Tuesday, September 28, 2021
Homeदेश-समाजनवीन की लाश ट्रॉली बैग में, बीवी मुस्कान ने प्रेमी जमालुद्दीन के साथ मिल...

नवीन की लाश ट्रॉली बैग में, बीवी मुस्कान ने प्रेमी जमालुद्दीन के साथ मिल मार डाला: Tattoo की मदद से सास सहित 7 गिरफ्तार

मुस्कान 22 साल की। उसका प्रेमी जमालुद्दीन (जमाल) 19 साल का। 7 अगस्त की रात मुस्कान जमाल के साथ थी। तभी उसका पति नवीन अचानक से आ गया। जमाल को अपनी बीवी के साथ देख वो गुस्से में मारपीट करने लगा। इसके बाद...

दिल्ली पुलिस ने टैटू की मदद से एक सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा किया है। न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी स्थित सुखदेव विहार के नाले में 10 अगस्त 2021 को एक ट्रॉली बैग में मिले शव की मिस्ट्री को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने इस वारदात को अंजाम देने वाली मृतक की पत्नी मुस्कान (22 वर्ष), उसके प्रेमी मो. जमालुद्दीन उर्फ जमाल (19 वर्ष), सास त्रिजा उर्फ मीनू (48 वर्ष), कौशलेंद्र उर्फ अमन (18 वर्ष), विशाल उर्फ कल्लू (22 वर्ष), विवेक उर्फ बागड़ी (21 वर्ष) और राजकुमार कुमार उर्फ राजपाल उर्फ हेतल (22 वर्ष) को गिरफ्तार कर लिया है।

एक पुलिस अधिकारी ने ऑपइंडिया को बताया कि प्रेम-प्रसंग के चलते पत्नी और उसके प्रेमी ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया। हत्याकांड में शामिल सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

डीसीपी साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट डीसीपी आरपी मीणा ने बताया 10 अगस्त को न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में सुखदेव विहार के पास नाले में पड़े सूटकेस में शव होने की सूचना मिली। पुलिस जब घटनास्थल पर पहुँची, वहाँ उन्हें काले रंग के ट्रॉली बैग में एक लाश मिली। चेहरा सड़ने के कारण उसे पहचान पाना मुश्किल था। पुलिस के पास कोई सुराग नहीं था सिवाय एक टैटू के।

मृतक के शरीर के दाहिने हाथ पर नवीन नाम का टैटू गुदा हुआ था। इससे पुलिस को गुत्थी को सुलझाने में मदद मिली। इसके अलावा उसने दूसरे हाथ में एक कड़ा भी पहना हुआ था। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मृतक की शिनाख्त नवीन (निवासी देवली गाँव, उम्र 24 वर्ष) के तौर पर हुई है। 12 अगस्त को पुलिस स्टेशन नेब सराय में इसके लापता होने की सूचना मिली थी। जाँच में पता चला कि नवीन के लापता होने की रिपोर्ट उसकी पत्नी मुस्कान ने दर्ज कराई गई थी। उसने बताया था कि उसका पति 8 अगस्त से लापता है। लेकिन आश्चर्य यह कि नवीन की पत्नी कुछ दिन पहले ही किराए के कमरे को खाली कर कहीं और चली गई थी।

पुलिस जब उस पते पर पहुँची तो मकान मालिक प्रदीप ने बताया कि मुस्कान अपनी माँ और 2 साल की बेटी के साथ किराए पर रहती थी, लेकिन 11 अगस्त को वह अचानक से कमरा खाली करके चली गई। उससे मिलने के लिए अक्सर एक लड़का भी आता था, जो चश्मा लगाता था। पुलिस ने मुस्कान के मोबाइल नंबर की मदद से उसे तलाश लिया। उसका नाम जमाल था।

इस केस में सबसे पहले पुलिस ने मुस्कान को गिरफ्तार किया। मुस्कान ने बताया 7 अगस्त की रात में वो जमाल के साथ थी। तभी अचानक से नवीन आ गया था। जमाल को अपनी बीवी के साथ देख वो गुस्से में मारपीट करने लगा। इसके बाद जमाल और उसके दोस्तों ने नवीन पर हमला कर उसे मार डाला।

नवीन की हत्या के बाद जमाल ने शव को वॉशरूम में धोया और कमरे से खून साफ किया। सुबह जमाल ने अपने दोस्त राजपाल को शव फेंकने के लिए बुलाया। नवीन, जमाल और उसके साथियों के खून से सने कपड़े दिल्ली के नाले में फेंक दिए। फिर जमाल ही अपने घर से एक ट्रॉली बैग लेकर आया था। उसने शव बैग में पैक कर सुखदेव विहार के नाले में ऑटो से फेंका।

मुस्कान से मिली जानकारी के के बाद पुलिस ने एक एक कर सभी आरोपितों को पकड़ लिया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,827FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe