Tuesday, May 17, 2022
Homeदेश-समाजआगरा में बन रहे मुगल संग्रहालय का नाम छत्रपति शिवाजी के नाम रखने पर...

आगरा में बन रहे मुगल संग्रहालय का नाम छत्रपति शिवाजी के नाम रखने पर उनके वंशज ने की CM योगी की सराहना

CM योगी आदित्यनाथ ने आगरा में 141 करोड़ रुपए में बन रही मुगल संग्रहालय का नाम बदलने का फैसला करते हुए यह ऐलान किया था कि संग्रहालय अब छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम से जाना जाएगा। यह निर्णय पिछले साल आगरा मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में लिया गया था।

छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज भाजपा सांसद उदयनराजे भोसले ने आगरा में निर्माणाधीन मुगल संग्रहालय का नाम छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर रखने के लिए उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को उपहार देते हुए उनके फैसले की सराहना की है। वहीं भाजपा सांसद ने इसका वीडियो अपने ट्विटर एकाउंट पर भी शेयर किया है।

योगी आदित्यनाथ ने 14 सितंबर 2020 को आगरा में 141 करोड़ रुपए में बन रही मुगल संग्रहालय का नाम बदलने का फैसला करते हुए यह ऐलान किया था कि संग्रहालय अब छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम से जाना जाएगा। यह निर्णय पिछले साल आगरा मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में लिया गया था।

योगी आदित्यनाथ के हवाले से एक प्रेस बयान में कहा गया था, “मुगल हमारे नायक कैसे हो सकते हैं? इसकी जगह शिवाजी का नाम राष्ट्रवाद और आत्मसम्मान की भावना को बढ़ावा देगा।”

सरकारी प्रवक्ता ने कहा कि सीएम योगी ने यह स्पष्ट किया कि उत्तर प्रदेश सरकार राष्ट्रवादी विचारों को पोषित करने वाली है। गुलामी की मानसिकता के प्रतीक चिन्हों को छोड़, राष्ट्र के प्रति गौरवबोध कराने वाले विषयों को बढ़ावा देने की आवश्यकता है।

हालाँकि, आगरा में मुगल संग्रहालय का नाम छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम से बदलने पर सपा और कॉन्ग्रेस के नेताओं ने सीएम योगी आदित्यनाथ की काफी आलोचना की थी।

गौरतलब है कि आगरा में मुगल संग्रहालय की आधारशिला जनवरी 2016 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रखी थी। जब यह पूरा हो जाएगा, तो यह आगरा का चौथा संग्रहालय होगा, जिसमें शहर के सभी ऐतिहासिक स्मारकों का मॉडल रखा जाएगा।

विभिन्न युगों के अनुसार आगरा के डिजिटल मानचित्र भी विभिन्न उत्खनन स्थलों के विवरण के साथ संग्रहालय में रखे जाएँगे। इसमें महाभारत काल के साथ-साथ मुगल बादशाह अकबर के अधीन आगरा का पौराणिक ‘आगरा वन’ भी शामिल होगा। इसके अलावा आगरा के हस्तशिल्प को भी संग्रहालय में प्रदर्शित किया जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभिनेत्री के घर पहुँची महाराष्ट्र पुलिस, लैपटॉप-फोन सहित कई उपकरण जब्त किए: पवार पर फेसबुक पोस्ट, एपिलेप्सी से रही हैं पीड़ित

अभिनेत्री ने फेसबुक पर 'ब्राह्मणों से नफरत' का आरोप लगाते हुए 'नर्क तुम्हारा इंतजार कर रहा है' - ऐसा लिखा था। हो चुकी हैं गिरफ्तार। अब घर की पुलिस ने ली तलाशी।

जिसे पढ़ाया महिला सशक्तिकरण की मिसाल, उस रजिया सुल्ताना ने काशी में विश्वेश्वर मंदिर तोड़ बना दी मस्जिद: लोदी, तुगलक, खिलजी – सबने मचाई...

तुगलक ने आसपास के छोटे-बड़े मंदिरों को भी ध्वस्त कर दिया और रजिया मस्जिद का और विस्तार किया। काशी में सिकंदर लोदी और खिलजी ने भी तबाही मचाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,285FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe