Sunday, February 28, 2021
Home देश-समाज तरन्नुम ने नवजात बेटे का नाम रखा रणविजय: लॉकडाउन में मसीहा बनी खाकी को...

तरन्नुम ने नवजात बेटे का नाम रखा रणविजय: लॉकडाउन में मसीहा बनी खाकी को बरेली के दंपती का सलाम

“जब मेरी बीबी ने मुझे देखा तब उसकी आँखों के आँसू रुके। उसने तुरंत रणविजय सर को मैसेज किया कि अगर बेटा हुआ तो वह उसका नाम रणविजय ही रखेगी। मेरे बरेली पहुँचने के करीब 45 मिनट के बाद मैं पिता बना। हमने उसका नाम रणविजय खान रखा है।”

कोरोना वायरस की विश्‍वव्‍यापी महामारी की वजह से पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन है। घरों में कैद लोगों की जिंदगी की रफ्तार जैसे थम सी गई लगती है। लेकिन जिंदगी की जरूरतें कभी नहीं थमतीं। संकट की इस घड़ी में उत्तर प्रदेश पुलिस का ऐसा सहृदय और मददगार रूप सामने आया है। पुलिस के इस जज्बे को सलाम करते हुए बरेली के दपंती ने अपने नवजात बेटे का नाम नोएडा के एडिशनल DCP रणविजय के नाम पर रखने का फैसला किया है।

असल में बरेली की रहने वाली तरन्नुम उर्फ़ तमन्ना अली खान को 25 मार्च को लेबर पेन शुरू हो गया। उसकी हालत बेहद खराब थी। उसका शौहर नोएडा में था। लॉकडाउन की वजह से उसका बरेली पहुॅंचना मुमकिन नहीं था और तमन्ना को कोई अस्पताल ले जाने वाला भी नहीं था। संकट की इस घड़ी में तमन्ना के लिए पुलिस मसीहा बनी। खाकी ने मानवता की मिसाल पेश करते हुए बरेली में मौजूद गर्भवती महिला के पास नोएडा में फँसे उसके पति को पहुँचाया। प्रसव पीड़ा से परेशान महिला ने सोशल मीडिया पर विडियो जारी कर अपना दर्द बयाँ किया। बरेली पुलिस ने इस पर संज्ञान लेते हुए नोएडा पुलिस से संपर्क किया। फिर नोएडा पुलिस ने तमन्ना के शौहर अनीस खान को सकुशल बरेली पहुँचा दिया।

तमन्‍ना की डिलिवरी सकुशल हुई और उसने एक बेटे को जन्‍म दिया। होश में आने के बाद उन्‍होंने सबसे पहले बरेली और नोएडा पुलिस का आभार जताया। तमन्‍ना ने कहा, “सचमुच आप लोग खाकी में भगवान हैं।’ तमन्ना ने डिलीवरी के बाद एक वीडियो शेयर करते हुए कहा, “मेरा नाम तमन्ना है, मैं बरेली की रहने वाली हूँ। अब से कुछ ही वक्त पहले शायद चार या पाँच घंटे पहले मैं मौत और जिंदगी से लड़ रही थी। मेरे हसबैंड नोएडा में फँसे हुए थे और यहाँ मुझे लेबर पेन हो रहा था। मुझे हॉस्पिटल पहुँचाने वाला भी कोई नहीं था और आज मेरा प्यारा सा बेटा है और मेरे हसबैंड मेरे पास हैं और ये सब पॉसिबल हुआ एसएसपी बरेली, बरेली पुलिस, कमिश्नर सर और एडिशनल DCP रणविजय सर। वैरी स्पेशल थैंक्स यू टू ऑल ऑफ यू आप लोगों के प्रयास की वजह से मेरे हसबैंड बरेली आ पाए और मुझे हॉस्पिटल में एडमिट कर पाए और मैंने प्यारे से बेटे को जन्म दिया है। खाकी में भगवान हैं आप लोग सचमुच, बहुत-बहुत शुक्रिया। आज आप लोगों की वजह से ही शायद मैं जिंदा हूँ।”

तमन्ना ने अपने नवजात बेटे का नाम एडिशनल DCP रणविजय सिंह के नाम पर रणविजय खान रखा है। बता दें कि इससे पहले तमन्‍ना ने नोएडा के अडिशनल डीसीपी कुमार रणविजय का धन्‍यवाद देते हुए एक मैसेज में इच्‍छा जताई थी कि अगर उनका बेटा हुआ तो वह उसका नाम रणविजय रखेंगी।

तमन्ना के शौहर अनीस ने एनबीटी ऑनलाइन से बातचीत में कहा, “जब मेरी बीबी ने मुझे देखा तब उसकी आँखों के आँसू रुके। उसने तुरंत रणविजय सर को मैसेज किया कि अगर बेटा हुआ तो वह उसका नाम रणविजय ही रखेगी। मेरे बरेली पहुँचने के करीब 45 मिनट के बाद मैं पिता बना। हमने उसका नाम रणविजय खान रखा है। मेरी बीबी को बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी कि मैं उसके पास पहुँच पाऊँगा लेकिन पुलिस की मदद से पहुँच गया।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘किसानों के लिए डेथ वारंट है ये तीनों कृषि कानून, दिल्ली हिंसा में बीजेपी के लोग शामिल’: महापंचायत में केजरीवाल

केजरीवाल ने कहा कि किसानों के उपर लाठियाँ बरसाई गई। यह केंद्र सरकार का ही प्‍लान था। भाजपा समर्थक ही दिल्‍ली की घटना में शामिल थे। केंद्र सरकार का प्‍लान था कि किसानों का रुट डायवर्ट कराकर दिल्‍ली में भेजा जाए। ताकि...

‘भैया राहुल आप छुट्टी पर थे, इसलिए जानकारी नहीं कि कब बना मछुआरों के लिए अलग मंत्रालय’: पुडुचेरी में अमित शाह

“कॉन्ग्रेस आरोप लगा रही है कि बीजेपी ने उनकी सरकार को यहाँ गिराया। आपने (कॉन्ग्रेस) मुख्यमंत्री ऐसा व्यक्ति बनाया था, जो अपने सर्वोच्च नेता के सामने ट्रांसलेशन में भी झूठ बोले। ऐसे व्यक्ति को मुख्यमंत्री बनाया गया।"

‘लद्दाख छोड़ो, सिंघू बॉर्डर आओ’: खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत पन्नू ने सिख सैनिकों को उकसाया, ऑडियो वायरल

“लद्दाख बॉर्डर को छोड़ दें और सिंघू सीमा से जुड़ें। यह भारत के लिए खुली चुनौती है, हम पंजाब को आजाद कराएँगे और खालिस्तान बनाएँगे।"

25.54 km सड़क सिर्फ 18 घंटे में: लिम्का बुक में दर्ज होगा नितिन गडकरी के मंत्रालय का रिकॉर्ड

नितिन गडकरी ने बताया कि वर्तमान में सोलापुर-विजापुर राजमार्ग के 110 किमी का कार्य प्रगति पर है, जो अक्टूबर 2021 तक पूरा हो जाएगा।

माँ माटी मानुष के नाम पर वोट… और माँ को मार रहे TMC के गुंडे: BJP कार्यकर्ता की माँ होना पीड़िता का एकमात्र दोष

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक बदले की दुर्भावना से प्रेरित होकर हिंसा की एक और घटना सामने आई। भाजपा कार्यकर्ता और उनकी बुजुर्ग माँ को...

‘रोक सको तो रोक लो… दिल्ली के बाद तुम्हारे पास, इंतजाम पूरा’ – ‘जैश उल हिंद’ ने ली एंटीलिया के बाहर की जिम्मेदारी

मुकेश अंबानी की एंटीलिया के बाहर एक संदिग्ध कार पार्क की हुई मिली थी। 'जैश उल हिंद' ने इस घटना की जिम्मेदारी लेते हुए धमकी भरा संदेश दिया है।

प्रचलित ख़बरें

कोर्ट के कुरान बाँटने के आदेश को ठुकराने वाली ऋचा भारती के पिता की गोली मार कर हत्या, शव को कुएँ में फेंका

शिकायत के अनुसार, वो अपने खेत के पास ही थे कि तभी आठ बदमाशों ने कन्धों पर रायफल रखकर उन्हें घेर लिया और फायरिंग करने लगे।

आमिर खान की बेटी इरा अपने संघी हिन्दू नौकर के साथ फरार.. अब होगा न्याय: Fact Check से जानिए क्या है हकीकत

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि आमिर खान की बेटी इरा अपने हिन्दू नौकर के साथ भाग गई हैं। तस्वीर में इरा एक तिलक लगाए हुए युवक के साथ देखी जा सकती हैं।

शैतान की आजादी के लिए पड़ोसी के दिल को आलू के साथ पकाया, खिलाने के बाद अंकल-ऑन्टी को भी बेरहमी से मारा

मृत पड़ोसी के दिल को लेकर एंडरसन अपने अंकल के घर गया जहाँ उसने इस दिल को पकाया। फिर अपने अंकल और उनकी पत्नी को इसे सर्व किया।

जलाकर मार डाले गए 27 महिला, 22 पुरुष, 10 बच्चे भी रामभक्त ही थे, अयोध्या से ही लौट रहे थे

27 फरवरी 2002 की सुबह अयोध्या से लौट रहे 59 रामभक्तों को साबरमती एक्सप्रेस में करीब 2000 लोगों की भीड़ ने जलाकर मार डाला था।

पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा फिर पड़ा उल्टा: बालाकोट स्ट्राइक की बरसी पर अभिनंदन के 2 मिनट के वीडियो में 16 कट

इस वीडियो में अभिनंदन कश्मीर में शांति लाने और भारत-पाकिस्तान में कोई अंतर ना होने की बात करते दिख रहे हैं। इसके साथ ही वह वीडियो में पाकिस्तानी सेना की खातिरदारी की तारीफ कर रहे हैं।

‘अल्लाह से मिलूँगी’: आयशा ने हँसते हुए की आत्महत्या, वीडियो में कहा- ‘प्यार करती हूँ आरिफ से, परेशान थोड़े न करूँगी’

पिता का आरोप है कि पैसे देने के बावजूद लालची आरिफ बीवी को मायके छोड़ गया था। उन्होंने बताया कि आयशा ने ख़ुदकुशी की धमकी दी तो आरिफ ने 'मरना है तो जाकर मर जा' भी कहा था।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,201FansLike
81,835FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe