Saturday, April 17, 2021
Home राजनीति J&K के आतंकी हमले में 5 मजदूरों की मौत के बाद, 131 को वापस...

J&K के आतंकी हमले में 5 मजदूरों की मौत के बाद, 131 को वापस पश्चिम बंगाल लाएँगी ममता बनर्जी

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकवादियों द्वारा कम से कम पाँच गैर-कश्मीरी मजदूरों की हत्या कर दी गई। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पुष्टि की। मृतकों की पहचान नईमुद्दीन शेख, मुरशलीम शेख, रफीकुल शेख, रफीक शेख और कमरुद्दीन शेख के तौर पर हुई है।

पश्चिम बंगाल की ममता सरकार कश्मीर से 131 मजदूरों को वापस लाने की कवायद में जुट गई है। यह फैसला कश्मीर के कुलगाम में पाँच मजदूरों की आतंकी द्वारा हत्या किए जाने के बाद लिया गया है। सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य सरकार की सहायता से कश्मीर गए 131 मजदूरों को वापस पश्चिम बंगाल लाया जाएगा। वह मुर्शिदाबाद, दिनाजपुर और माल्दा से हैं।

ममता बनर्जी ने ट्विटर पर कहा कि 131 श्रमिकों की पहचान की गई है, जो कश्मीर में काम कर रहे हैं और उन्हें वापस लाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि श्रमिकों को शुक्रवार (नवंबर 1, 2019) को जम्मू ले जाया गया। अब वो ट्रेन से बंगाल के लिए रवाना होंगे। इसके लिए टिकटों की व्यवस्था की जा रही है।

बंगाल सरकार ने जम्मू-कश्मीर में दो वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को उनकी सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने के लिए भेजा है। दरअसल इन पुलिस अधिकारियों को इसलिए भेजा गया है ताकि बंगाल में अपने घर लौटने के इच्छुक ज्यादातर श्रमिकों के लिए उचित व्यवस्था की जा सके।

उल्लेखनीय है कि मंगलवार (अक्टूबर 29, 2019) को जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकवादियों द्वारा कम से कम पाँच गैर-कश्मीरी मजदूरों की हत्या कर दी गई। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पुष्टि की। मृतकों की पहचान नईमुद्दीन शेख, मुरशलीम शेख, रफीकुल शेख, रफीक शेख और कमरुद्दीन शेख के तौर पर हुई है। यह सभी मुर्शिदाबाद के सागरदिघी के बहलनगर गाँव के रहने वाले थे।

बता दें कि यह हमला उस दिन हुआ जब यूरोपीय संसद के सदस्यों का 23 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल जमीनी हालात का जायजा लेने के लिए घाटी का दौरा किया। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल के उन पाँच मजदूरों के परिवारों को हरसंभव मदद का वादा किया, जिनकी आतंकवादियों द्वारा हत्या कर दी गई। जब आतंकवादियों ने उन पर हमला किया, उस समय श्रमिक एक स्थानीय निवासी के घर पर थे।

ममता बनर्जी ने इसे पहले से सुनियोजित किया गया हमला बताया। उन्होंने इन हत्याओं के मामले में जाँच की माँग की है। मंगलवार को घटना के कुछ घंटो बाद बनर्जी ने घटना पर दुख जताते हुए कहा था कि कश्मीर में आतंकी हमलों में मारे गए मुर्शिदाबाद जिले के पाँच श्रमिकों के परिवारों को सभी तरह की मदद दी जाएगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शेखर गुप्ता के द प्रिंट का नया कारनामा: कोरोना संक्रमण के लिए ठहराया केंद्र को जिम्मेदार, जानें क्या है सच

कोरोना महामारी की शुरुआत में भले ही भारत सरकार ने पूरे देश में एक साथ हर राज्य में लॉकडाउन लगाया, मगर कुछ ही समय में सरकार ने हर राज्य को अपने हिसाब से फैसले लेने का अधिकार भी दे दिया।

ब्रायन के वो तीन बयान जो बताते हैं TMC बंगाल में हार रही है: प्रशांत के बाद डेरेक ओ’ब्रायन की क्लब हाउस में एंट्री

पश्चिम बंगाल में बढ़ती हिन्दुत्व की लहर, जो कि भाजपा की ही सहायता करने वाली है, के बाद भी डेरेक ओ’ब्रायन यही कहेंगे कि भाजपा से पहले पीएम मोदी और अमित शाह को हटाने की जरूरत है।

ऑडियो- ‘लाशों पर राजनीति, CRPF को धमकी, डिटेंशन कैंप का डर’: ममता बनर्जी का एक और ‘खौफनाक’ चेहरा

कथित ऑडियो क्लिप में ममता बनर्जी को यह कहते सुना जा सकता है कि वो (भाजपा) एनपीआर लागू करने और डिटेन्शन कैंप बनाने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार और रैलियों के लिए तय की गाइडलाइंस, उल्लंघन पर होगी सख्त कार्रवाई

चुनाव आयोग ने यह भी कहा है कि बंगाल चुनाव में रैलियों में कोविड गाइडलाइंस का उल्लंघन होने पर अपराधिक कार्रवाई की जाएगी।

CPI(M) ने TMC के लोगों को मारा पर वो BJP से अच्छे: डैमेज कंट्रोल करने आए डेरेक ने किया बेड़ा गर्क

प्रशांत किशोर ने जब से क्लब हाउस में TMC को डैमेज किया है, उसे कंट्रोल करने की कोशिशें लगातार हो रहीं। यशवंत सिन्हा से लेकर...

ईसाई मिशनरियों ने बोया घृणा का बीज, 500+ की भीड़ ने 2 साधुओं की ली जान: 181 आरोपितों को मिल चुकी है जमानत

एक 70 साल के बूढ़े साधु का हँसता हुआ चेहरा आपको याद होगा? पालघर में हिन्दूघृणा में 2 साधुओं और एक ड्राइवर की मॉब लिंचिंग के मुद्दे पर मीडिया चुप रहा। लिबरल गिरोह ने सवाल नहीं पूछे।

प्रचलित ख़बरें

सोशल मीडिया पर नागा साधुओं का मजाक उड़ाने पर फँसी सिमी ग्रेवाल, यूजर्स ने उनकी बिकनी फोटो शेयर कर दिया जवाब

सिमी ग्रेवाल नागा साधुओं की फोटो शेयर करने के बाद से यूजर्स के निशाने पर आ गई हैं। उन्होंने कुंभ मेले में स्नान करने गए नागा साधुओं का...

बेटी के साथ रेप का बदला? पीड़ित पिता ने एक ही परिवार के 6 लोगों की लाश बिछा दी, 6 महीने के बच्चे को...

मृतकों के परिवार के जिस व्यक्ति पर रेप का आरोप है वह फरार है। पुलिस ने हत्या के आरोपित को हिरासत में ले लिया है।

‘अब या तो गुस्ताख रहेंगे या हम, क्योंकि ये गर्दन नबी की अजमत के लिए है’: तहरीक फरोग-ए-इस्लाम की लिस्ट, नरसिंहानंद को बताया ‘वहशी’

मौलवियों ने कहा कि 'जेल भरो आंदोलन' के दौरान लाठी-गोलियाँ चलेंगी, लेकिन हिंदुस्तान की जेलें भर जाएंगी, क्योंकि सवाल नबी की अजमत का है।

जहाँ इस्लाम का जन्म हुआ, उस सऊदी अरब में पढ़ाया जा रहा है रामायण-महाभारत

इस्लामिक राष्ट्र सऊदी अरब ने बदलते वैश्विक परिदृश्य के बीच खुद को उसमें ढालना शुरू कर दिया है। मुस्लिम देश ने शैक्षणिक क्षेत्र में...

‘वाइन की बोतल, पाजामा और मेरा शौहर सैफ’: करीना कपूर खान ने बताया बिस्तर पर उन्हें क्या-क्या चाहिए

करीना कपूर ने कहा है कि वे जब भी बिस्तर पर जाती हैं तो उन्हें 3 चीजें चाहिए होती हैं- पाजामा, वाइन की एक बोतल और शौहर सैफ अली खान।

चीन के लिए बैटिंग या 4200 करोड़ रुपए पर ध्यान: CM ठाकरे क्यों चाहते हैं कोरोना घोषित हो प्राकृतिक आपदा?

COVID19 यदि प्राकृतिक आपदा घोषित हो जाए तो स्टेट डिज़ैस्टर रिलीफ़ फंड में इकट्ठा हुए क़रीब 4200 करोड़ रुपए को खर्च करने का रास्ता खुल जाएगा।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,244FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe