Wednesday, July 6, 2022
Homeराजनीतिजामिया दंगों में जो मिन्हाजुद्दीन हुआ घायल, उसे AAP विधायक अमानतुल्लाह ने दिया ...

जामिया दंगों में जो मिन्हाजुद्दीन हुआ घायल, उसे AAP विधायक अमानतुल्लाह ने दिया ₹5 लाख और सरकारी नौकरी

दंगों में घायल हुए 26 वर्षीय छात्र का नाम मिन्हाजुद्दीन है। यह जामिया में एलएलएम के फाईनल ईयर का छात्र है। वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष और AAP विधायक ने खुद उससे उसके घर जाकर मुलाकात की और...

नागरिकता संशोधन कानून के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन के दौरान भड़की हिंसा में जामिया मिलिया इस्लामिया के एक छात्र को चोट लगी। रिपोर्ट के अनुसार उसके एक आँख की रोशनी चली गई है। इसके बाद आम आदमी पार्टी के विधायक और वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष अमानतुल्लाह खान ने घायल लड़के मिन्हाजुद्दीन को 5 लाख रुपए का चेक दिया और वक्फ बोर्ड में लीगल असिसटेंट के पद पर नौकरी देने का ऐलान भी किया

दंगों में घायल हुए 26 वर्षीय छात्र का नाम मिन्हाजुद्दीन है। यह जामिया में एलएलएम के फाईनल ईयर का छात्र है। वक्फ बोर्ड के अध्यक्षऔर AAP विधायक ने खुद उससे उसके घर जाकर मुलाकात की। यहाँ अमानतुल्लाह खान ने मिन्हाजुद्दीन को आर्थिक सहायता देने के लिए 5 लाख रुपए का चेक सौंपा और साथ ही उसे जॉब का ऑफर लेटर दिया।

हालाँकि, विश्वविद्यालय की कुलपति नज्मा अख्तर पहले ही इस बात का ऐलान कर चुकी हैं कि प्रदर्शन के दौरान घायल छात्रों के इलाज का खर्चा विश्वविद्यालय उठाएगा, लेकिन उसके बाद भी अमानतुल्लाह की ओर से मिन्हाजुद्दीन को मदद पहुँचाना केजरीवाल सरकार की नीयत पर सवाल खड़ा कर रहा है… सोशल मीडिया पर इस ऐलान के बाद अमानतुल्लाह समेत पूरी AAP सरकार को घेरा जा रहा है।

सोशल मीडिया पर विधायक अमानतुल्लाह के इस कदम पर लोग सवाल उठ रहे हैं। लोग इसे राष्ट्रविरोधी कदम बता रहे हैं और पूछ रहे हैं कि केजरीवाल सरकार की यह कैसी नीति है?

जामिया हिंसा पर FIR: कॉन्ग्रेस का पूर्व MLA आसिफ खान भी था शामिल, दंगाइयों के साथ छात्रों ने भी की पत्थरबाजी

कत्लेआम और 1 लाख हिन्दुओं को घर से भगाने वाले का समर्थन: जामिया की Shero और बरखा दत्त की हकीकत

जामिया नगर से गिरफ्तार हुए 10 लोगों का पहले से है आपराधिक रिकॉर्ड, पुलिस ने नहीं चलाई एक भी गोली

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अभिव्यक्ति की आज़ादी सिर्फ हिन्दू देवी-देवताओं के लिए क्यों?’: सत्ता जाने के बाद उद्धव गुट को याद आया हिंदुत्व, प्रियंका चतुर्वेदी ने सँभाली कमान

फिल्म 'काली' के पोस्टर में देवी को धूम्रपान करते हुए दिखाया गया है। जिस पर विरोध जताते हुए शिवसेना ने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता हिंदू देवताओं के लिए ही क्यों?

‘किसी और मजहब पर ऐसी फिल्म क्यों नहीं बनती?’: माँ काली का अपमान करने वालों पर MP में होगी कार्रवाई, बोले नरोत्तम मिश्रा –...

"आखिर हमारे देवी देवताओं पर ही फिल्म क्यों बनाई जाती है? किसी और धर्म के देवी-देवताओं पर फिल्म बनाने की हिम्मत क्यों नहीं हो पाती है।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,883FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe