Friday, June 21, 2024
Homeदेश-समाजमस्जिद में घुसकर ताज मोहम्मद ने कुरान को जलाया, गिरफ्तारी के बाद बोला- 'मैंने...

मस्जिद में घुसकर ताज मोहम्मद ने कुरान को जलाया, गिरफ्तारी के बाद बोला- ‘मैंने नहीं, मेरी रूह ने किया ये सब’

कुरान को क्यों जलाया के सवाल पर ताज मोहम्मद ने बताया, "मैंने नहीं बल्कि मेरी रूह ने जलाया है।" उसका कहना है कि वह कोई काम नहीं करता है। हमेशा इधर-उधर घूमता है। परिवार वाले उसका निकाह नहीं करवा रहे हैं, जिसकी वजह से वह बहुत परेशान रहता है।

उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर में मस्जिद में घुसकर कुरान का अपमान करने वाले आरोपित ताज मोहम्मद को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह मस्जिद से 3 किलोमीटर दूर बावूजई मोहल्ले का रहने वाला है। शाहजहाँपुर पुलिस ने आरोपित की तस्वीरें जारी करते बताया कि मजहबी ग्रंथ को नुकसान पहुँचाने वाले अभियुक्त ताज मोहम्मद (अब्बा का नाम युसुफ) को 24 घंटों के गिरफ्तार कर लिया गया। अभियुक्त से पूछताछ कर इस मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।

एसपी एस आनंद ने बताया कि आरोपित की मानसिक स्थिति सही नहीं लग रही है। उसके परिजनों को भी बुलाया गया है। इनके अलावा शहर के इमाम मौलाना हुजूर अहमद मंजरी और कुछ अन्य मजहबी उलेमाओं को भी पुलिस थाने में बुलाया गया है। वहीं, आईजी रमित शर्मा ने बताया कि आरोपित पूछताछ में बहकी-बहकी बातें कर रहा है। मजहबी ग्रंथ क्यों जलाया के सवाल पर ताज मोहम्मद ने बताया, “मैंने नहीं बल्कि मेरी रूह ने जलाया है।” उसका कहना है कि वह कोई काम नहीं करता है। हमेशा इधर-उधर घूमता है। परिवार वाले उसका निकाह नहीं करवा रहे हैं, जिसकी वजह से वह बहुत परेशान रहता है।

इस मामले में वादी हाफिज हसीब ने बताया कि इस घटना के बाद इलाके में काफी तनाव है। हर रोज की तरह सुबह भी नमाज पढ़ी गई, लेकिन लोग आज उतनी बड़ी संख्या में नमाज पढ़ने नहीं आए।

बताया जा रहा है कि शाहजहाँपुर शहर के चौक कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला बावूजई में सैयद शाह फखरे आलम मियां मस्जिद है। बुधवार (2 नवंबर 2022) शाम को दो युवकों ने मस्जिद में घुसकर वहाँ रखे मजहबी ग्रंथ को जला दिया। जब नमाज के लिए इमाम हाफिज नदीम व अन्य लोग वहाँ पहुँचे, तो कुरान के जले हुए पन्ने देख उन्होंने मस्जिद के इमाम को सूचना दी। तकरीबन 8 बजे के आस-पास इलाके में भीड़ जमा हो गई। युवाओं ने वहाँ लगे भाजपा के होल्डिंग्स को फाड़कर उसमें आग लगा दी। इसके बाद सूचना पा​कर मौके पर पहुँचे एसपी, एसपी सिटी, एसपी ग्रामीण समेत भारी पुलिस बल ने भीड़ तितर-बितर करने के लिए लाठी चार्ज किया। इसके बाद पुलिस ने रात 9 बजे तक स्थिति पर काबू पाया। मामले का एक CCTV फुटेज भी सामने आया जिससे ताज मोहम्मद के कृत्य का खुलासा हुआ।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -