Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाज10 लाख युवाओं को योगी सरकार देगी टैबलेट का तोहफा: 28 फरवरी तक है...

10 लाख युवाओं को योगी सरकार देगी टैबलेट का तोहफा: 28 फरवरी तक है ‘अभ्युदय’ योजना में पंजीकरण की तारीख

योगी सरकार का इस योजना के जरिए मकसद युवाओं की प्रतिभा को तलाशना है। सरकार इन्हें आगे बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। टैबलेट मुहैया कराने के पीछे भी सरकार की यही सोच है कि इससे युवा छात्र मात्र एक क्लिक में पूरी दुनिया की जानकारी बेहतर ढंग से ले पाएँगे।

उत्तर प्रदेश में ‘अभ्युदय’ योजना के तहत निशुल्क कोचिंग सेवा में एडमिशन लेने वाले युवाओं को योगी सरकार ने टैबलेट देने का निर्णय लिया है। योगी आदित्यनाथ सरकार 10 लाख युवाओं को टैबलेट देगी। टैबलेट मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के तहत प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए चलाई जा रही निश्शुल्क कोचिंग में दाखिला पाने वाले विद्यार्थियों को ही मिलेगा। इस कोचिंग में एडमिशन लेने के लिए अभ्यार्थी को प्रवेश परीक्षा में पास होना होगा, उसके बाद ही उसे दाखिला मिलेगा।

जानकारी के मुताबिक, अभी तक 5 लाख युवा अभ्युदय कोचिंग में ऑनलाइन व फिजिकल कक्षाओं में पढ़ रहे हैं। युवाओं के उत्साह को देखते हुए फिजिकल कक्षाओं में दाखिले के लिए 28 फरवरी तक पंजीकरण की सुविधा फिर से दी गई है। इसके लिए 5 और 6 मार्च को प्रवेश परीक्षा होगी।

बता दें कि योगी सरकार का इस योजना के जरिए मकसद युवाओं की प्रतिभा को तलाशना है। सरकार इन्हें आगे बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। टैबलेट मुहैया कराने के पीछे भी सरकार की यही सोच है कि इससे युवा छात्र मात्र एक क्लिक में पूरी दुनिया की जानकारी बेहतर ढंग से ले पाएँगे। 

इन कोचिंग्स में सिविल सेवा परीक्षा, जेईई, नीट व एनडीए के लिए तैयारी करवाई जाएगी। रिपोर्ट्स के अनुसार, मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की क्रियान्वयन समिति के सदस्य व लखनऊ के मंडलायुक्त रंजन कुमार ने बताया कि कोचिंग में विद्यार्थी ऑनलाइन के साथ फिजिकल कक्षाओं में भी पढ़ रहे हैं। अब फिर से फिजिकल कक्षाओं में दाखिले के लिए छात्र-छात्राएँ अपना पंजीकरण कर सकेंगे।

उन्होंने कहा कि 28 फरवरी को रात आठ बजे तक वेबसाइट abhyuday.up.gov.in पर अपना पंजीकरण कराया जा सकता है। ऐसे अभ्यर्थी जो ऑनलाइन कक्षाओं के लिए पहले से पंजीकृत हैं, वह भी फिजिकल क्लासेज में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा दे सकेंगे। कोचिंग में पढ़ रहे विद्यार्थियों में से टैबलेट पाने के पात्र मेधावियों को चयनित करने के लिए जल्द नियम व शर्तें घोषित होंगी।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 15 फरवरी 2021 को सिविल परीक्षाओं के लिए फ्री कोचिंग योजना ‘अभ्युदय’ का शुभारंभ किया था। इस दौरान उन्होंने कोचिंग के लिए चयनित छात्र-छात्राओं से संवाद भी किया था। 16 फरवरी 2021 यानी बसंत पंचमी से इस योजना के तहत कक्षाएँ शुरू हुई थीं। तब तक इस योजना के लिए कुल 4 लाख 84 हजार से अधिक छात्रों ने पंजीकरण करवा लिया था। उनमें से सरकार ने 50 हजार का चयन किया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe