छात्राओं को देख नईम खान करता था गंदी हरकत, महिला सिपाही ने जूतों से पीट सिखाया सबक: Video वायरल

दुष्कर्म और हत्या की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर यूपी सरकार ने महिला सुरक्षा को लेकर जनपदों की पुलिस प्रशासन को दिशा-निर्देश जारी किए हैं। पुलिस की एंटी रोमियो टीम को काम पर लगाया है।

उत्तरप्रदेश के बिठूर में मंगलवार (दिसंबर 10, 2019) को शनिदेव चौराहे के पास एक महिला सिपाही ने गंदी हरकत करने पर एक मनचले युवक को बीच सड़क पर सबक सिखाया। इस दौरान महिला सिपाही ने जूते से युवक की जमकर पिटाई की। युवक की पहचान नईम खान के रूप में हुई है। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। हर कोई इस सिपाही की तारीफ कर रहा है। मामला तूल पकड़ने पर अफसरों ने अब इसे संज्ञान में लिया है। नईम के ख़िलाफ़ बिठूर थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

जानकारी के अनुसार, दुष्कर्म और हत्या की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर यूपी सरकार ने महिला सुरक्षा को लेकर जनपदों की पुलिस प्रशासन को दिशा-निर्देश जारी किए हैं और पुलिस की एंटी रोमियो टीम को काम पर लगाया है। इसी क्रम में चौराहे पर महिला सिपाही को मनचलों पर नजर रखने के लिए तैनात किया गया था। जहाँ आसपास पर 4-5 स्कूल है और जिधर रोजाना सुबह-दोपहर छात्राओं का आना जाना रहता है। अब ऐसे में मंगलवार की सुबह एक मनचला वहाँ खड़े होकर लड़कियों पर फब्तियाँ कसता और अश्लील गाने गाता दिखा। जिससे तंग आकर कुछ छात्राओं ने सिपाही को इसकी जानकारी दी।

सूचना मिलने के बाद एंटी रोमियो टीम की चंचल चौरसिया नामक महिला सिपाही ने उसे पकड़ लिया। जब समझाने पर भी वो नहीं माना तो पहले चंचल चौरसिया ने उसे थप्पड़ मारे और फिर पैर से जूता निकाल उसे जमकर पीटा। इसी बीच किसी ने इस घटना की वीडियो बना लिया और यह सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इसके बाद अफसरों ने इसे संज्ञान में लिया और कार्रवाई के निर्देश जारी किए गए। एंटी रोमियो टीम इसके बाद मनचले को थाने में ले गई। जहाँ उसने अपनी पहचान नईम खान के रूप में की।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार थाना प्रभारी विनोद कुमार सिंह ने बताया आरोपित नईम मूलरूप से फतेहपुर का रहने वाला है और चमनगंज में रहता है। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जा रहा है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कंगना रनौत, आशा देवी
कंगना रनौत 'महिला-विरोधी' हैं, क्योंकि वो बलात्कारियों का समर्थन नहीं करतीं। वामपंथी गैंग नाराज़ है, क्योंकि वो चाहता है कि कंगना अँग्रेजों के तलवे चाटे और महाभारत को 'मिथक' बताएँ। न्यूज़लॉन्ड्री निर्भया की माँ को उपदेश देकर कह रहा है ये 'न्याय' नहीं बल्कि 'बदला' है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

143,833फैंसलाइक करें
35,978फॉलोवर्सफॉलो करें
163,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: