Friday, July 23, 2021
Homeदेश-समाजवैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने पेश की भारतीय एकता की मिसाल, रमजान में क्वारंटाइन...

वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने पेश की भारतीय एकता की मिसाल, रमजान में क्वारंटाइन 500 मुस्लिमों को परोस रहा है सहरी-इफ्तारी

रमजान के पवित्र महीने के बीच बड़ी संख्या में दूसरे राज्यों से प्रवासी लोगों को जम्मू-कश्मीर वापस लाया गया है। ये प्रवासी मजूदर जम्मू और उधमपुर ट्रेन के जरिए पहुँच रहे हैं। इन्हें कटरा स्थित आशीर्वाद भवन में क्वारंटाइन किया गया है। जिसमें 500 लोगों को रखने की क्षमता है। है। क्वारंटाइन किए गए लोगों में बहुत से ऐसे हैं, जो रोजा रखते हैं।

माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड द्वारा क्वारंटाइन किए गए मुस्लिमों को रमजान के इस पवित्र महीने में सहरी और इफ्तारी दिया जा रहा है। कटरा के आशीर्वाद भवन में रह रहे 500 मुस्लिमों को सहरी और इफ्तारी प्रदान की जा रही है।

श्राइन बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार ने बताया कि रमजान के पवित्र महीने के बीच बड़ी संख्या में दूसरे राज्यों से प्रवासी लोगों को जम्मू-कश्मीर वापस लाया गया है। ये प्रवासी मजूदर जम्मू और उधमपुर ट्रेन के जरिए पहुँच रहे हैं। इन्हें कटरा स्थित आशीर्वाद भवन में क्वारंटाइन किया गया है। जिसमें 500 लोगों को रखने की क्षमता है। है। क्वारंटाइन किए गए लोगों में बहुत से ऐसे हैं, जो रोजा रखते हैं।

ऐसे में रात भर जागकर कर्मचारी उनकी सहरी और इफ्तारी की व्यवस्था करते हैं। वहीं बाकी लोगों को नाश्ता, लंच और डिनर उपलब्ध करवाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मार्च में ही आशीर्वाद भवन को क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील कर दिया गया था।

बता दें कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए 18 मार्च को माता वैष्णो देवी की यात्रा को स्थगित कर दिया गया था। कटरा में श्राइन बोर्ड के कई भवन हैं, जहाँ पर श्रद्धालु रुकते हैं। यहाँ पर सारी व्यवस्थाएँ मौजूद होने के कारण उन भवनों को क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील कर दिया गया है।

सीईओ के मुताबिक अब तक श्राइन बोर्ड ने लॉकडाउन में लोगों को खाना उपलब्ध करवाने के लिए 80 लाख रुपए खर्च किए हैं। वहीं कोरोना से लड़ाई में 1.5 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं।

पूरे देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 1.25 लाख के पार पहुँच गई है। इस वायरस ने देश में अब तक 3752 लोगों की जान ली है। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर भी इससे अछूता नहीं है। यहाँ अब तक 1,489 मामले सामने आ चुके हैं। इसमें से 20 मरीजों की मौत हुई है, जबकि 720 मरीज ठीक हो चुके हैं। जम्मू संभाग के रियासी जिले में अब तक कोरोना के चार मामले सामने आए हैं। इसी जिले में त्रिकुटा पर्वत पर माता वैष्णो देवी का मंदिर स्थित है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काशी विश्वनाथ मंदिर की हुई ज्ञानवापी मस्जिद की 1700 फीट जमीन

काशी विश्‍वनाथ मंदिर प्रशासन और ज्ञानवापी मस्जिद पक्ष की ओर से पहले ही इस मामले पर सहमति बातचीत के दौरान बनी थी।

‘कौन है स्वरा भास्कर’: 15 अगस्त से पहले द वायर के दफ्तर में पुलिस, सिद्धार्थ वरदराजन ने आरफा और पेगासस से जोड़ दिया

इससे पहले द वायर की फर्जी खबरों को लेकर कश्मीर पुलिस ने उनको 'कारण बताओ नोटिस' जारी किया था। उन पर मीडिया ट्रॉयल में शामिल होने का भी आरोप है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,891FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe