Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाज15 साल से भारत में रह रहे थे रोहिंग्या फैय्याज और दिल मोहम्मद, पासपोर्ट-आधार...

15 साल से भारत में रह रहे थे रोहिंग्या फैय्याज और दिल मोहम्मद, पासपोर्ट-आधार सब फर्जी: यूपी पुलिस ने धरा, दुबई भी गए थे

"दोनों आरोपितों की गिरफ्तारी धौलाना थाना पुलिस ने की है। इनके द्वारा फर्जी आधार कार्ड बनवाने के बाद पासपोर्ट बनवाया गया। इसी पासपोर्ट पर फैय्याज ने इसी साल जनवरी में दुबई की यात्रा भी की थी।"

UP के हापुड़ में पुलिस ने अवैध रूप से भारत में रह रहे 2 रोहिंग्या नागरिकों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपितों के नाम फैय्याज और दिल मोहम्मद हैं। पुलिस ने इनके पास से एक भारतीय पासपोर्ट, एक आधार कार्ड की फोटोकॉपी और 2 रिफ्यूजी कार्ड बरामद किए हैं। आरोपित फैय्याज लगभग 15 वर्षो से भारत में रह रहा था। वो भारत से दुबई की यात्रा भी कर चुका है। पुलिस ने यह जानकारी 29 अप्रैल, 2022 (शुक्रवार) को दी है।

SP हापुड़ IPS दीपक भूकर ने बताया, “दोनों आरोपितों की गिरफ्तारी धौलाना थाना पुलिस ने की है। इनके द्वारा फर्जी आधार कार्ड बनवाने के बाद पासपोर्ट बनवाया गया। इसी पासपोर्ट पर फैय्याज ने इसी साल जनवरी में दुबई की यात्रा भी की थी। बरामद आधार कार्ड अलीगढ़ के पते पर बनवाया गया था जिसे बाद में हापुड़ के धौलाना के पते पर ट्रांसफर करवाया गया था। जाँच में दिलशाद नाम के एक व्यक्ति का नाम प्रकाश में आया है जिसने 80 हजार रुपए ले कर पासपोर्ट बनवाया था। कुछ अन्य नाम भी प्रकाश में आए हैं जिनके द्वारा फर्जी पते पर पासपोर्ट बनवा कर विदेशों की यात्राएँ की गई हैं। इन सभी की गहन जाँच चल रही है। आगे जो भी जानकारी आती रहेगी उस अनुसार कार्रवाई की जाएगी।”

हापुड़ पुलिस प्रेसनोट

हापुड़ पुलिस के मुताबिक फैय्याज हापुड़ के गाँव शेखपुर खिचरा में आसिफ के मकान में रह रहा था। वहीं दूसरा आरोपित दिल मोहम्मद उसी गाँव के आबिद प्रधान के घर पर रहता था। पुलिस की पूछताछ में फैय्याज ने बताया, “मैं अपने अम्मी-अब्बा के साथ लगभग करीब 15 साल पहले म्यांमार से भारत आया। हम अलीगढ़ में रुके और वहाँ मैंने अपना आधार कार्ड बनवा लिया। लगभग 7-8 साल पहले हम हापुड़ के गाँव शेखपुर खिचरा में आ कर किराए पर रहने लगे। मैंने यहाँ अपने आधार पर पता बदलवा लिया। साल 2021 में म्यंमार के ही मूल निवासी और मेरे साथी दिल मौहम्मद उर्फ फारुख ने मेरे आधार कार्ड व कुछ फर्जी कागजातों से मेरा भारतीय पासपोर्ट बनवा दिया। दिल मोहम्मद के पास भारतीय पासपोर्ट पहले से ही था।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -