Saturday, July 2, 2022
Homeराजनीतिअसम CM की पत्नी ने मनीष सिसोदिया पर किया ₹100 करोड़ की मानहानि का...

असम CM की पत्नी ने मनीष सिसोदिया पर किया ₹100 करोड़ की मानहानि का मुकदमा: दान में दिए PPE किट में लगाया था भ्रष्टाचार का इल्जाम

मनीष सिसोदिया AAP के पहले सीनियर नेता नहीं हैं, जिन पर भ्रष्टाचार के निराधार आरोपों के लिए मानहानि का मुकदमा हुआ है। इससे पहले केजरीवाल ऐसे मामलों में भाजपा नेताओं से माफी माँग चुके हैं।

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और AAP नेता मनीष सिसोदिया के खिलाफ 100 करोड़ रुपए की मानहानि का मुकदमा दायर किया गया है। यह मुकदमा असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा की पत्नी रिंकी सरमा ने किया है। सिसोदिया ने कोविड महामारी के दौरान असम में पीपीई किट की खरीद में भ्रष्टाचार का आरोप सरमा पर लगाया था।

इस विवाद की शुरुआत वामपंथी प्रोपगेंडा पोर्टल द वायर की एक रिपोर्ट से हुई थी। इसमें आरोप लगाया गया था कथित तौर पर रिंकी भुयान सरमा के मालिकाना हक वाली वाली एक कपंनी को कोरोना से निपटने के लिए पीपीई किट और दूसरे कोविड से जुड़े सामानों की आपूर्ति का ऑर्डर मिला था। तब सर्बानंद सोनोवाल असम के मुख्यमंत्री और हिमंता बिस्वा सरमा राज्य के स्वास्थ्य मंत्री थे। रिपोर्ट में कहा गया था कि सरमा की पत्नी की कंपनी को बिना किसी अनुभव के ही 5000 पीपीई किट, मेडिकल उपकरण और अन्य सुरक्षा सामानों की आपूर्ति का ऑर्डर दिया गया था। इसी रिपोर्ट को आधार बनाकर सिसोदिया ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था। हालाँकि, रिंकी सरमा ने तुरंत ही आरोपों का खंडन करते हुए कहा था उन्होंने मानवता के नाते बिना एक पैसा लिए पीपीई किट की मुफ्त आपूर्ति की थी।

इसके बावजूद सिसोदिया ने असम के सीएम सरमा और उनकी पत्नी पर हमला जारी रखा। सिसोदिया ने अपने आरोपों के ‘सबूत’ के रूप में ‘रद्द किए गए खरीद आदेश’ की एक तस्वीर ट्वीट की। इसके बाद हिमंत बिस्वा सरमा ने सिसोदिया सिसोदिया को आपराधिक मानहानि का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा था। अब रिंकी सरमा ने इसी मामले को लेकर आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर किया है।

बता दें कि मनीष सिसोदिया AAP के पहले सीनियर नेता नहीं हैं, जिन पर भ्रष्टाचार के निराधार आरोपों के लिए मानहानि का मुकदमा हुआ है। इससे पहले, पार्टी सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल ने भाजपा नेताओं अरुण जेटली और नितिन गडकरी के खिलाफ झूठा आरोप लगाया था। भाजपा नेता द्वारा मानहानि का मामला दर्ज कराने के बाद दिल्ली के सीएम को माफी माँगनी पड़ी थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी गैर-जिम्मेदाराना’: रिटायर्ड जज ने सुनाई खरी-खरी, कहा – यही करना है तो नेता बन जाएँ, जज क्यों...

दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज एसएन ढींगरा ने मीडिया में आकर बताया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के जजों की टिप्पणी पर क्या सोचते हैं।

‘क्या किसी हिन्दू ने शिव जी के नाम पर हत्या की?’: उदयपुर घटना की निंदा करने पर अभिनेत्री को गला काटने की धमकी, कहा...

टीवी अभिनेत्री निहारिका तिवारी ने उदयपुर में कन्हैया लाल तेली की जघन्य हत्या की निंदा क्या की, उन्हें इस्लामी कट्टरपंथी गला काटने की धमकी दे रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,399FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe