Thursday, May 30, 2024
Homeदेश-समाज800 CCTV फुटेज, 1 चोरी की बाइक, 2 संदिग्ध: IED-RDX कहाँ से आया-कौन...

800 CCTV फुटेज, 1 चोरी की बाइक, 2 संदिग्ध: IED-RDX कहाँ से आया-कौन लाया, दिल्ली में कई बम ब्लास्ट की थी साजिश

गाजीपुर में IED बरामद होने के बाद दिल्ली पुलिस ने आसपास के 200 सीसीटीवी कैमरों को खँगाला। गाजीपुर और EDM मॉल के बीच स्थित एक सीसीटीवी कैमरे में दो लोगों को बाइक पर बैठे देखा गया।

पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर में IED विस्फोटक बरामद किए जाने के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 2 संदिग्धों की पहचान की है। याद दिला दें कि 14 जनवरी, 2022 को गाजीपुर के ‘फ्लॉवर मार्केट’ में ‘इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED)’ बरामद किया गया था। सीसीटवी कैमरा फुटेज में देखा जा सकता है कि बाइक पर बैठे दो लोग एक बैग लेकर जा रहे हैं। इससे मिले सुराग के आधार पर दिल्ली पुलिस ओल्ड सीमापुरी के एक फ़्लैट पर पहुँची। दिलशाद गार्डन मेट्रो स्टेशन से उनकी बाइक भी जब्त कर ली गई है।

ये इलाका उत्तर-पूर्वी दिल्ली में स्थित है। गुरुवार (17 फरवरी, 2022) को वहाँ से दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने RDX से लैस एक विस्फोटक डिवाइस बरामद की है। इसके बाद दिल्ली पुलिस तीन लोगों की तलाश में लग गई, जिनमें से एक की लम्बी दाढ़ी है। इन तीनों के स्केच तैयार कर लिए गए हैं। पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने स्पेशल सेल की नवगठित ‘जिहादी टेरर यूनिट’ की एक टीम का गठन किया है, जो इनका पता लगाएगी। गाजीपुर और सीमापुरी से बरामद किए गए विस्फोटक समान ही हैं।

‘टाइम्स ऑफ इंडिया (TOI)’ की खबर के अनुसार, गाजीपुर में IED बरामद होने के बाद दिल्ली पुलिस ने आसपास के 200 सीसीटीवी कैमरों को खँगाला। गाजीपुर और EDM मॉल के बीच स्थित एक सीसीटीवी कैमरे में दो लोगों को बाइक पर बैठे देखा गया, जिनके पास दिख रहा बैग उस बैग की तरह ही दिख रहा था, जिसमें IED बरामद की गई। उन्होंने अपने चेहरे शॉल से ढक रखे थे। कुल मिला कर 800 कैमरों के फुटेज को खँगाला गया। सुबह के करीब 10 बजे वो उस बैग को फ्लॉवर मार्किट में छोड़ गए थे।

इलेक्ट्रॉनिक रूट के माध्यम से खँगालने के बाद दिल्ली पुलिस को पता चला कि 11 बजे ये दोनों ओल्ड सीमापुरी में गए थे। पुलिस ने इन दोनों के बारे में सूचनाएँ इकट्ठी करने के लिए लोकल इंटेलिजेंस यूनिट को लगाया। फिर ओल्ड सीमापुरी की D49 बिल्डिंग के दूसरे फ्लोर पर उनके रहने की जानकारी मिली। गुरुवार को डेढ़ बजे वहाँ पहुँची पुलिस ने उनके कुछ समान बरामद किए, लेकिन ये दोनों तब तक फरार हो गए थे। उस क्षेत्र और आसपास के इलाकों में पुलिस निगरानी रख रही है।

‘राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA)’ और उत्तर प्रदेश टेररिस्ट स्क्वाड की टीमों ने भी घटनास्थल का दौरा किया है। आतंकियों की साजिश थी कि पूरे इलाके में कई विस्फोट किए जाएँ, ऐसे में आशंका है कि स्थानीय समर्थन के बिना ऐसा संभव नहीं हो पाता। 2.2 RDX को 800 ग्राम के बैग में रखा गया था। एक्स-रे सहित अन्य टेस्ट्स किए गए। उसमें ABCD स्विच और प्रोग्राम टाइमर भी था। पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी ISI भी इसका इस्तेमाल करती रही है। ‘कंट्रोल्ड एक्सप्लोजन’ के जरिए इसे निष्क्रिय किया गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जो पुराना फोन आप यूज नहीं करते उसके बारे में मुझे बताइए… कहीं अपनी ‘दुकानदारी’ में आपकी गर्दन न नपवा दे न्यूजलॉन्ड्री वाला ‘झबरा’

अभिनंदन सेखरी ने बताया है कि वह फोन यहाँ बेघर लोगों को देने जा रहा है। ऐसे में फोन देने वाले को नहीं पता होगा कि फोन किसके पास जा रहा है।

कौन हैं पुणे के रईसजादे को बेल देने वाले एलएन दावड़े, अब मीडिया से रहे भाग: जिसने 2 को कुचल कर मार डाला उसे...

पुणे पोर्श कार के आरोपित को बेल देने वाले डॉक्टर एल एन दावड़े की एक वीडियो सामने आई है इसमें वो मीडिया से भाग रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -