Tuesday, August 3, 2021
Homeराजनीति'अधीर रंजन चौधरी को माफी माँगनी ही पड़ेगी': मोदी-शाह को बताया था घुसपैठिया

‘अधीर रंजन चौधरी को माफी माँगनी ही पड़ेगी’: मोदी-शाह को बताया था घुसपैठिया

अधीर रंजन चौधरी इससे पहले भी कई विवादित बयान दे चुके हैं। हाल ही में जम्मू-कश्मीर का दौरा करने वाले यूरोपीय यूनियन के सदस्यों को उन्होंने “किराए का टट्टू” कहा था। यहॉं तक कि कश्मीर को भी अंतरराष्ट्रीय मसला भी बता चुके हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को घुसपैठिया बताने वाले बयान को लेकर लोकसभा में कॉन्ग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी की मुश्किले बढ़ गई है। संसदीय कार्य मंत्री प्रहृलाद जोशी ने कहा कि उन्हें बिना शर्त तत्काल माफी मॉंगनी पड़ेगी। बीजेपी ने इस बयान पर कड़ी आपत्ति जताई है।

बता दें कि अधीर रंजन चौधरी ने एनआरसी मुद्दे को लेकर विवादित टिप्पणी करते हुए कहा था, “हिंदुस्तान सबके लिए है। ये हिंदुस्तान किसी की जागीर है क्या? सबका समान अधिकार है। अमित शाह, नरेंद्र मोदी खुद घुसपैठिए हैं। घर गुजरात है और दिल्ली आ गए। वे खुद माइग्रेंट हैं।” इससे पहले अमित शाह ने कहा था कि एनआरसी को पूरे देश में लागू किया जाएगा।

कॉन्ग्रेस नेता ने पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा था, “वे दिखाना चाहते हैं कि मुस्लिमों को भगाएँगे। मुस्लिम को भगाने की उनकी हिम्मत नहीं है। मुस्लिम हमारे देश का नागरिक है, भागेगा क्यों? हिंदुस्तान सबके लिए है, हिंदू के लिए है, मुस्लिम के लिए है। गंगा-जमुनी तहजीब का हिंदुस्तान है। हिंदुस्तान सबके सहयोग से बना है, लेकिन वे दिखाना चाहते हैं कि हम हिंदू को रखेंगे और मुस्लिमों को भगा देंगे।”

उल्लेखनीय है कि अधीर रंजन चौधरी इससे पहले भी कई विवादित बयान दे चुके हैं। हाल ही में जम्मू-कश्मीर का दौरा करने वाले यूरोपीय यूनियन के सदस्यों को उन्होंने “किराए का टट्टू” कहा था। कई सांसदों ने अधीर रंजन के इस बयान का विरोध किया था। लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने भी अधीर रंजन के इस बयान को जाँचने की बात कहते हुए कहा था कि ज़रूरत पड़ी तो इसे लोकसभा कार्रवाई के रिकॉर्ड से हटा दिया जाएगा। इतना ही नहीं, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर लोकसभा में बहस के दौरान उन्होंने इसे अंतरराष्ट्रीय मसला तक बता दिया था।

अधीर रंजन ने संसद सत्र के पहले ही दिन दिया विवादित: कॉन्ग्रेस की हुई फजीहत

चिदंबरम का क्या बड़ा हो गया है? अधीर रंजन ने प्रयोग किया ‘लीगल शब्द’ तो सोशल मीडिया ने पूछे सवाल

गाँधी-नेहरू नाम काफी नहीं, क्षेत्रीय दलों के मरने पर ही जिंदा होगी कॉन्ग्रेस: अधीर रंजन चौधरी

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

टोक्यो ओलंपिक सेमीफाइनल: बेल्जियम से हारी भारतीय हॉकी टीम, 41 साल बाद सोने का ख्वाब टूटा

भारतीय हॉकी टीम का मुकाबला टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में बेल्जियम के साथ हुआ। बेल्जियम ने भारत को 5-2 से हराया और फाइनल में पहुँच गई।

सागर धनखड़ मर्डर केस में सुशील कुमार मुख्य आरोपित: दिल्ली पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ फाइल की 170 पेज की चार्जशीट

दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल की है। सुशील कुमार को मुख्य आरोपित बनाया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,708FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe