Sunday, August 1, 2021
Homeराजनीति24000 फॉलोवर्स वाली दलित नेता को नहीं है रिहाना से सवाल करने का हक़:...

24000 फॉलोवर्स वाली दलित नेता को नहीं है रिहाना से सवाल करने का हक़: कॉन्ग्रेसी-लिबरल गिरोह के अजीब तर्क

बेबी कुमारी ने रिहाना को लताड़ते हुए पूछा कि वो है कौन? साथ ही उन्होंने कुछ हँसने वाले इमोजी भी शेयर किए। हालाँकि, जाहिर है, बेबी का यह सवाल भारत के मामलों में घुसने के लिए रिहाना के खिलाफ एक तंज था।

हाल ही में अमरीका की सबसे अमीर सेल्फ-मेड महिलाओं में गिनी जानी वाली गायिका रिहाना ने किसानों के विरोध प्रदर्शन को लेकर अपनी चिंता व्यक्त की, जिससे वह भारतीय लिबरल गिरोह की नायिका बन गई।

देखते ही देखते रिहाना समर्थन में लिबरल गिरोह ने ट्वीट्स के पहाड़ खड़े कर दिए। होता भी क्यों न, आखिरकार एक अंतरराष्ट्रीय हस्ती ने ‘फासीवाद’ मोदी सरकार के खिलाफ जो विरोध दर्ज कर दिया। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत के खिलाफ उठाई गई इस आवाज पर वाम-उदारवादियों ने जमकर जश्न मनाया।

गौरतलब है कि जब ज्यादातर लिबरल रिहाना, मिया खलीफा, ग्रेटा थुनबर्ग और अन्य लोगों की जय-जयकार कर रहे थे, इस दौरान कुछ ऐसे लोग भी थे जिन्होंने उनके अस्तित्व और ठिकाने को लेकर ही उन पर सवाल खड़े कर दिए। जिनमें से बिहार की बेबी कुमारी भी एक थीं।

दरअसल, बेबी कुमारी ने रिहाना को लताड़ते हुए पूछा कि वो है कौन? साथ ही उन्होंने कुछ हँसने वाले इमोजी भी शेयर किए। हालाँकि, जाहिर है, बेबी का यह सवाल भारत के मामलों में घुसने के लिए रिहाना के खिलाफ एक तंज था। लेकिन वाम-उदारवादियों ने तो इसे रिहाना की जगह खुद पर ही ले लिया और बेबी कुमारी का मजाक उड़ाने लग गए।

परीचित मलिक नाम के एक यूजर ने बेबी कुमारी के ट्वीट का जवाब देते हुए रिहाना के तारीफों के पुल बाँध दिए। और बताया कि उनके ट्विटर पर 100 मिलियन फॉलोअर्स होने के साथ ही उनकी कमाई मिलियंस में है। उन्होंने यह भी गिनाया कि रिहाना सबसे ज्यादा पैसे कमाने वाली सेलेब्रिटीज में से एक है। इसके बाद मलिक ने बेबी कुमारी को नीचा दिखाते हुए पूछा, और तुम कौन हो?

बेबी कुमारी एक दलित नेता, भाजपा बिहार की उपाध्यक्ष और पूर्व विधायक हैं, जो कि बोचहाँ से विधायक हैं।

वहीं, कॉन्ग्रेस नेता प्रवीण कुमार बिरादर ने 24,000 फॉलोवर्स होने के बावजूद रिहाना जैसी सेलेब्रिटी से यह सवाल करने के लिए बेबी कुमारी का मजाक उड़ाया। उन्होंने कहा कि ऐसे सवाल करने से पहले थोड़ा तो दिमाग लगाओ।

इसी प्रकार एक और कॉन्ग्रेस समर्थक ने बेबी का मजाक उड़ाया।

और यह सिलसिला आगे भी जारी रहा।

ब्रिटिश सिख जगतार सिंह जौहल के समर्थक, आरएसएस के कई नेताओं की हत्या में शामिल होने का आरोपित, भी बेबी कुमारी का मजाक उड़ाते दिखे।

जाहिर तौर पर, लिबरल्स के तर्क के अनुसार, भारतीय नागरिक बेबी कुमारी, जो पूर्व में लोकतांत्रिक रूप से चुने गई नेता रही हैं, को अरबों फॉलोवर्स वाली रिहाना से सवाल करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि बेबी कुमारी उन चीजों पर टिप्पणी कर रही हैं, जिनके बारे में शायद ही उन्हें अधिकार हैं क्योंकि ट्विटर पर उनके कम फॉलोवर्स हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

पीवी सिंधु ने ओलम्पिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता: वेटलिफ्टिंग और बॉक्सिंग के बाद बैडमिंटन ने दिलाया देश को तीसरा मेडल

भारत की बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता। चीनी खिलाड़ी को 21-13, 21-15 से हराया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,477FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe