Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजशादीशुदा रहमान ने ख़ुद को हिन्दू बता लड़की को प्रेम-पाश में फँसाया, दोस्तों संग...

शादीशुदा रहमान ने ख़ुद को हिन्दू बता लड़की को प्रेम-पाश में फँसाया, दोस्तों संग मिल रेप कर नदी में फेंका

सात सितम्बर को जहाँगीरपुर के पुनर्भाबा नदी में लड़की की लाश मिली थी। उसके अधिकतर कपड़े गायब थे। गला रेत कर उसकी हत्या की गई थी और चेहरे पर कई निशानों से पता चला की हत्या से पहले उसके साथ काफ़ी दरिंदगी की गई थी।

क़रीब 1 सप्ताह पहले पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर जिले के गंगरापुर क्षेत्र में नदी में एक युवती की लाश मिली थी। युवती के शरीर पर कपड़े भी ठीक से नहीं थे। इस मामले में 2 आरोपितों को गिरफ़्तार किया गया था। दोनों ही आरोपितों ने युवती का बलात्कार और हत्या करने के आरोपों को स्वीकार कर लिया है। एक आरोपित का नाम मजिदुर रहमान है, जिसने अपनी पहचान पिंटू सरकार बता कर लड़की से प्रेम सम्बन्ध स्थापित किया और अपना मज़हब छिपाया

शनिवार (सितम्बर 7, 2019) को जहाँगीरपुर के पुनर्भाबा नदी में लड़की की लाश मिली थी। उसके अधिकतर कपड़े गायब थे। गला रेत कर उसकी हत्या की गई थी और चेहरे पर कई निशानों से पता चला की हत्या से पहले उसके साथ काफ़ी दरिंदगी की गई थी। कुछ दिनों बाद पता चला कि लड़की का नाम जबा रॉय था। बुधवार (सितम्बर 11, 2019) को मजिदुर रहमान को भारत-बांग्लादेश सीमा से गिरफ़्तार किया गया।

अब यह पता चला है कि मजिदुर न सिर्फ़ पहले से ही शादीशुदा है बल्कि उसने जबा से प्रेम सम्बन्ध बनाने के लिए अपना मज़हब भी छिपाया। मजिदुर एक मेडिकल लेबोरेटरी में काम करता था और उक्त युवती वहीं पर इलाज कराने के लिए आया करती थी। इसी दौरान दोनों में जान-पहचान हुई और वे रिलेशनशिप में आ गए। बाद में जबा गर्भवती हो गई और उसके बाद उसे मजिदुर की सच्चाई पता चली। वह मजिदुर से शादी करने की ज़िद करने लगी लेकिन वह टालता रहा।

6 सितम्बर को उसने युवती को शादी के बारे में बात करने के बहाने से बुलाया और नदी किनारे एक सुनसान जगह पर ले गया। वहाँ उसके दो अन्य साथी पहले से ही इंतजार कर रहे थे। उनमें से एक मजिदुर के साथ ही लेबोरेटरी में काम करता था। वहाँ उन तीनों ने मिल कर युवती के साथ बलात्कार किया और फिर मार कर उसे नदी में फेंक दिया।

मजिदुर के अलावा एक अन्य आरोपित को गिरफ़्तार कर कोर्ट में पेश किया गया, जहाँ से उन्हें पुलिस रिमांड में भेज दिया गया। तीसरा आरोपित अभी भी फरार है। इस घटना के ख़िलाफ़ क्षेत्र में ख़ूब विरोध प्रदर्शन भी हुए। विश्व हिन्दू परिषद सहित अन्य संगठनों ने हाइवे जाम कर विरोध प्रदर्शन किया, जिसके बाद पुलिस की कार्रवाई में कई प्रदर्शनकारी घायल हो गए। कइयों को गिरफ़्तार भी किया गया।

भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी ने पीड़िता के परिवार वालों से मिल कर उन्हें ढाँढस बँधाया। उन्होंने पीड़ित परिवार को आश्वासन दिया कि उन्हें हर प्रकार की क़ानूनी मदद मुहैया कराई जाएगी। क्षेत्र में लोगों की माँग है कि आरोपितों को फाँसी की सज़ा दी जाए। भरी पुलिस बल की तैनाती के कारण शांति है लेकिन इलाक़े में अभी भी तनाव व्याप्त है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,543FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe