शिवकुमार के ख़िलाफ़ 200 शिकायतें, कर्नाटक महिला कॉन्ग्रेस की पूर्व अध्यक्ष को भी ED का समन

शिवकुमार की बेटी से पूछताछ कर चुकी ईडी ने अब कर्नाटक कॉन्ग्रेस की विधायक लक्ष्मी हेब्बालकर को तलब किया है। वे शिवकुमार की करीबी मानी जाती हैं। उन्हें अब तक कई समन भेजे जा चुके हैं।

कॉन्ग्रेस नेता डीके शिवकुमार की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। मनी लॉन्ड्रिंग और वित्तीय गड़बड़ियों में फँसे शिवकुमार के ख़िलाफ़ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को अब तक 200 से भी अधिक शिकायतें मिल चुकी हैं। ये शिकायतें पैसों के अवैध लेनदेन और वित्तीय अनियमितताओं से सम्बंधित है। अलग-अलग लोगों ने उनके ख़िलाफ़ कई शिकायतें भेजी हैं और ईडी उन मामलों की जाँच में जुट गई है। प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि शिकायतों की जाँच कर उनकी वैधता की पुष्टि की जा रही है।

इनमें से कई शिकायतकर्ता एक हाउसिंग प्रोजेक्ट के निवेशक हैं, जिन्होंने कहा है कि उनका सारा रुपया डूब गया। इसके अलावा कई अन्य किस्म के आरोप भी हैं। इनकम टैक्स द्वारा दायर की गई चार्जशीट के आधार पर ईडी शिवकुमार के ख़िलाफ़ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला चला रही है। ये मामले टैक्स चोरी और हवाला लेनदेन से सम्बंधित है। कई करोड़ की वित्तीय अनियमितताओं के इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने कर्नाटक कॉन्ग्रेस के एक अन्य विधायक को भी समन जारी किया है।

विधायक लक्ष्मी हेब्बालकर को इससे पहले भी ईडी ने समन जारी किया था, लेकिन वह एजेंसी के समक्ष पेश नहीं हुईं। वह कर्नाटक प्रदेश महिला कॉन्ग्रेस की अध्यक्ष भी रह चुकी हैं। उन्हें अब तक कई समन भेजे जा चुके हैं, जिनमें ईडी ने उन्हें जाँच में सहयोग करने के लिए कहा है। विधायक लक्ष्मी हेब्बालकर को कर्नाटक में कॉन्ग्रेस के कद्दावर नेता डीके शिवकुमार का क़रीबी माना जाता है। इसी मामले में शिवकुमार की बेटी से भी ईडी पूछताछ कर चुकी है। उनसे 7 घंटे तक पूछताछ की गई है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

डीके शिवकुमार के एक अन्य क़रीबी सहयोगी सचिन नारायण से भी पूछताछ की गई। ईडी का कहना है कि शिवकुमार के विभिन्न देशों में 317 बैंक खाते हैं, जिनका इस्तेमाल 200 करोड़ से भी अधिक रुपयों की मनी लॉन्ड्रिंग के लिए किया गया। ईडी का आरोप है कि शिवकुमार और उनके परिवार ने ये सब कर के 800 करोड़ रुपए से भी अधिक की संपत्ति बनाई। फिलहाल वह न्यायिक हिरासत में हैं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

उन्नाव गैंगरेप, यूपी पुलिस, कांग्रेस
यूपी में कॉन्ग्रेसी भी योगी सरकार के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करते हुए सड़कों पर निकल गए। लेकिन उत्तर प्रदेश विधानसभा के बाहर कॉन्ग्रेस के झंडे लेकर पहुँचे कार्यकर्ताओं ने तब भागना शुरू कर दिया, जब यूपी पुलिस ने लाठियों से उन्हें जम कर पीटा। सोशल मीडिया पर इसका वीडियो भी वायरल हो गया।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

117,585फैंसलाइक करें
25,871फॉलोवर्सफॉलो करें
126,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: