Tuesday, May 17, 2022
Homeराजनीति'₹21 करोड़ में केजरीवाल और सिसोदिया ने बेचा टिकट': लाल बहादुर के पोते भी...

‘₹21 करोड़ में केजरीवाल और सिसोदिया ने बेचा टिकट’: लाल बहादुर के पोते भी बेटिकट

आप ने 46 मौजूदा विधायकों पर दोबारा भरोसा जताया है। 24 सीटों पर नए चेहरे उतारे हैं। सूची में अब्दुल रहमान समेत कई विवादित चेहरों के नाम शामिल हैं। बाहरियों को मौका मिलने से पार्टी में बगावती सुर भी तेज हो गए हैं।

आम आदमी पार्टी ने केजरीवाल सरकार के पॉंच साल के कामकाज के आधार पर दिल्ली विधानसभा का चुनाव लड़ने का ऐलान कर रखा है। लेकिन, उम्मीदवारों की लिस्ट देखकर ऐसा लगता है कि पार्टी को अपने पुराने वफादारों पर भी भरोसा नहीं है। 70 सदस्यीय विधानसभा चुनाव के लेकर आप ने मंगलवार को उम्मीदवारों का ऐलान किया था। 15 विधायकों को बेटिकट कर पार्टी ने 5 ऐसे चेहरों पर दॉंव लगाया है जो उम्मीदवारों की सूची जारी होने से 24 घंटे पहले ही पार्टी में शामिल हुए थे। इनमें कॉन्ग्रेस के पूर्व सांसद महाबल मिश्रा के बेटे विनय मिश्रा भी हैं। उन्हें द्वारका से आप ने उम्मीदवार बनाया है। यहॉं से पिछला चुनाव आप के टिकट पर पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के पोते आदर्श शास्त्री जीते थे।

विनय के अलावा राजकुमारी ढिल्लो, नवीन चौधरी (दीपू), जय भगवान और राम सिंह नेताजी भी अंतिम क्षणों में झाड़ू थाम आप का टिकट पाने में कामयाब रहे हैं। राम सिंह नेताजी को बदरपुर के विधायक एनडी शर्मा का टिकट काट कर आप ने मैदान में उतारा है। शर्मा ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री अ​रविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 21 करोड़ रुपए लेकर राम सिंह को टिकट दिया है। उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान करते हुए आप को देश की सबसे भ्रष्ट पार्टी करार दिया है।

दिल्ली में 8 फरवरी को वोट डाले जाएँगे। आप ने 46 मौजूदा विधायकों पर दोबारा भरोसा जताया है। 24 सीटों पर नए चेहरे उतारे हैं। इनमें 15 सीट उन विधायकों की है, जिनके टिकट काटे गए। 5 वो सीटें हैं, जो विधायकोंं की सदस्यता रद्द होने से खाली हुई और शेष 4 वो सीटें है, जिनपर फिलहाल भाजपा का कब्जा है। आप ने इस बार 8 महिला और 7 अल्पसंख्यक उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है।

मंगलवार को जारी सूची के मुताबिक अरविंद केजरीवाल इस बार भी नई दिल्ली सीट से ही मैदान में उतरे हैं। 24 सीटों पर बाहरी चेहरों को मौका मिलने के बाद आप में बगावत भी तेज हो गई है। बदरपुर विधायक शर्मा के अलावा सीलमपुर के विधायक हाजी इशराक और दिल्ली कैंट के MLA कमांडो सुरेंद्र ने विरोध जताया है।

नवभारत टाइम्स में प्रकाशित खबर

यहाँ बता दें कि आम आदमी पार्टी की इस सूची में अब्दुल रहमान समेत कई विवादित चेहरों के नाम शामिल हैं। जो पार्टी से बाद में जुड़े और पार्टी में रहते हुए विवादों में घिरे रहे। लेकिन, बावजूद इसके कहा जा रहा था कि पार्टी ने हर टिकट का पैमाना जीतने वाला प्रत्याशी रखा है। खबरों के मुताबिक उन्होंने सर्वे में कमजोर सीटों पर विधायकों को टिकट नहीं दिया है। इन सीटों पर दूसरे दलों के नेताओं को ही टिकट दिया है।

किसका कहाँ से कटा टिकट?

हिंदुस्तान में प्रकाशित खबर

CM केजरीवाल की तुलना नपुंसक से! चुनाव से एक महीने पहले शशि थरूर ने क्यों की ऐसी बात?

NDTV का टाउनहॉल: AAP नेताओं ने आम आदमी बन केजरीवाल की तारीफ़ों के बाँधे पुल

आपके लिए दवा-दारू का इंतजाम कर दिया… नहीं, दारू का नहीं किया है: केजरीवाल ने की गलती से मिस्टेक

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वायरल वीडियो में ट्विटर इंजीनियर ने कबूला ‘वामपंथी’ है ये प्लेटफॉर्म, केवल राइट विंग वालों को करता है सेंसर: एलन मस्क की फ्री स्पीच...

ट्विटर के एक वरिष्ठ इंजीनियर को यह स्वीकार किया है कि ट्विटर पर कैसे वामपंथियों के कब्जे में है और यह दक्षिणपंथी एकाउंट्स पर कैसे शिकंजा कसता है।

किच्चा सुदीप की ‘विक्रांत रोणा’ को हिंदी में प्रेजेंट करेंगे सलमान खान, बताया सबसे बड़ा 3D अनुभव: कन्नड़ अभिनेता ने कहा था – हिंदी...

हिंदी को राष्ट्रीय भाषा नहीं बताकर विवाद को जन्म देने वाले किच्चा सुदीप की फिल्म ‘विक्रांत रोणा’ के लिए सलमान खान ने अपना हाथ आगे बढ़ाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,366FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe