Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजअस्पताल में डेंगू बुखार से तप रही थी 22 साल की युवती, वार्ड बॉय...

अस्पताल में डेंगू बुखार से तप रही थी 22 साल की युवती, वार्ड बॉय शोएब ने बनाया हवस का शिकार: CCTV में कैद हुई घटना

इस मामले में पुलिस ने पीड़िता के बयान और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एफआईआर दर्ज कर ली है। पुलिस आरोपित शोएब की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है, अभी वो पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में एक निजी अस्पताल में एक लड़की के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। ये घटना नई मंडी कोतवाली क्षेत्र के नर्सिंग होम की है। जहाँ गुरुवार (26 अक्टूबर, 23) की रात डेंगू से पीड़ित लड़की के साथ शोएब नाम के वार्डबॉय ने छेड़छाड़ की। उसकी ये हरकत सीसीटीवी में भी कैद हो गई। लड़की ने शोर मचाया, तब जाकर इस वारदात का पता चला।

ये मामला नई मंडी कोतवाली क्षेत्र के डॉ. डी. बी गौतम डायबिटीज सेंटर नर्सिंग होम से जुड़ा है। यहाँ डेंगू पीड़ित 22 साल की एक लड़की गुरुवार को भर्ती हुई थी। आरोप है कि इलाज के दौरान गुरुवार रात अस्पताल के वार्ड बॉय शोएब ने उसके साथ छेड़छाड़ की। शोएब की ये घिनौनी करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद भी हुई है।

इस मामले में पुलिस ने पीड़िता के बयान और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एफआईआर दर्ज कर ली है। पुलिस आरोपित शोएब की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है, अभी वो पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।

नई मंडी कोतवाली के सीओ हेमंत कुमार ने बताया कि नई मंडी इलाके डीबी हॉस्पिटल है, यहाँ इलाज के लिए भर्ती हुई लड़की के साथ छेड़छाड़ हुई। उन्होंने बताया कि डॉक्टर साहब के जाने के बाद वार्ड बॉय जिसका नाम शोएब है उसके द्वारा उस युवती से छेड़छाड़ की गई। उन्होंने कहा कि इस मामले में एफआईआर दर्ज कर आवश्यक वैधानिक कार्रवाई की जा रही है।

अस्पताल प्रशासन ने मानी छेड़छाड़ की बात

इस वारदात की जानकारी देते हुए नर्सिंग होम के डॉक्टर डी बी गौतम ने स्वीकार किया कि घटना वहीं की है। उन्होंने कहा कि गुरुवार को हमारे हॉस्पिटल में एक डेंगू के मामले में 20-22 साल कि लड़की भर्ती थी तो जब वह रात के समय सोई हुई थी। जिसके साथ छेड़छाड़ की गई है। उन्होंने बताया कि आरोपित को 2 माह पहले ही काम पर रखा था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NEET-UG विवाद: क्या है NTA, क्यों किया गया इसका गठन, किस तरह से कराता है परीक्षाओं का आयोजन… जानिए सब कुछ

सरकार ने परीक्षाओं के पारदर्शी, सुचारू और निष्पक्ष संचालन को सुनिश्चित करने के लिए विशेषज्ञों की एक उच्च स्तरीय समिति की घोषणा की है

हिंदुओं का गला रेता, महिलाओं को नंगा कर रेप: जो ‘मालाबर स्टेट’ माँग रहे मुस्लिम संगठन वहीं हुआ मोपला नरसंहार, हमें ‘किसान विद्रोह’ पढ़ाकर...

जैसे मोपला में हिंदुओं के नरसंहार पर गाँधी चुप थे, वैसे ही आज 'मालाबार स्टेट' पर कॉन्ग्रेसी और वामपंथी खामोश हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -