Wednesday, June 12, 2024
Homeदेश-समाजपहले नौकरी से बर्खास्त, फिर जेल, अब घर भी हुआ कुर्क: अतीक अहमद की...

पहले नौकरी से बर्खास्त, फिर जेल, अब घर भी हुआ कुर्क: अतीक अहमद की बहन-बहनोई के ठिकाने पर पहुँची यूपी पुलिस, बमबाज गुड्डू मुस्लिम को दी थी पनाह

कुर्की की इस कार्रवाई में पुराना सोफा सेट, फ्रिज, वाशिंग मशीन और कुछ बर्तन मिले हैं। बरामद हुए सामान की कीमत लगभग 80,000 रुपए बताई जा रही है।

उमेश पाल की हत्या के बाद शूटरों को पनाह देने के आरोप में उत्तर प्रदेश पुलिस ने माफिया अतीक अहमद की बहन का घर कुर्क कर लिया है। फरवरी 2023 में हुए इस हत्याकांड में पुलिस ने अतीक की बहन नूरी और उसके शौहर अख़लाक़ को सह-अभियुक्त बनाया है। वायरल हुए एक वीडियो में बमबाज गुड्डू मुस्लिम को अतीक के बहनोई के घर में भी देखा गया था। प्रयागराज पुलिस ने शनिवार (9 दिसंबर, 2023) को मेरठ पहुँच कर कुर्की की यह कार्रवाई की।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शनिवार (9 दिसंबर, 2023) को प्रयागराज के थाना धूमनगंज की पुलिस टीम मेरठ पहुँची। यहाँ से वो नौचंदी थाना क्षेत्र में पड़ने वाले भवानी नगर पहुँची। स्थानीय मेरठ पुलिस भी साथ थी। भवानी नगर में अतीक के जीजा अख़लाक़ का 2 मंजिला मकान है। पुलिस ने यहाँ नियमानुसार कार्रवाई शुरू की। बताया जा रहा है कि घर में रहने वालों को पहले ही पुलिस कार्रवाई की भनक लग चुकी थी। तलाशी के दौरान पाया गया कि घर से तमाम महँगे सामान पहले ही हटा दिए गए थे।

कुर्की की इस कार्रवाई में पुराना सोफा सेट, फ्रिज, वाशिंग मशीन और कुछ बर्तन मिले हैं। बरामद हुए सामान की कीमत लगभग 80,000 रुपए बताई जा रही है। पुलिस ने इन सामानों को अपनी GD में दर्ज किया है। कुर्क हुए सभी सामान को एक पड़ोसी को सुपुर्द कर दिया गया है। साथ ही पड़ोसी को हिदायत दी गई है कि वो किसी भी संदिग्ध गतिविधि की सूचना फौरन पुलिस को दें। कुर्की की यह कार्रवाई अतीक की बहन नूरी की उमेश पाल हत्याकांड से अब तक फरारी के चलते हुई है। पुलिस ने कुर्की की इस कार्रवाई के लिए बाकायदा अदालत से अनुमति ली थी।

19 अगस्त, 2023 को ही पुलिस अख़लाक़ अहमद के घर पर नोटिस चस्पा कर चुकी थी। इस नोटिस में नूरी को 20 दिनों के अंदर पुलिस के आगे सरेंडर करने के लिए कहा गया था। हालाँकि नूरी के शौहर अख़लाक़ को पुलिस ने 2 अप्रैल, 2023 में ही गिरफ्तार कर लिया था। अख़लाक़ सरकारी डॉक्टर था। उमेश पाल हत्याकांड में उसका नाम आते ही उसे नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया था। फिलहाल अख़लाक़ अहमद जेल में है।

उमेश पाल की हत्या के बाद पुलिस के हाथ एक वीडियो फुटेज हाथ लगा था। इस वीडियो में गुड्डू मुस्लिम को अख़लाक़ के घर में देखा गया था। नूरी और उनके शौहर अख़लाक़ पर गुड्डू मुस्लिम को न सिर्फ आर्थिक मदद करने बल्कि पनाह देने का भी आरोप है। गुड्डू मुस्लिम भी फिलहाल फरार चल रहा है। पुलिस के साथ UP STF भी उसकी तलाश में जुटी हुई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लड़की हिंदू, सहेली मुस्लिम… कॉलेज में कहा, ‘इस्लाम सबसे अच्छा, छोड़ दो सनातन, अमीर कश्मीरी से कराऊँगी निकाह’: देहरादून के लॉ कॉलेज में The...

थर्ड ईयर की हिंदू लड़की पर 'इस्लाम' का बखान कर धर्म परिवर्तन के लिए प्रेरित किया गया और न मानने पर उसकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी गई।

जोशीमठ को मिली पौराणिक ‘ज्योतिर्मठ’ पहचान, कोश्याकुटोली बना श्री कैंची धाम : केंद्र की मंजूरी के बाद उत्तराखंड सरकार ने बदले 2 जगहों के...

ज्तोतिर्मठ आदि गुरु शंकराचार्य की तपोस्‍थली रही है। माना जाता है कि वो यहाँ आठवीं शताब्दी में आए थे और अमर कल्‍पवृक्ष के नीचे तपस्‍या के बाद उन्‍हें दिव्‍य ज्ञान ज्‍योति की प्राप्ति हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -