Saturday, June 3, 2023
HomeराजनीतिBJP सांसद ने आमागढ़ किले पर फहराया ध्वज, राजस्थान पुलिस ने किया गिरफ्तार: कॉन्ग्रेस...

BJP सांसद ने आमागढ़ किले पर फहराया ध्वज, राजस्थान पुलिस ने किया गिरफ्तार: कॉन्ग्रेस MLA ने फाड़ा था भगवा झंडा

कॉन्ग्रेस नेता रामकेश मीणा की अगुआई में मीणा समुदाय को हिन्दुओं से अलग बताया जा रहा है। उन्होंने भगवा ध्वज उतार कर फाड़ दिया था। अब किरोड़ी लाल मीणा ने जवाब दिया है।

राजस्थान में भाजपा सांसद डॉक्टर किरोड़ी लाल मीणा को हिरासत में ले लिया गया है। प्रशासन द्वारा रोके जाने के बावजूद उन्होंने आमागढ़ किले में जाकर झंडा फहरा दिया। आरोप है कि उन्होंने प्रशासन के आदेश का उल्लंघन करते हुए जयपुर के ऐतिहासिक आमागढ़ किले में झंडा फहरा दिया। इस दौरान उनके कई समर्थक भी उनके साथ थे। किरोड़ी लाल मीणा आमागढ़ किले में झंडा फहराने के बाद पूजा करना चाहते थे, लेकिन पुलिस ने उनकी एंट्री पर रोक लगा दी थी।

पुलिस ने उन्हें रोकने की पूरी कोशिश की, लेकिन वो नहीं रुके। इसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। हालाँकि, सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने दावा किया है कि उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी इस मामले में सक्रिय हो गई हैं। उन्होंने बयान जारी किया है कि आमागढ़ किले के मामले में धर्म के नाम पर राजनीति कर रही कॉन्ग्रेस को करारा जवाब देने वाले डॉ. किरोड़ी लाल मीणा की गिरफ़्तारी निंदनीय है। उन्होंने माँग की कि मीणा को तुरंत रिहा किया जाए।

आदिवासी संगठन व हिंदू संगठनों ने 1 अगस्त को सोशल मीडिया के जरिए आमागढ़ पहुँचने की अपील की थी। अब सांसद किरोड़ी लाल मीणा भगवान का ध्वज लगाने के ऐलान के बाद अपने समर्थकों के साथ किले के अंदर घुसे और यहाँ मीणा समाज का ध्वज लगाया किले में ताला लगा कर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई थी। इस दौरान ‘मीन भगवान’ के जयकारे का नारा भी लगा। उन्हें विद्याधर नगर थाना ले जाया गया है।

गौरतलब हो कि सोशल मीडिया पर 22 जुलाई को हुई उस घटना के वीडियो मौजूद हैं, जिनमें निर्दलीय विधायक रामकेश मीणा के साथ भीड़ ने पहले जयपुर के अमरगढ़ किले के ऊपर फहराए गए झंडे को नीचे उतारा और फिर उसे फाड़ दिया था। उनकी अगुआई में मीणा समुदाय के कुछ लोग खुद को हिन्दुओं से अलग बता रहे हैं। इसके विरोध में बयान देने के बाद ‘सुदर्शन टीवी’ के सुरेश चव्हाणके के खिलाफ FIR दर्ज हुई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रक्तदान करने पहुँचे RSS कार्यकर्ताओं की भीड़ देख डॉक्टर भी हैरान, सब कुछ छोड़ राहत कार्य में में जुटे रहे संघ कार्यकर्ता: सबसे पहले...

RSS कार्यकर्ताओं के राहत और बचाव कार्य शुरू होने के बाद NDRF की टीम भी हादसे वाली जगह पहुँच गई। इसके बाद संघ कार्यकर्ता उनके साथ मिलकर लोगों को बचाने में जुट गए।

मजदूरी से परिवार चलाने वाले 3 भाइयों की मौत, माँ के निधन पर लौटे बेटे की भी गई जान… मानवता की भी परीक्षा ले...

एक चश्मदीद ने कहा कि घटना के समय अपने घर पर थे। तभी धमाके जैसी आवाज आई। घर से बाहर आकर देखा तो ट्रेन माल गाड़ी के ऊपर चढ़ी हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
259,664FollowersFollow
415,000SubscribersSubscribe