Friday, May 24, 2024
Homeदेश-समाजभोलेनाथ की नगरी वाराणसी में 'शिवमय' होगा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, PM मोदी करेंगे उद्घाटन;...

भोलेनाथ की नगरी वाराणसी में ‘शिवमय’ होगा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, PM मोदी करेंगे उद्घाटन; त्रिशूल जैसा फ्लड लाइट तो डमरू-बेलपत्र और गंगा घाट जैसा होगा डिजाइन

ये क्रिकेट स्टेडियम लगभग 31 एकड़ से अधिक क्षेत्रफल में गंजारी इलाके में बनाया जाएगा। इस पर 330 करोड़ रुपए से अधिक की लागत आएगी। करीब 30 हजार दर्शकों के बैठने की क्षमता होगी। यह उत्तर प्रदेश का तीसरा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकसभा क्षेत्र और भगवान शिव की नगरी के रूप में प्रसिद्ध वाराणसी में अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद इसकी आधारशिला रखेंगे। 23 सितंबर 2023 को इसकी आधारशिला रखने के कार्यक्रम में सचिन तेंदुलकर, सुनील गावस्कर जैसे महान खिलाड़ी भी शामिल होंगे। इस क्रिकेट स्टेडियम को भगवान शिव से प्रेरित डिजाइन में बनाया जा रहा है, जो अपने आप में अनूठा स्टेडियम होगा।

शिवमय होगा अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम

वाराणसी में बनने वाला ये स्टेडियम लगभग 27 माह में बनकर तैयार होगा। इस स्टेडियम में भगवान शिव से जुड़े प्रतीकों को डिजाइन के तौर पर शामिल किया जा रहा है। इस स्टेडियम में लगने वाले फ्लड लाइट्स को त्रिशूल की आकृति में बनाया बनाया जाएगा।

स्टेडियम के छत को चंद्रमा, स्वागत के लिए बेलपत्र तो गुंबद डमरू की थीम पर डिजाइन तैयार किया जा रहा है। वहीं, बैठने के लिए बनाई जाने वाली सीढ़ियाँ काशी के गंगा घाटों की तर्ज पर बनाई जाएँगी।

लागत 400 करोड़ से ज्यादा, दर्शक क्षमता 45 हजार से अधिक

ये क्रिकेट स्टेडियम लगभग 31 एकड़ से अधिक क्षेत्रफल में गंजारी इलाके में बनाया जाएगा। इसे बनाने के लिए 330 करोड़ रुपए से अधिक की लागत आएगी। इस स्टेडियम में करीब 30 हजार दर्शकों के बैठने की क्षमता होगी। यह उत्तर प्रदेश का तीसरा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम होगा। अभी उत्तर प्रदेश में लखनऊ और कानपुर में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं।

जनसभा को संबोधित कर सकते हैं पीएम मोदी

जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 सितंबर की सुबह 11-12 बजे के बीच एक जनसभा को संबोधित कर सकते हैं। अपने इस वाराणसी दौरे पर न सिर्फ क्रिकेट स्टेडियम की सौगात देंगे, बल्कि 1200 करोड़ की लागत से बने 16 अटल विद्यालयों को भी जनता को समर्पित करेंगे।

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रोड शो भी कर सकते हैं। चूँकि अगले साल लोकसभा चुनाव भी होने हैं, ऐसे में वो इस रोड शो के माध्यम से चुनावी बिगुल भी बजा सकते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बाबरी का पक्षकार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आ गया, लेकिन कॉन्ग्रेस ने बहिष्कार किया’: बोले PM मोदी – इन्होंने भारतीयों पर मढ़ा...

प्रधानमंत्री ने स्पष्ट ऐलान किया कि अब यह देश न आँख झुकाकर बात करेगा और न ही आँख उठाकर बात करेगा, यह देश अब आँख मिलाकर बात करेगा।

कॉन्ग्रेस नेता को ED से राहत, खालिस्तानियों को जमानत… जानिए कौन हैं हिन्दुओं पर हमले के 18 इस्लामी आरोपितों को छोड़ने वाले HC जज...

नवंबर 2023 में जब राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी चरम पर थी, जब जस्टिस फरजंद अली ने कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मेवाराम जैन को ED से राहत दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -