Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीतिकौन ऑपरेट कर रहा सुशांत सिंह राजपूत का इंस्टाग्राम अकाउंट, कब होगी सीबीआई जाँच:...

कौन ऑपरेट कर रहा सुशांत सिंह राजपूत का इंस्टाग्राम अकाउंट, कब होगी सीबीआई जाँच: BJP सांसद रूपा गांगुली के सवाल

"कोई उसका अकाउंट ऑपरेट कर रहा है। पुलिस या कोई और? उसका इंस्टाग्राम अकाउंट ऑपरेट हो रहा है, कैसे? मुझे पहले सुनने को मिला था, यकीन नहीं हो रहा था। मैंने स्क्रीनशॉट्स जुगाड़े और मैंने खुद भी लिया। सीबीआई जॉंच कब होगी? जब सारे सबूत खत्म हो जाएँगे उसके बाद?"

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई जॉंच की मॉंग तेज होती जा रही है। अब इसमें बीजेपी सांसद और अभिनेत्री रूपा गांगुली का नाम भी जुड़ गया है। सुशांत 14 जून को मुंबई के अपने आवास में मृत मिले थे।

रूपा गांगुली सोशल घटना के जरिए इस घटना को लेकर कई सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने मुंबई पुलिस की जाँच पर संदेह जताया। सीबीआई जाँच की माँग करते हुए पुछा कि सुशांत सिंह की मौत के बाद भी उनके सोशल मीडिया एकाउंट लगातार एक्टिव कैसे हैं।

उन्होंने कहा, “क्या ऐड हो रहा, क्या डिलीट हो रहा किसी को नहीं पता। ये कैसे हो सकता है, कोई उसका अकाउंट ऑपरेट कर रहा है। पुलिस या कोई और? उसका इंस्टाग्राम अकाउंट ऑपरेट हो रहा है, कैसे? मुझे पहले सुनने को मिला था, यकीन नहीं हो रहा था। मैंने स्क्रीनशॉट्स जुगाड़े और मैंने खुद भी लिया। सीबीआई जॉंच कब होगी? जब सारे सबूत खत्म हो जाएँगे उसके बाद?”

भाजपा सांसद ने आरोप लगाया कि मामले से जुड़े सबूतों से छेड़छाड़ करने की कोशिश की गई है। उन्होंने आत्महत्या वाले एंगल को गलत करार दिया।

सांसद रूपा गांगुली ने आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि, हमे अंधेरे में क्यों रखा जा रहा है। इस घटना को लेकर कोई स्पष्ट जानकारी क्यों नहीं दी जा रही है। उन्होंने कहा कि सुशांत जैसे मेहनती और टैलेंटेड एक्टर को न्याय जरूर मिलना चाहिए, ताकि ऐसी कोई घटना फिर से कभी भविष्य में न हो।

उन्होंने अपने ट्वीट्स में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को भी टैग किया है।

उल्लेखनीय है कि सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार (जून 14, 2020) को मुंबई के अपने घर में आत्महत्या कर ली थी। उनकी मौत उनके साथियों व प्रशंसकों के लिए किसी सदमें से कम नहीं है। आज भी सुशांत की आत्महत्या से हर कोई हैरान, स्तब्ध है।

पिछले दिनों अभिनेता शेखर सुमन ने भी इस मामले की सीबीआई जॉंच की मॉंग उठाई थी। उन्होंने कहा था कि सुशांत सिंह राजपूत जैसा मजबूत इरादों वाला और प्रतिभाशाली व्यक्ति आत्महत्या कर सकता है। अगर ऐसा होता तो वो कोई न कोई सुसाइड नोट ज़रूर छोड़ जाते।

उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के मामले में सीबीआई जाँच के लिए दबाव बनाने हेतु ‘जस्टिस फॉर सुशांत फोरम’ की स्थापना की है। उन्होंने बताया कि इसका उद्देश्य तानाशाही और गुटबाजी ख़त्म कर माफियाओं पर लगाम लगाना है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एक शक्तिपीठ जहाँ गर्भगृह में नहीं है प्रतिमा, जहाँ हुआ श्रीकृष्ण का मुंडन संस्कार: गुजरात का अंबाजी मंदिर

गुजरात के बनासकांठा जिले में राजस्थान की सीमा पर अरासुर पर्वत पर स्थित है शक्तिपीठों में से एक श्री अरासुरी अंबाजी मंदिर।

5 या अधिक हुए बच्चे तो हर महीने पैसा, शिक्षा-इलाज फ्री: जनसंख्या बढ़ाने के लिए केरल के चर्च का फैसला

केरल के चर्च के फैसले के अनुसार, 2000 के बाद शादी करने वाले जिन भी जोड़ों के 5 या उससे अधिक बच्चे हैं, उन्हें प्रत्येक माह 1500 रुपए की मदद दी जाएगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,576FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe