Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाज'दलितों की यहाँ शादी नहीं होगी': मेरठ में मैरिज हॉल मालिक रईस अब्बासी ने...

‘दलितों की यहाँ शादी नहीं होगी’: मेरठ में मैरिज हॉल मालिक रईस अब्बासी ने बुकिंग रद्द की, पीड़ित बोले- गाँव में अकेला हिंदू परिवार, जान को खतरा

भाजपा के पार्षद का कहना है कि मंडप के मैनेजर ने कहा कि अगर उसे पता होता कि ये दलित हैं तो वह अपने फार्म की बुकिंग नहीं करता। उन्होंने कहा कि शादी उसी फार्म में होगी, चाहे इसके लिए जो भी करना पड़े। अब पुलिस ने भी स्पष्ट कर दिया है कि प्रतिवादी ने कहा है कि शादी उसके मंडप में ही होगी। इसके साथ ही उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

उत्तर प्रदेश के मेरठ में मैरिज हॉल ने एडवांस पैसे लेने के बावजूद जोड़े की शादी के लिए जगह से इनकार कर दिया। मैरिज हॉल के मालिक को जैसे ही पता चला कि जिनकी शादी हो रही है, वे दलित (वाल्मीकि) हैं तो उसने बुकिंग रद्द कर दी। इसके बाद पुलिस ने मैरिज हॉल के मालिक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। आरोपित का नाम मोहम्मद रईस अब्बासी बताया जा रहा है।

इस मामले को लेकर भाजपा के क्षेत्रीय महामंत्री प्रजापति इंद्रपाल बजरंगी ने ट्वीट किया है। ट्वीट में उन्होंने लिखा, “हम वाल्मीकियों मंडप नहीं देते: यासीन, मंडप मालिक 9 अप्रैल की शादी का मंडप बुक था, रसीद कटी हुई है, लेकिन जाति (वाल्मीकि) पता लगने पर मंडप मालिक यासीन ने मंडप देने से मना किया। इस मंडप और मालिक पर क्यों ना कार्यवाही हो।”

इसके बाद मेरठ पुलिस ने इस पर प्रतिक्रिया दी है। मेरठ पुलिस ने लिखा, “उपरोक्त प्रकरण में मुकदमा पंजीकृत करने के आदेश दिए गए है। प्रतिवादी द्वारा बताया गया है की शादी मंडप में ही कराई जाएगी।”

पीड़ित जयदीप ने इस मामले में शिकायत दी है। अपनी शिकायत में जयदीप ने लिखा है, “मैंने अपनी बहन की शादी के लिए गोल्डन फार्म हाउस को बुक किया था। इसके लिए एडवांस में 10,000 रुपए भी दिए थे। 5 अप्रैल 2023 को फार्म हाउस के मालिक रईस अब्बासी का फोन आया कि बुकिंग रद्द कर दी गई है।”

जयदीप ने अपनी शिकायत में लिखा है कि रईस अब्बासी ने कहा, “तुम्हारी जाति …. (वाल्मिकी) है, इसलिए बुकिंग कैंसिल की जाती है।” इतना ही नहीं, अब्बासी ने जयदीप के साथ जातिसूचक बातें और गाली-गलौच भी कीं और मुकदमा कराने पर परिवार सहित जान से मारने की धमकी भी दी।

जयदीप ने कहा कि वह मेरठ जिले के खरखौंदा थाना स्थित अलीपुर गाँव के रहने वाले हैं। वह उस गाँव में रहने वाले अकेले हिंदू परिवार हैं। उनका कहना है कि अलीपुर में सारे लोग मुस्लिम हैं। इसलिए उन्हें अपनी जान को खतरा है। उन्होंने रईस अब्बासी के खिलाफ कठोर कार्रवाई की माँग की।

दरअसल, जयदीप मेरठ नगर निगम में सफाई कर्मचारी हैं। 9 अप्रैल 2023 को उनकी बहन पिंकी की शादी है। इसके लिए उन्होंने गोल्डन फार्म हाउस को बुक किया था। अब जबकि शादी में चार दिन रह गए तो उसने मना कर दिया। इसके बाद जयदीप अपने समाज के लोगों के पास गए और लोगों के कहने पर एसएसपी को शिकायत दी।

उधर भाजपा के पार्षद का कहना है कि मंडप के मैनेजर ने कहा कि अगर उसे पता होता कि ये दलित हैं तो वह अपने फार्म की बुकिंग नहीं करता। उन्होंने कहा कि शादी उसी फार्म में होगी, चाहे इसके लिए जो भी करना पड़े। अब पुलिस ने भी स्पष्ट कर दिया है कि प्रतिवादी ने कहा है कि शादी उसके मंडप में ही होगी। इसके साथ ही उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

बता दें कि कुछ मीडिया रिपोर्ट में फार्म के मालिक का नाम मोहम्मद यासीन और मैनेजर का नाम रईस अब्बासी बताया जा रहा है। ऑपइंडिया को मिली जयदीप की शिकायती पत्र में गोल्डन फार्म के मालिक का नाम रईस अब्बासी लिखा हुआ है।

रईस अब्बासी के खिलाफ पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 504 एवं 506 के साथ-साथ अनुसूचित जाति एवं जनजाति (नृशंसता निवारण) अधिनियम (SC/ST Act) की धारा 3 (2) (va) के तहत दर्ज किया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -