Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजफर्रुखाबाद में मोहम्मदाबाद थाने के व्यक्ति ने बदला लेने के लिए 20 बच्चों को...

फर्रुखाबाद में मोहम्मदाबाद थाने के व्यक्ति ने बदला लेने के लिए 20 बच्चों को बनाया बंधक, पुलिस पर फेंका हथगोला

इस मामले में डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि पुलिस ने घेराबंदी कर ली है। बच्चों को नुकसान न पहुँचे, इसलिए संभलकर कार्रवाई कर रही है। युवक कमरे के अंदर से फायरिंग कर रहा है, जिसमें दो पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। बंधक बनाने वाला सजायाफ्ता है।

चोरी के आरोप में जेल गए युवक ने जमानत पर आने के बाद जेल भिजवाने वाले लोगों को सबक सिखाने के लिए गाँव के 20 बच्चों को बंधक बना लिया। देर तक घर नहीं पहुँचे बच्चों के चिंतित परिजन जैसे ही उसके गर पहुँचे तो आरोपित ने गोली चला दी। इसके बाद मौके पर कई थानों की पुलिस फोर्स बच्चों को आरोपित के बंधन से मुक्त कराने के लिए प्रयासरत है।

मामला फर्रुखावाद जिले के मोहम्मदाबाद थाने के गाँव करथिया की हैं। गाँव निवासी युवक सुभाष वाथम ने गुरुवार दोपहर को अपनी एक वर्ष की बेटी के जन्मदिन पर दावत खिलाने के बहाने मौहल्ले के 20 बच्चों को अपने घर बुला लिया। इसके बाद देर तक बच्चे घर नहीं पहुँचे तो परिजनों को इसकी चिंता हुई। कुछ परिजन जैसे ही सुभाष के गर पहुँचे वैसे ही कमरे में बच्चों के साथ बंद सुभाष ने गोली चला दी, जिससे बच्चों के परिजन बाल-बाल बच गए और दहशत में आ गए। घबराए परिजनों ने तत्काल क्षेत्रीय पुलिस को घटना की जानकारी दी।

सूचना पर जैसे ही क्षेत्रीय पुलिस मौके पर पहुँची वैसे ही आरोपित ने पुलिस पर हथगोला फेंक दिया, जिसमें इंस्पेक्टर सहित तीन पुलिस कर्मी घायल हो गए। इसके बाद पुलिस ने अपने अधिकारियों को सूचित किया तो कुछ ही देर में घटना स्थल पर अधिकारियों के साथ कई थानों का फोर्स इकठ्ठा हो गया। इस बीच आरोपित को क्षेत्रीय विधायक और गाँव से ही उसका दोस्त समझाने के लिए पहुँचे, लेकिन उसने फिर से फायर झोंक दिया, जिससे एक ग्रामीण घायल हो गया। इसके बाद से देर रात तक पुलिस बदमाश के चुंगल से बच्चों को बंधकमुक्त कराने का प्रयास करते रहे।

फर्रुखाबाद में बच्चों को बंधक बनाए बदमाश से निपटने का प्रयास करती पुलिस

दरअसल करथिया गाँव निवासी सुभाष बाथम एक शातिर बदमाश है, जो कि एक युवक की हत्या में कोर्ट से आजीवन कारावास की सजा पा चुका है, लेकिन कोर्ट से जमानत मिलने के बाद शातिर बदमाश खुले आम घूम रहा है। वहीं पिछले वर्ष एक चोरी के आरोप में बदमाश को फिर से जेल हो गई, जोकि करीब एक महीने पहले ही जेल से बाहर आया है। वहीं शातिर सुभाष तभी से उन लोगों को सबक सिखाने की बात कह रहा था, जिन्होंने उसे जेल भिजवाने में पुलिस की मदद की थी। उन सबको सबक सिखाने के लिए बदमाश ने 20 बच्चों को बहाने से बुलाकर घर में बंधक बना लिया। इसके बाद से बच्चों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है और ये सभी भगवान से अपने-अपने बच्चों की सलामती की दुआ माँग रहे हैं।

वहीं इस मामले में डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि पुलिस ने घेराबंदी कर ली है। बच्चों को नुकसान न पहुँचे, इसलिए संभलकर कार्रवाई कर रही है। युवक कमरे के अंदर से फायरिंग कर रहा है, जिसमें दो पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। बंधक बनाने वाला सजायाफ्ता है। साथ ही हालात बिगड़ते देख लखनऊ से एटीएम कमांडो को रवाना किया गया है। यह प्रयास है कि जल्द से जल्द बच्चों को बचाया जा सके।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘लखनऊ को दिल्ली बनाया जाएगा, चारों तरफ से रास्ते सील किए जाएँगे’: चुनाव से पहले यूपी में बवाल की टिकैत ने दी धमकी

राकेश टिकैत ने कहा कि दिल्ली की तरह लखनऊ का भी घेराव किया जाएगा। जिस तरह दिल्ली में चारों तरफ के रास्ते सील हैं, ऐसे ही लखनऊ के भी सील होंगे।

‘हम आपको नहीं सुनेंगे…’: बॉम्बे हाईकोर्ट से जावेद अख्तर को झटका, कंगना रनौत से जुड़े मामले में आवेदन पर हस्तक्षेप से इनकार

जस्टिस शिंदे ने कहा, "अगर हम इस तरह के आवेदनों को अनुमति देते हैं तो अदालतों में ऐसे मामलों की बाढ़ आ जाएगी।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,324FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe