Tuesday, November 29, 2022
Homeराजनीतिपटना में सुबह टहलने निकले भाजपा नेता 'राजू बाबा' की गोली मार कर हत्या,...

पटना में सुबह टहलने निकले भाजपा नेता ‘राजू बाबा’ की गोली मार कर हत्या, CCTV फुटेज खंगाल रही पुलिस

दो नकाबपोश बाइक पर सवार होकर आए थे और उन्होंने ही राजेश कुमार झा को गोली मारी। पुलिस ने इस मामले में पूछताछ के लिए अभी तक कुल 3 लोगों को हिरासत में लिया है। शव को फ़िलहाल पोस्टमार्टम के लिए पीएमएचसी भेज दिया गया है।

बिहार की राजधानी पटना के बेउर क्षेत्र में भाजपा कार्यकर्ता की गोली मार कर हत्या कर दी गई। गुरूवार (1 अक्टूबर 2020) की सुबह भाजपा मंडल उपाध्यक्ष राजेश कुमार झा उर्फ़ राजू बाबा की हत्या हुई। वह सुबह बेउर थाना क्षेत्र के अंतर्गत तेज प्रताप नगर में अपने घर के नज़दीक टहलने के लिए निकले थे, तभी दो पहिया वाहन सवार नकाबपोश अपराधी उनके नज़दीक आए और उनकी कनपटी पर गोली मार दी। 

घटना को अंजाम देने के बाद दोनों अपराधी तुरंत मौके से फरार हो गए। घटना गुरूवार की सुबह लगभग 6 बजे की है। फ़िलहाल बेउर थाने की पुलिस ने मामले की जाँच शुरू कर दी है और आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कुछ ही दिन पहले राजेश कुमार झा भाजपा में शामिल हुए थे। इस घटनाक्रम पर बेउर थाना के थानाध्यक्ष फूल देव चौधरी ने भी जानकारी दी

उन्होंने बताया कि राजेश कुमार झा का कई दिनों से घरेलू विवाद चल रहा था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ उनके एक रिश्तेदार पर हत्या में शामिल होने की आशंका जताई जा रही है। उन्होंने यह भी बताया कि दो नकाबपोश बाइक पर सवार होकर आए थे और उन्होंने ही राजेश कुमार झा को गोली मारी। पुलिस ने इस मामले में पूछताछ के लिए अभी तक कुल 3 लोगों को हिरासत में लिया है। शव को फ़िलहाल पोस्टमार्टम के लिए पीएमएचसी भेज दिया गया है। पुलिस फ़िलहाल इस मामले की जाँच कर रही है।   

हाल ही में तमिलनाडु के कृष्णागिरी जिले के केलेमंगलम से एक भयानक घटना सामने आई थी। मंगलवार (17 सितंबर, 2020) रात को कुछ अज्ञात लोगों द्वारा भाजपा युवा विंग के नेता रंगनाथन की बेहरहमी से हत्या कर दी गई थी। ऑर्गनाइज़र की रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार को 35 वर्षीय दलित भाजपा पदाधिकारी रंगनाथन को एक अज्ञात गिरोह ने मार डाला था। रंगनाथन हाल ही में AIADMK को छोड़ कर बीजेपी में शामिल हुए थे। उन्हें कुंडुमारनप्पल्ली गाँव के बीजेपी यूथ विंग अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘किसी ने नहीं फेंके पत्थर, शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुई रैली’: अरविंद केजरीवाल ने झूठ बोल कर सूरत को किया बदनाम? पुलिस ने बताया...

सूरत में अरविंद केजरीवाल की रैली के दौरान पथराव की खबरों का खंडन करते हुए डीसीपी पिनाकिन परमार ने इसे अफवाह बताया। AAP ने बोला झूठ?

‘तुम्हें शर्म आनी चाहिए, आज भी कश्मीर के घाव झेल रहा भारत’: कश्मीर फाइल्स को प्रोपेगंडा बताने वाले IFFI जूरी हेड को इजरायल के...

"भारतीय मित्रों ने भारत में इजरायल के प्रति प्रेम दिखाने के लिए हमें बुलाया था। इसी वजह से उन्होंने आपको एक इजरायली के तौर पर आमंत्रित किया।''

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
235,998FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe