Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाज'साथ सोना चाहता था कोच, कहा - मेरी बीवी बन जाओ, वरना करियर तबाह...

‘साथ सोना चाहता था कोच, कहा – मेरी बीवी बन जाओ, वरना करियर तबाह कर दूँगा’: महिला साइकिलिस्ट के खुलासे के बाद विदेश से टीम को वापस बुलाया

कोच ने 19 मई को साइकिलिस्ट को ट्रेनिंग के बाद अपने कमरे में मसाज देने के लिए बुलाया। उसको अपनी ओर खींचने की कोशिश करने लगा और कहा कि वह उसके साथ सो जाए।

भारत की टॉप महिला साइकिलिस्ट ने हाल ही में अपने कोच पर सनसनीखेज आरोप लगाया। इसमें कहा गया कि कोच इस महिला खिलाड़ी के साथ सोना चाहता था, अपनी बीवी बनाना चाहता था। साइकिलिस्ट ने आरोप लगाया कि चीफ नेशनल टीम के कोच आरके शर्मा जबरदस्ती उनके रूम में घुस गए और वे ट्रेनिंग के बाद उनको मसाज भी देना चाहते थे। इस दौरान शारीरिक संबंध बनाने की भी ख्वाहिश जारी की।

यह सब चीजें महिला साइकिलिस्ट ने स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (SAI) को एक ईमेल में दर्ज अपनी शिकायत में कही गई हैं। शिकायत में कहा गया है कि शर्मा साइकिलिस्ट को अपनी बीबी के तौर पर देखना चाहता था। जब लड़की नहीं मानी तो कोच ने उसके करियर को खत्म करने की धमकी भी दी। जब साइकिलिस्ट ने कैंप छोड़कर भारत आने की बात की तो शर्मा ने उसके परिवार को फोन लगाया और उसकी शादी करने की बात की और दावा किया कि इस खेल में लड़की का कोई भविष्य नहीं है।

शर्मा अभी भी स्लोवेनिया में भारतीय टीम के बाकी सदस्यों के साथ हैं। वहाँ वे इसी महीने होने वाली एशियन चैंपियनशिप के लिए ट्रेनिंग कैंप को कोच कर रहे हैं। कोच आरके शर्मा 14 जून को लौटेंगे। स्लोवेनिया में आयोजित यह कैंप एशियाई खेलों के लिए तैयारी के लिए था। ट्रैक साइकिलिंग चैंपियनशिप 18 से 22 जून 2022 तक दिल्ली में आयोजित होने वाली है। यह कोच नेशनल टीम के साथ 2014 से शामिल रहा है।

इस मामले की जाँच SAI कर रहा है। इसके अलावा भारत के साइकिल फेडरेशन ने भी शिकायत दर्ज की है और एक कमेटी गठित की है। ‘साइकिल फेडरेशन ऑफ इंडिया’ के महासचिव मनिन्दर पास सिंह ने बताया कि SAI ने सभी खिलाड़ियों के पासपोर्ट माँगे हैं और स्लोवेनिया से दल को वापस बुलाया है।

शिकायत में महिला साइकिलिस्ट ने बताया कि वह स्लोवेनिया में 15 मई से 14 जून तक साइकिलिंग ट्रेनिंग कैंप में जाने के लिए तैयार थी। मगर वहाँ जाने के तीन दिन पहले ही कोच ने फोन कर कहा कि वह स्लोवेनिया में उसके साथ अकेले में होटल का कमरा शेयर करना चाहते हैं। वह कोच की बात को सुनकर काफी परेशान-हैरान थी। लेकिन, ट्रेनिंग भी जरूरी थी जिसके चलते खिलाड़ी ने तय किया कि स्लोवेनिया जाकर अपने रहने का अलग बंदोबस्त करने के लिए अनुरोध करेगी। 

शिकायत के अनुसार, 16 मई को जब खिलाड़ी स्लोवेनिया पहुँची तो वहाँ उन्होंने अलग कमरे की माँग की लेकिन कोच शर्मा ने काफी रुखा बर्ताव किया और कहा कि इससे अच्छा तो वह भारत में ही रह लेती। शिकायतकर्ता के मुताबिक उसकी यह माँग नहीं सुनी गई और उनके पास कोच के रूम में रहने के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचा। इसके बाद टीम के सपोर्ट स्टाफ SAI के सीनियर अधिकारियों के संज्ञान में मामला पहुँचाया। जिसके बाद उनके लिए तुरंत एक अलग कमरे का इंतजाम किया गया। 

हालाँकि इन सब से कोच बड़ा परेशान हो गया और उसने लड़की का करियर तबाह करने की धमकी दी। कोच ने कहा कि वह खिलाड़ी को नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस (NCOE) से हटा देगा और सड़क पर सब्जी बेचने के लिए मजबूर कर देगा। शिकायत के अनुसार, कोच ने 19 मई को साइकिलिस्ट को ट्रेनिंग के बाद अपने कमरे में मसाज देने के लिए बुलाया। हालाँकि, खिलाड़ी ने इसे नजरअंदाज कर दिया। इसके बाद 25 मई को, साइकिल चालक को लड़कों की टीम के साथ एक कार्यक्रम के लिए जर्मनी जाना था, लेकिन शर्मा यह दावा करते हुए उन्हें साथ नहीं ले गए कि कोई अतिरिक्त कमरा नहीं था।

शिकायत में आगे बताया गया है जो 29 मई को हुआ। तब कोच ने जर्मनी से वापस आने के बाद सुबह 7:00 बजे लड़की के कमरे का दरवाजा खटखटाया और जबरदस्ती उसके कमरे में घुसने की कोशिश करने लगा। उसके बाद भी वह लड़की के बेड पर लेटने की कोशिश करने लगा और जब शिकायतकर्ता नहीं मानी तो कोच उसको अपनी ओर खींचने की कोशिश करने लगा और कहा कि वह उसके साथ सो जाए।

कोच ने यह भी कहा कि अब लड़की को उसकी बीवी की तरह बर्ताव करना चाहिए क्योंकि वो उसको बहुत पसंद करता है और अपनी बीवी के तौर पर ही उसको अपने जीवन में चाहता है। लड़की इस दौरान लगातार रोती रही और कोच से गुहार लगाती रही कि वह कमरा छोड़कर चला जाए। लड़की बहुत डरी हुई थी, उसको अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित थी। इसके बाद इस घटना के बारे में लड़की ने स्पोर्ट्स मनोवैज्ञानिक को बताया। 

इन सब घटनाओं के बाद लड़की की दिमागी हालत ऐसी नहीं थी कि वह ट्रेनिंग कर पाती, इसलिए उन्होंने कमरा छोड़ने का फैसला किया और टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम (TOPS) के सीईओ पुष्पेंद्र गर्ग को इस बारे में जानकारी दी। इसके बाद उन्होंने 3 जून की टिकट करवाई और लड़की को भारत वापस लाया गया। इस पूरी अवधि के दौरान SAI के अधिकारी और एथलीट रिलेशनशिप मैनेजर लड़की के संपर्क में रहे। लड़की ने आर के शर्मा के खिलाफ सबसे कड़े कदम उठाने की माँग की है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -