Friday, August 6, 2021
Homeदेश-समाजPM नरेंद्र मोदी को विश्वभर के नेताओं से मिलीं बधाईयाँ, जानिए किसने क्या कहा

PM नरेंद्र मोदी को विश्वभर के नेताओं से मिलीं बधाईयाँ, जानिए किसने क्या कहा

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने प्रधानमंत्री मोदी के साथ मिलकर भारत-चीन संबंधों को आगे ले जाने की बात कही।

विश्व भर के नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाइयाँ और शुभकामनाएँ देनी शुरू कर दी हैं। पड़ोसी देश श्री लंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना ने कहा कि जनता ने मोदी के नेतृत्व पर फिर से भरोसा जताया है और वे आगे भी भारत के साथ काम करने के लिए और रिश्तों को प्रगाढ़ करने के लिए तैयार हैं।

इस्राएल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्यहू ने पीएम मोदी को लिखा:

भूटान के प्रधानमंत्री ने भी पूरे भूटान की तरफ से बधाई देते हुए कहा कि वे उनके नेतृत्व में भारत के आगे बढ़ने की कामना करते हैं।

मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद सोलीह ने इस जीत को ऐतिहासिक बताते हुए पीएम मोदी को बधाई दी।

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने भी पीएम मोदी के साथ मिलकर भारत-चीन संबंधों को आगे ले जाने की बात कही।

पुर्तगाल के प्रधानमंत्री अंटोनिओ कोस्टो ने प्रधानमंत्री को बधाई देते हुए कहा कि वो भारत-पुर्तगाल संबंधों को नए सिरे पर ले जाने का हरसंभव प्रयास करेंगे।

https://platform.twitter.com/widgets.js

अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति गनी ने कहा कि उनके देश के लोग भारत से संबंधों को आगे बढ़ने के लिए भारत के साथ मिल कर काम करते रहेंगे और दोनों लोकतंत्र के रिश्ते सही होंगे।

नेपाल के नेता के पी शर्मा ओली ने भी प्रधानमंत्री को बधाई दी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान में गणेश मंदिर तोड़ने पर भारत सख्त, सालभर में 7 मंदिर बन चुके हैं इस्लामी कट्टरपंथियों का निशाना

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में मंदिर तोड़े जाने के बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान के शीर्ष राजनयिक को तलब किया है।

अफगानिस्तान: पहले कॉमेडियन और अब कवि, तालिबान ने अब्दुल्ला अतेफी को घर से घसीट कर निकाला और मार डाला

अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने भी अब्दुल्ला अतेफी की हत्या की निंदा की और कहा कि अफगानिस्तान की बुद्धिमत्ता खतरे में है और तालिबान इसे ख़त्म करके अफगानिस्तान को बंजर बनाना चाहता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,173FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe