Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजडीडी न्यूज के कार्यक्रम की रिकॉर्डिंग के दौरान NSUI कार्यकर्ताओं का हंगामा, कॉन्ग्रेस नेता...

डीडी न्यूज के कार्यक्रम की रिकॉर्डिंग के दौरान NSUI कार्यकर्ताओं का हंगामा, कॉन्ग्रेस नेता उदित राज के ओएसडी की अगुवाई में पत्रकारों पर हमला, शो के प्रोड्यूसर को पीटा

डीडी न्यूज से मशहूर शो 'दो टूक' की रिकॉर्डिंग के दौरान एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने पत्रकारों पर हमला कर दिया। उन्होंने शो के प्रोड्यूसर के साथ भी मारपीट की।

डीडी न्यूज के मशहूर डिबेट शो ‘2 टूक’ की रिकॉर्डिंग के समय दूरदर्शन के स्टूडियो में हंगामे और मारपीट की खबर सामने आ रही है। इस दौरान एनएसयूआई से जुड़े कार्यकर्ताओं और कॉन्ग्रेस नेता उदित राज के समर्थकों ने स्टूडियो में जमकर हंगामा किया। यही नहीं, उदित राज के ओएसडी की अगुवाई में पत्रकारों पर भी हमला किया, जिसमें दो टूक शो के प्रोड्यूसर पर पीछे से हमला किया गया।

जानकारी के मुताबिक, ये मामला शुक्रवार (23 फरवरी 2024) का है, जब वरिष्ठ पत्रकार अशोक श्रीवास्तव के शो ‘दो टूक’ की रिकॉर्डिंग हो रही थी। इस कार्यक्रम के फॉर्मेट के मुताबिक ही सवाल-जवाब का सिलसिला चल ही रहा था कि कार्यक्रम में शामिल होने पहुँचे एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने हंगामा खड़ा कर दिया। उन्होंने शो के प्रोड्यूसर पर भी हमला कर दिया। हंगामा कर रहे लोगों को रोकने की कोशिश कर रहे अशोक श्रीवास्तव के साथ भी बदतमीजी की गई।

इस मामले की जानकारी सार्वजनिक हुई पूर्व सांसद और कॉन्ग्रेस नेता उदित राज के दावे से। उदित राज ने दावा किया कि शो की रिकॉर्डिंग के दौरान एंकर से सवाल जवाब पूछने पर लोगों को मारा पीटा गया। उन्होंने एक्स पर लिखा, “दूरदर्शन स्टूडियो में डिबेट की रिकॉर्डिंग के समय मोदीभक्ति के बारे में जब एंकर से सवाल पूछा तो मारा पीटा गया। नया ट्रेंड स्थापित हो रहा है।”

हालाँकि तुरंत ही वहाँ मौजूद रहे लोगों ने उदित राज के दावे की हवा निकाल दी। डीडी न्यूज के वरिष्ठ संवाददाता लाल चंद्र सिंह ने उदित राज को जवाब देते हुए लिखा, “बिल्कुल ग़लत, 4 गुंडे पहले से ही प्लान करके आए थे और उन लोगों ने सब कुछ अपनी योजना के मुताबिक ही किया। ऐंकर उनको कह रहे थे कि हम आपके पास माइक लेकर आ रहे हैं लेकिन उनको लगा कि इससे तो उनका प्लान पूरा नहीं होगा तो उन्होंने हंगामा कर दिया, धक्कामुक्की की और मारपीट भी की। मत कीजिए।”

इस मामले में वरिष्ठ पत्रकार अशोक श्रीवास्तव का भी बयान सामने आया है। उन्होंने कहा, “आज मेरे कार्यक्रम दो टूक की रिकॉर्डिंग के दौरान जेएनयू से एनएसयूआई के कुछ लड़के आए थे और उदित राज के कुछ लोग थे, उन्होंने प्रोग्राम की रिकॉर्डिंग शुरू होते ही हंगामा और बदतमीजी शुरू कर दी। मैने और मेरे प्रोड्यूसर ने उन्हें रोका तो कुछ लड़कों ने मेरे प्रोड्यूसर पर पीछे से हमला कर दिया। बाद में मैं बीच बचाव में आया और एक हमलावर को पकड़ लिया। इससे पहले मैं उसे पकड़ कर सिक्योरिटी को देता कुछ लोगों ने घेर कर मुझे भी गिरा दिया। बाद में पता चला कि इनमें उदित राज का ओएसडी भी शामिल था, जो लड़कों को भड़का रहा था। और अब उदित राज इसे राजनीतिक मुद्दा बनाने की कोशिश कर रहा है। अभी शक ये भी है कि कुछ लड़के शराब पिए हुए थे। फिलहाल मामले को पुलिस देख रही है।”

वरिष्ठ पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ने कहा कि हमलावरों के निशाने पर वो भी थे। उन्होंने प्रत्यक्षदर्शियों के हवाले से आगे कहा, “कुछ प्रत्यक्षदर्शियों ने जो वहाँ मौजूद थे और जो दूसरे गेस्ट प्रोग्राम में आए थे, उन्होंने यह भी बताया है कि कुछ लड़के हंगामे के दौरान ही ये बात कर रहे थे कि चार-पाँच लोगों को पीटकर यहाँ से निकल लो, इन लोगों के निशाने पर मैं भी था।”

वहीं, वरिष्ठ पत्रकार प्रखर श्रीवास्तव ने उदित राज को करारा जवाब दिया। उन्होंने लिखा, “उदित राज जी, आपको झूठ बोलने और कुतर्क करने की पुरानी बीमारी है। डीडी न्यूज़ की कई टीवी डिबेट्स में आपके झूठे तर्कों को बेनकाब किया गया है और इसीलिए आप दुश्मनी की भावना से भरकर अब इस स्तर पर उतर आये हैं कि मिथ्या आरोप लगाने लगे हैं।” उन्होंने आगे लिखा, “खास बात है कि जो उदित राज अनर्गल आरोप लगा रहे हैं, वो खुद मौके पर मौजूद नहीं थे।”

पत्रकार कीर्ति वढेरा ने डीडी न्यूज के पत्रकारों और टीम पर हमले को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी को निशाने पर लियाष उन्होंने लिखा, “मीडिया लोकतंत्र का सबसे मजबूत स्तंभ है और मीडिया पर हमला कतई बर्दास्त नहीं किया जाना चाहिए। कॉन्ग्रेस के पास कुछ बचा नहीं है, ऐसे में वो वरिष्ठ पत्रकारों पर हमले कर रहे हैं।” उन्होंने कहा कहा कि एनएसयूआई के गुंडे ऑडियंस के तौर पर घुसे और शो के दौरान हंगामा किया। उन्होंने एंकर और पूरे प्रोडक्शन टीम को नुकसान पहुँचाया, वहीं कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ता उनकी मदद करते दिखे।

बता दें कि उदित राज सोशल मीडिया पर कई बार झूठ फैलाते रहे हैं। उनपर सोशल मीडिया के माध्यम से अनर्गल टिप्पणी के मामले में केस भी दर्ज हो चुका है। चूँकि इस मामले में सीधे-सीधे उनके ओएसडी का नाम सामने आ रहा है, ऐसे में वो विक्टिम कार्ड खेलकर अब सहानुभूति बटोरने में लगे हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -