Friday, June 14, 2024
Homeराजनीति'रोहिंग्या पर कार्रवाई करता हूँ तो यही लोग हायतौबा मचाते हैं': हैदराबाद में बोले...

‘रोहिंग्या पर कार्रवाई करता हूँ तो यही लोग हायतौबा मचाते हैं’: हैदराबाद में बोले अमित शाह- समाप्त करेंगे निजाम संस्कृति

"हैदराबाद को नवाब-निजाम कल्चर से मुक्त कराते हुए इसे आधुनिक शहर बनाना चाहते हैं। हैदराबाद को डायनेस्टी से डेमोक्रेसी की ओर ले जाना चाहते हैं। भ्रष्टाचार से पारदर्शिता की ओर ले जाना चाहते हैं। तुष्टिकरण से विकास की ओर ले जाना चाहते हैं।"

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रोहिंग्या समुदाय को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने यहाँ प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ओवैसी पर निशाना साधते हुए कहा कि रोहिंग्या समुदाय पर जब वह कार्रवाई करते हैं तो ये लोग (विपक्षी दल) हायतौबा करते हैं। उन्होंने कहा कि विपक्षी दल एक बार लिखकर दें कि बांग्लादेशी और रोहिंग्या को निकाल दें, फिर मैं कुछ करता हूँ। उन्होंने कहा कि सिर्फ चुनाव में बात करके कुछ नहीं होता। जब पार्लियामेंट में बहस होती है तब ये क्या करते हैं सारे देश ने देखा है।

परिवारवाद पर निशाना

शाह ने राजनीतिक पार्टियों में परिवारवाद पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि वह हैदराबाद को नवाब-निजाम कल्चर से मुक्त कराते हुए इसे आधुनिक शहर बनाना चाहते हैं। हैदराबाद को डायनेस्टी से डेमोक्रेसी की ओर ले जाना चाहते हैं। भ्रष्टाचार से पारदर्शिता की ओर ले जाना चाहते हैं। तुष्टिकरण से विकास की ओर ले जाना चाहते हैं। हैदराबाद का एक बड़ा हिस्सा है, जो खुद को अपमानित महसूस करता है। हम ऐसी व्यवस्था बनाना चाहते हैं कि किसी की भी हिम्मत नहीं होगी, उन्हें दोयम दर्जे का बनाए।

अमित शाह ने कहा कि हम हैदराबाद को नवाब और निजाम संस्कृति से मुक्त करेंगे और यहाँ मिनी इंडिया बनाएँगे। शाह ने कहा कि हम हैदराबाद को मॉर्डन शहर बनाना चाहते हैं, जो कि निजाम संस्कृति के बंधनों से मुक्त होगा।

गृह मंत्री ने कहा कि आईटी सेक्टर में निवेश से हैदराबाद को बहुत फायदा हो रहा है। पीएम मोदी ने युवाओं के लिए बहुत सारे अवसर पैदा किए हैं और यह विदेशी निवेशकों द्वारा भारत में दिखाए गए विश्वास को दर्शाता है। शाह ने कहा कि पीएम मोदी ने ‘वर्क फ्रॉम एनिवेयर’ का रास्ता खोला। इस कदम से हैदराबाद में काम कर रहे आईटी प्रोफेशनल्स को सबसे ज्यादा फायदा पहुँचेगा।

मौजूदा कॉरपोरेशन विकास में रोड़ाः शाह

शाह ने कहा कि हैदराबाद में आईटी हब बनने की बहुत संभावना है, लेकिन यह तब बनता है जब इसके अनुरूप इन्फ्रास्ट्रक्चर हो। यह बनाने का जिम्मा नगर निकाय होता है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार से इसके लिए अनुदान मिलता है, लेकिन इसका क्रियान्वयन नगर निकाय द्वारा होता है। जिस प्रकार हैदराबाद में म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन चल रहा है वह आईटी हब बनने का रोड़ा है। उन्होंने केसीआर पर हैदराबाद की जनता के साथ किया वादा नहीं निभाने का आरोप लगाया। साथ ही मोदी सरकार की उपलब्धियाँ गिनाईं।

अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हैदराबाद को मेडिकल कॉलेज की सौगात दी। शाह ने कहा कि हैदराबाद के लोग बदलाव चाहते हैं। भाजपा के सत्ता में आने के बाद हम हैदराबाद को बाढ़ मुक्त शहर बनाएँगे। उन्होंने कहा कि भाजपा हैदराबाद में आईटी हब बनाएगी जिससे कि शहर में रोजगार के अवसर खुलें। उन्होंने कहा कि बीजेपी जो कहती है वह करती है। शाह ने कहा कि केंद्र ने हैदराबाद को बचा लिया।

अमित शाह ने कहा कि बारिश में शहर में पानी भरने से करीब 60 लाख लोग परेशान हुए। मजलिस के इशारों पर अवैध निर्माण होता है, इससे पानी की निकासी रुकती है। उन्होंने हैदराबाद की जनता को विश्वास दिलाया कि सारे अवैध निर्माण को हटाकर पानी की निकासी सुचारू करेंगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

अब तक की सबसे अधिक ऊँचाई पर पहुँचा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, उधर कंगाली की ओर बढ़ा पाकिस्तान: सिर्फ 2 महीने का बचा...

एक तरफ पाकिस्तान लगातार बर्बादी की कगार पर पहुँच रहा है, तो दूसरी तरफ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार बढ़ता जा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -