Thursday, June 13, 2024
Homeराजनीति'मेरी ब्लाउज के बारे में बात करते थे कॉन्ग्रेस के बड़े-बड़े नेता': असम की...

‘मेरी ब्लाउज के बारे में बात करते थे कॉन्ग्रेस के बड़े-बड़े नेता’: असम की पूर्व महिला मंत्री ने बताया राहुल गाँधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में क्या हुआ, छोड़ी पार्टी

"मैंने कभी इस बारे में कि मेरा ब्लाउज की डिजाइन कमल के फूल वाली है। इस डिजाइन के ब्लाउज पहनना एक सामान्य बात है।"

असम में कॉन्ग्रेस की एक महिला नेता ने अपनी ही पार्टी में महिलाओं के साथ हो रहे दुर्व्यवहार को लेकर आवाज़ उठाई है। कलियाबोर के खुमतई से कॉन्ग्रेस विधायक रहीं बिस्मिता गोगोई ने जब कॉन्ग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान उनके ब्लाउज पर टिप्पणी की गई, जिसका उनके जीवन पर नकारात्मक रूप से गहरा असर पड़ा। बिस्मिता गोगोई अब भाजपा में शामिल हो गई हैं। उन्होंने बताया कि ये वाकया तब का है, जब वो कमल के फूल की डिजाइन वाला ब्लाउज पहनी हुई थीं।

उन्होंने बताया, “मैंने कभी इस बारे में कि मेरा ब्लाउज की डिजाइन कमल के फूल वाली है। इस डिजाइन के ब्लाउज पहनना एक सामान्य बात है। मैं यहाँ सार्वजनिक रूप से ब्लाउज के बारे में बात करने में भी कठिनाई महसूस कर रही हूँ। ये घटना ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान की है, जब राज्य स्तर पर खुमतई में इसका आयोजन हुआ था। उसी दौरान मैंने ये ड्रेस पहनी थी। कॉन्ग्रेस नेताओं ने ये देख कर सोचा कि मैं भाजपा में शामिल होने जा रही हूँ।”

बिस्मिता गोगोई ने यहाँ तक बताया कि कॉन्ग्रेस का आलाकमान भी ‘राजीव भवन’ में इसी मुद्दे पर बात कर रहा था। असम सरकार में मंत्री रहीं बिस्मिता गोगोई ने बताया कि ये घटना उनके लिए काफी अपमानजनक थी, जब उन्हें इसके बारे में पता चला तो वो रो पड़ीं। बिस्मिता गोगोई ने बताया कि उन्हें न सिर्फ मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया, बल्कि पार्टी की आंतरिक बैठकों से भी दूर रखा गया। उन्होंने बताया कि ये एक महिला का अपमान था, इससे मुझे वास्तव में ठेस पहुँची थी।

बिस्मिता गोगोई ने कहा कि उस दिन उनकी प्रतिष्ठा ख़त्म कर दी गई थी। उन्होंने पूछा कि जिस दल में महिला विरोधी बातें होती हों, वहाँ लोग कैसे रोक सकते हैं? उन्होंने आरोप लगाया कि हर कदम पर उनकी मानसिक प्रताड़ना की गई है। बिस्मिता गोगोई ने बताया कि कॉन्ग्रेस नहीं चाहती थी कि वो उसके कामकाज में शामिल हों। महत्वपूर्ण फैसले लेने में उनकी सहभागिता खत्म कर दी गई। कॉन्ग्रेस और ‘ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (AASU)’ के 150 से अधिक नेता रविवार (28 जनवरी, 2024) को भाजपा में शामिल हो चुके हैं।

असम की ही एक अन्य महिला नेता अंगकिता दत्ता भी यूथ कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास BV पर प्रताड़ना का आरोप लगाया था। इसके बाद काॅन्ग्रेस ने डॉ अंगकिता दत्ता को 6 साल के लिए पार्टी से निकाल दिया। अपनी शिकायत में उन्होंने कहा था, “श्रीनिवास पिछले छह महीनों से उन्हें परेशान और प्रताड़ित कर रहे हैं। लैंगिक टिप्पणी करते हैं। अपशब्दों का इस्तेमाल करते हैं। पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों से इसकी शिकायत करने पर उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दे रहे हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -