Monday, October 18, 2021
Homeदेश-समाजयूरोपियन पैनल के दौरे से पहले J&K में आतंकियों ने की ट्रक ड्राइवर की...

यूरोपियन पैनल के दौरे से पहले J&K में आतंकियों ने की ट्रक ड्राइवर की हत्या, अक्टूबर में छठी वारदात

मंगलवार को यूरोपियन पार्लियामेंट का प्रतिनिधिमंडल भी जम्मू-कश्मीर के दौरे पर पहुँचेगा। ये लोग वहाँ रात भी गुजारेंगे और आम नागरिकों से बातचीत कर स्थिति का अवलोकन करेंगे। यूरोपियन पैनल जम्मू-कश्मीर में अधिकारियों से भी बातचीत करेगा।

दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों ने फिर से राज्य में सामान्य हो रहे व्यापार को रोकने के लिए घिनौनी कोशिश की है। सोमवार (अक्टूबर 28, 2019) को आतंकियों ने एक ट्रक ड्राइवर को मार दिया। पिछले कुछ दिनों से आतंकी लगातार ट्रक ड्राइवर्स को निशाना बना रहे हैं, क्योंकि घाटी व शेष भारत के बीच व्यापार का अहम जरिया ट्रक ही है। सेब का व्यापार भी ट्रक द्वारा ही किया जाता है। उधमपुर स्थित कटरा के निवासी नारायण दत्त छठे ट्रक ड्राइवर हैं, जिन्हें अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त किए जाने के बाद जान गँवानी पड़ी है।

नारायण दत्त पर ये हमला बिजबेहरा के कनिलवान इलाक़े में हुआ। आतंकियों ने उन पर गोली चलाई, जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। वहाँ 2 अन्य ट्रक ड्राइवर भी थे, जिनकी जान को ख़तरा था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकरी ने तुरंत घटनास्थल पर पहुँच कर अन्य ट्रक ड्राइवरों की जान बचाई। हालाँकि, अन्य घटनाओं की तरह आतंकियों ने ट्रक में आग नहीं लगाई। इलाक़े में घेराबंदी कर के सुरक्षा बल तलाशी अभियान चला रहे हैं, ताकि हमलावरों को पकड़ा जा सके। ये हमला यूरोपियन पार्लियामेंट के 28 सदस्यीय पैनल के दौरे से एक दिन पहले हुआ।

जम्मू-कश्मीर में आतंकी ऐसे ट्रक ड्राइवरों को निशाना बना रहे हैं, जो बाहर से आते हैं। 24 अक्टूबर को सेब लेकर जा रहे ट्रक ड्राइवर की शोपियाँ में हत्या कर दी गई थी। उससे पहले 14 अक्टूबर को शरीफ ख़ान नामक ट्रक ड्राइवर की हत्या कर दी थी। उसकी गाड़ी पर राजस्थान का नंबर था। इसके ठीक 2 दिनों बाद शोपियाँ में ही चरणजीत नामक पंजाबी व्यापारी की हत्या कर दी गई थी, जबकि एक अन्य इस हमले में बाल-बाल बच गया था। उसी दिन पुलवामा में छत्तीसगढ़ के ईंट-भट्ठा मजदूर की हत्या कर दी गई थी।

मंगलवार को यूरोपियन पार्लियामेंट का प्रतिनिधिमंडल भी जम्मू-कश्मीर के दौरे पर पहुँचेगा। ये लोग वहाँ रात भी गुजारेंगे और आम नागरिकों से बातचीत कर स्थिति का अवलोकन करेंगे। यूरोपियन पैनल जम्मू-कश्मीर में अधिकारियों से भी बातचीत करेगा। इससे एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने यूरोपियन डेलीगेशन को पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद को लेकर जानकारी दी। घाटी के हालात को लेकर भारत सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों का भी विवरण दिया गया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कश्मीर घाटी में गैर-कश्मीरियों को सुरक्षाबलों के कैंप में शिफ्ट करने की एडवाइजरी, आईजी ने किया खंडन

घाटी में गैर-कश्मीरियों को सुरक्षाबलों के कैंप में शिफ्ट करने की तैयारी। आईजी ने किया खंडन।

दुर्गा पूजा जुलूस में लोगों को कुचलने वाला ड्राइवर मोहम्मद उमर गिरफ्तार, नदीम फरार, भीड़ में कई बार गाड़ी आगे-पीछे किया था

भोपाल में एक कार दुर्गा पूजा विसर्जन में शामिल श्रद्धालुओं को कुचलती हुई निकल गई। ड्राइवर मोहम्मद उमर गिरफ्तार। साथ बैठे नदीम की तलाश जारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,527FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe