल 12, 2021) रात की है। सुबह इस घटना के सामने आने के बाद मंदिर के पास कई लोग जमा हो गए।

विश्व हिन्दू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने जानकारी देते हुए बताया, “आज भारतीय नव वर्ष व नव रात्रि के पहले दिन पश्चिमी दिल्ली के ककरौला गाँव के माता सहज कौर कुलदेवी- हनुमान मन्दिर में देवी देवताओं की मूर्तियों को तोड़े जाने की खबर आना बेहद हृदय विदारक है। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार दोपहर को घटना स्थल पर प्रदर्शन किया।” उन्होंने कहा कि दिल्ली में ऐसी घटनाएँ लगातार बढ़ रही हैं।

बंसल ने कहा कि राजधानी दिल्ली में हिंदूओं व मंदिरों पर बढ़ती हमलों की घटनाओं व पुलिस-प्रशासन की उदासीनता ने हिन्दू समाज की चिंताओं को और बढ़ा दिया है। उन्होंने दिल्ली पुलिस से दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की माँग की। विनोद बंसल ने ऑपइंडिया से बात करते हुए कहा कि इस तरह की घटनाओं से हिन्दुओं में आक्रोश का माहौल है और पुलिस को भी इसे समझते हुए त्वरित कार्रवाई करनी चाहिए।

विनोद बंसल ने सोशल मीडिया पर भी इस घटना का वीडियो शेयर किया। वीडियो में देखा जा सकता है कि मंदिर में स्थित माँ दुर्गा की प्रतिमा के हाथ तोड़ दिए गए हैं। साथ ही कई चीजें जमीन पर बिखरी पड़ी हुई हैं। जिस फर्श पर मूर्तियाँ स्थापित की हुई थीं, उसके भी टुकड़े-टुकड़े कर डाले गए। घटनास्थल पर पुलिस भी पहुँची। एक स्थानीय व्यक्ति ने बताया कि सुबह-सुबह जब पंडित जी वहाँ गए, तभी उन्होंने इस स्थिति को देख कर ग्रामीणों को सूचना दी।

इस एक ही परिसर में एक तरह से तीन मंदिर स्थापित हैं। एक में देखा जा सकता है कि हनुमान जी की प्रतिमा जमीन पर गिरी हुई है। वहाँ और एक भारी पत्थर भी पड़ा हुआ था। इसी तरह माँ दुर्गा की प्रतिमा के पास ईंट पाए गए। इस घटना के बाद अब मंदिर के बाहर बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर उतर आए और उन्होंने प्रशासन से त्वरित कार्रवाई की माँग की। ‘हर हर महादेव’ के नारे के साथ प्रदर्शनकारी सड़क पर उतरे।

इस विरोध प्रदर्शन को लेकर VHP ने कहा, ” मंदिर में देवी-देवताओं की मूर्ति विध्वंस से आक्रोशित हिन्दू समाज पश्चिमी दिल्ली में सड़कों पर उतर आया है। देखना यह है कि यहाँ की सरकार हिन्दू रक्षार्थ कब अपनी तन्द्रा से जागेगी।” बजरंग दल के कई कार्यकर्ता आक्रोशित लोगों का नेतृत्व कर रहे थे। मंदिर के आसपास बाजार है, जहाँ की सड़क पर ये विरोध प्रदर्शन हुआ। इसमें कई स्थानीय लोगों ने भी हिस्सा लिया।

‘सुदर्शन’ के पत्रकार नामित त्यागी ने जानकारी दी कि इलाके में स्थित 3 मंदिरों की प्रतिमाओं को खंडित किया गया है। उन्होंने बताया कि इस कारण क्षेत्र में अभी भी तनाव का माहौल है। आज से नवरात्र भी शुरू है, ऐसे में कई लोग मंदिर जाकर माता का दर्शन करने वाले थे। ऑपइंडिया ने इस सम्बन्ध में दक्षिण-पश्चिम दिल्ली की पुलिस से भी संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन फोन नहीं उठाया गया।

वहीं बजरंग दल के संयोजक भारत बत्रा भी इस प्रदर्शन में शामिल हैं। उन्होंने बताया कि 788 द्वारका मोड़ पर हिन्दू कार्यकर्ताओं और स्थानीय जनता द्वारा विरोध प्रदर्शन अभी भी चालू है। भारत बत्रा ने ऑपइंडिया से बात करते हुए लोगों से वहाँ जुड़ने की अपील की।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अनुपम कुमार सिंहhttp://anupamkrsin.wordpress.com
चम्पारण से. हमेशा राइट. भारतीय इतिहास, राजनीति और संस्कृति की समझ. बीआईटी मेसरा से कंप्यूटर साइंस में स्नातक.

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

तालिबान की मददगार पाकिस्तानी फौज, ढेर कर अफगान सेना ने दुनिया को दिखाए सबूत: भारत के बनाए बाँध को भी बचाया

अफगानिस्तान की सेना ने तालिबान को कई मोर्चों पर पीछे धकेल दिया है। उनकी मदद करने वाले पाकिस्तानी फौज से जुड़े कई लड़ाकों को भी मार गिराया है।

स्वतंत्र है भारतीय मीडिया, सूत्रों से बनी खबरें मानहानि नहीं: शिल्पा शेट्टी की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट

कोर्ट ने कहा कि उनका निर्देश मीडिया रिपोर्ट्स को ढकोसला नहीं बताता। भारतीय मीडिया स्वतंत्र है और सूत्रों पर बनी खबरें मानहानि नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,014FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe