Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजमवेशी का इलाज करने वेटनरी डॉक्टर को बुलाया, जबरन करवा दी शादी: बिहार में...

मवेशी का इलाज करने वेटनरी डॉक्टर को बुलाया, जबरन करवा दी शादी: बिहार में पकड़ुआ ब्याह का Video वायरल

वीडियो में सत्यम को एक मंदिर में शादी की रस्में निभाते हुए देखा जा सकता है। आस-पास लोगों की भीड़ है। लड़की पक्ष के लोग बेहद खुश और नाचते हुए दिख रहे हैं। वहीं सत्यम बेहद डरे हुए नजर आ रहे हैं।

बिहार से पकड़ुआ या पकड़ौआ ब्याह (Forced Marriage) की एक और घटना सामने आई है। इस मामले में मवेशी के इलाज के लिए वेटनरी डॉक्टर को बुलाकर अगवा कर लिया गया। फिर उसकी जबरन शादी करा दी गई। मामला बेगूसराय के तेघड़ा थाना क्षेत्र का है। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़ित युवक तेघड़ा थाना क्षेत्र के पिढ़ौली गाँव का रहने वाला है। उसके पिता सुबोध कुमार झा ने इस संबंध में तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। उन्होंने अपनी शिकायत में कहा है कि उनका बेटा सत्यम कुमार झा पशु चिकित्सक है। उसे मवेशी का इलाज करने के बहाने हसनपुर गाँव निवासी विजय सिंह ने बुलाया था। इसके बाद उनके बेटे का अपहरण कर विजय सिंह ने उसे अपनी लड़की से शादी को मजबूर किया।

तेघड़ा पुलिस ने हसनपुर स्थित विजय कुमार सिंह के घर दबिश दी। लेकिन लड़का और लड़की नहीं मिले। इस बीच सोशल मीडिया पर इस पकड़ौआ विवाह का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में सत्यम को एक मंदिर में दूल्हे का सेहरा और पोशाक पहने हुए एक लड़की के साथ शादी की रस्में निभाते हुए देखा जा सकता है। आस-पास लोगों की भीड़ है। मंडप के पीछे डीजे लगा हुआ है। लड़की पक्ष के लोग बेहद खुश और नाचते हुए दिख रहे हैं। वहीं सत्यम बेहद डरे हुए नजर आ रहे हैं।

बेगूसराय के एसपी योगेंद्र कुमार ने बताया है कि पीड़ित पिता की शिकायत पर पुलिस सभी एंगल से जाँच कर रही है। सत्यम की बरामदगी के बाद ही यह साफ हो पाएगा कि वह अपनी मर्जी से वहाँ गया था या ​उसके साथ जबर्दस्ती की गई।

वैसे बिहार में पकड़ौआ ब्याह नई बात नहीं है। एसपी योगेंद्र कुमार के अनुसार बेगूसराय में 1970 के दशक में इसकी शुरुआत हुई। इस तरह की शादी बेगूसराय सहित बिहार के कुछ जिलों में बेहद पॉपुलर हैं। हालाँकि समय बदलने के साथ इस प्रथा पर बहुत हद तक रोक भी लगी है, लेकिन अभी भी कभी-कभी इस तरह के मामले सामने आते रहते हैं। 2021 में इसी तरह गया जिले में छठ पूजा पर घर आए एक युवक को अगवा कर उसकी जबरन शादी करा दी गई थी।

गौरतलब है कि 2019 में पटना की फैमिली कोर्ट ने इसी तरह के एक मामले में पकड़ुआ विवाह को अवैध करार दिया था। 2017 में पीड़ित विनोद अपनी दोस्त की शादी में शामिल होने के लिए पटना गया था इसी दौरान उसके साथ मारपीट करके बंदूक की नोक पर जबरदस्ती शादी करवा दी गई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -